फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटIPL 2022 में लखनऊ और अहमदाबाद नई टीमें, आरपीएसजी ग्रुप और सीवीसी कैपिटल होंगे मालिक

IPL 2022 में लखनऊ और अहमदाबाद नई टीमें, आरपीएसजी ग्रुप और सीवीसी कैपिटल होंगे मालिक

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की दो नई टीम का ऐलान कर दिया है। आरपीएसजी ग्रुप ने 7000 करोड़ रुपये से ज्यादा की बोली लगाकर लखनऊ फ्रैंचाइजी हासिल की, जबकि...

IPL 2022 में लखनऊ और अहमदाबाद नई टीमें, आरपीएसजी ग्रुप और सीवीसी कैपिटल होंगे मालिक
Ezaz Ahmad लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली Mon, 25 Oct 2021 08:18 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की दो नई टीम का ऐलान कर दिया है। आरपीएसजी ग्रुप ने 7000 करोड़ रुपये से ज्यादा की बोली लगाकर लखनऊ फ्रैंचाइजी हासिल की, जबकि सीवीसी कैपिटल ने 5,200 करोड़ रुपये की बोली लगाकर अहमदाबाद फ्रैंचाइजी की। संजीव गोयनका की मालिकाना हक वाली आरपीएसजी ग्रुप ने 7000 करोड़ रुपये से ज्यादा की बोली लगाकर लखनऊ फ्रैंचाइजी हासिल की। आईपीएल 2022 सीजन के लिए दो नई टीमों के लिए दुबई के ताज दुबई होटल में संपन्न हुई बोली में दस पार्टियां उपस्थित रहीं। गोयनका दो साल के लिए पुणे फ्रैंचाइजी राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स (आरपीएस) के मालिक रहे हैं।

 

 

आईपीएल में नई टीमों की बोली लगाने में अहमदाबाद और लखनऊ का दावा मजबूत नजर आ रहा था और ऐसा ही हुआ। ऐसा माना जा रहा है कि महेंद्र सिंह धोनी के प्रबंधक अरुण पांडे द्वारा प्रवर्तित रीति स्पोर्ट्स ने कटक के लिए बोली लगाई है, हालांकि यह पता चला है कि वह कार्यक्रम स्थल पर थोड़ी देर से पहुंचे और देर से निविदा प्रस्तुत करने के कारण उनकी बोली को अंततः स्वीकार नहीं किया गया। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by IPL (@iplt20)

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by IPL (@iplt20)

नई टीम खरीदने में मैनचेस्टर यूनाइटेड क्लब के दिलचस्पी दिखाने की वजह से बीसीसीआई ने टेंडर की डेट को आगे बढ़ाया था। ऐसा माना जा रहा था कि नीलामी प्रक्रिया शुरू होने के बाद से ही प्रत्येक फ्रेंचाइजी से 7000 करोड़ रुपए से 10,000 करोड़ रुपए तक मिलने की उम्मीद है। 22 कंपनियों ने 10 लाख रुपए के निविदा (टेंडर) दस्तावेज लिए थे। नई टीमों के लिए आधार मूल्य 2000 करोड़ रुपए रखा गया था।

epaper