DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मार्टिन गप्टिल ने इस दिन को बताया अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ और सबसे बदतर दिन

martin guptill

विश्व कप फाइनल में न्यूजीलैंड की दिल तोड़ने वाली हार के एक हफ्ते बाद निराश मार्टिन गुप्टिल ने कहा है कि लार्ड्स में न्यूजीलैंड के खिलाफ फाइनल उनके क्रिकेट करियर का 'सर्वश्रेष्ठ और सबसे बदतर दिन दोनों था। सुपर ओवर की अंतिम गेंद में गुप्टिल के रन आउट होने के बाद मेजबान इंग्लैंड ने अधिक बाउंड्री लगाने के कारण पहली बार विश्व कप खिताब जीता।

गुप्टिल ने इंस्टाग्राम पर लिखा, ''यह विश्वास करना मुश्किल हो रहा है कि लार्ड्स में बेहतरीन फाइनल को एक हफ्ता गुजर चुका है। मुझे लगता है कि यह मेरे क्रिकेटर करियर का सर्वश्रेष्ठ और बदतर दिन दोनों था। इतनी सारी अलग अलग भावनाएं लेकिन न्यूजीलैंड का प्रतिनिधित्व करने और टीम के लिए खिलाड़ियों के शानदार समूह के साथ खेलने का गर्व है। समर्थन के लिए सभी को शुक्रिया, यह शानदार रहा।

यह भी पढ़ेंअंबाती रायुडू के सपोर्ट में उतरे अजहरुद्दीन, चयनकर्ताओं पर खड़े किए सवाल

गुप्टिल ने अपनी वह तस्वीर भी डाली है जिसमें मैच की अंतिम गेंद के बाद टीम के साथी और इंग्लैंड के क्रिस वोक्स उन्हें सांत्वना दे रहे हैं। लार्ड्स में फाइनल के एक अहम मोड़ का गुप्टिल हिस्सा रहे जब इंग्लैंड की पारी के अंतिम ओवर में उनकी थ्रो बेन स्टोक्स के बल्ले से टकराकर चार रन के लिए चली गई जिससे मेजबान टीम मैच टाई कराने में सफल रही।

विश्व कप 2015 के शीर्ष स्कोरर रहे गुप्टिल को 2019 विश्व कप में बल्ले से जूझना पड़ा। यह सलामी बल्लेबाज हालांकि अपने शानदार क्षेत्ररक्षण से कुछ हद तक इसकी भरपाई करने में सफल रहा। भारत के खिलाफ सेमीफाइनल में उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी को अहम समय पर रन आउट करके मैच का रुख न्यूजीलैंड की ओर मोड़ दिया।

यह भी पढ़ें: चहल के B'day पर वीरू का ट्वीट देख नहीं रुकेगी आपकी हंसी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:new zeland cricekter martin guptill reveal the best and worst day of his carrier