फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटAUS vs NZ: जानिए कैसे फाइनल में मिली न्यूजीलैंड को हार से जुड़े हैं टीम इंडिया के तार, केन विलियमसन नहीं बदल सके इतिहास

AUS vs NZ: जानिए कैसे फाइनल में मिली न्यूजीलैंड को हार से जुड़े हैं टीम इंडिया के तार, केन विलियमसन नहीं बदल सके इतिहास

टी-20 विश्व कप को पहली बार अपने नाम करने का न्यूजीलैंड का सपना रविवार रात चकनाचूर हो गया। फाइनल मुकाबले में टीम को ऑस्ट्रेलिया के हाथों 8 विकेट से हार झेलनी पड़ी। कप्तान केन विलियमसन और ट्रेंट बोल्ट...

AUS vs NZ: जानिए कैसे फाइनल में मिली न्यूजीलैंड को हार से जुड़े हैं टीम इंडिया के तार, केन विलियमसन नहीं बदल सके इतिहास
Shubham Mishraलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 15 Nov 2021 01:30 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

टी-20 विश्व कप को पहली बार अपने नाम करने का न्यूजीलैंड का सपना रविवार रात चकनाचूर हो गया। फाइनल मुकाबले में टीम को ऑस्ट्रेलिया के हाथों 8 विकेट से हार झेलनी पड़ी। कप्तान केन विलियमसन और ट्रेंट बोल्ट ने जोर तो बहुत लगाया, लेकिन बाकी खिलाड़ियों का साथ ना मिल पाने की वजह से वह टीम की हार को नहीं टाल सके। कंगारू टीम की ओर से मिचेल मार्श और डेविड वॉर्नर ने जबरदस्त बैटिंग करते हुए ऑस्ट्रेलिया को ऐतिहासिक जीत दिलाई। हालांकि, कीवी टीम को मिली इस हार के तार टीम इंडिया से भी जुड़े हैं और दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में न्यूजीलैंड की टीम इतिहास को बदलने में सफल नहीं हो सकी। 

डेविड वॉर्नर के प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुने जाने पर भड़के शोएब अख्तर, कहा- बाबर आजम थे असली हकदार

दरअसल, टी-20 विश्व कप के इतिहास में ग्रुप स्टेज में जो भी टीम भारत से भिड़ी है वह आजतक फटाफट क्रिकेट की चैंपियन नहीं बन सकी है। 14 साल से जारी यह इतिहास रविवार की रात को भी कायम रहा और न्यूजीलैंड की लाख कोशिशों के बावजूद खिताब उनके हाथ से फिसल गया। कीवी टीम की टक्कर विराट कोहली एंड कंपनी से ग्रुप स्टेज में हुई थी और उन्होंने मैच को बड़ी आसानी से अपने नाम किया था। आपको बता दें कि 2009 में पाकिस्तान, 2010 में इंग्लैंड, 2012 में वेस्टइंडीज, 2014 में श्रीलंका और 2016 में फिर से खिताब को अपने नाम करने वाली वेस्टइंडीज की टीम भारत के ग्रुप में नहीं खेली थीं। 

किस आईपीएल टीम के लिए अगले साल खेलेंगे डेविड वॉर्नर? वीरेंद्र सहवाग ने दिया जवाब

न्यूजीलैंड ने फाइनल मुकाबले में टॉस गंवाने के बाद बैटिंग करते हुए कप्तान केन विलियमसन की 85 रनों की शानदार पारी के बूते 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 172 रन बनाए थे। जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 7 गेंद शेष रहते हुए ही 173 रनों के टारगेट को हासिल कर लिया। कंगारू टीम की ओर से मिचेल मार्श 77 रन बनाकर नाबाद रहे, जबकि डेविड वॉर्नर ने 53 रनों का योगदान दिया। ऑस्ट्रेलिया ने यह पहली बार टी-20 विश्व कप का खिताब अपने नाम किया है। 
 

epaper