फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटनासिर हुसैन ने की इंग्लैंड की टीम की आलोचना, बोले- बैजबॉल अटैक करने के बारे में है, लेकिन...

नासिर हुसैन ने की इंग्लैंड की टीम की आलोचना, बोले- बैजबॉल अटैक करने के बारे में है, लेकिन...

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने अपनी टीम की आलोचना की है और कहा है कि बैजबॉल अटैक करने के बारे में है, लेकिन यह देखना है कि कब अटैक करना है। जो रूट के शॉट की भी आलोचना उन्होंने की है। 

नासिर हुसैन ने की इंग्लैंड की टीम की आलोचना, बोले- बैजबॉल अटैक करने के बारे में है, लेकिन...
Vikash Gaurएजेंसी, एएनआई,राजकोटMon, 19 Feb 2024 10:41 AM
ऐप पर पढ़ें

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने भारत के खिलाफ राजकोट टेस्ट में महत्वपूर्ण अवसरों को भुनाने में इंग्लैंड की विफलता पर अफसोस जताया। इस मुकाबले में इंग्लैंड की टीम को भारत ने 434 रनों से हराया और सीरीज 2-1 की बढ़त हासिल की। यह कहना सही होगा कि इंग्लैंड को तीसरे टेस्ट में भारत से करारी हार का सामना करना पड़ा है। मेजबान भारत ने मेहमान टीम इंग्लैंड को एक फ्लैट पिच पर पटकनी दी। इंग्लैंड ने उस वक्त भी फायदा नहीं उठाया, जब फैमिली मेडिकल इमरजेंसी के कारण आर अश्विन घर लौट गए थे और भारत के पास सिर्फ चार ही गेंदबाज थे। 

इंग्लैंड ने सीरीज के बीच में ब्रेक लिया था। इंग्लैंड की टीम दो मैचों के बाद अबु धाबी चली गई थी और तीसरे टेस्ट से पहले सीरीज को अपने पक्ष में करने के इरादे से राजकोट में उतरी, लेकिन इसमें कामयाबी नहीं मिली। तीसरे टेस्ट मैच में कुछ कठिनाइयों का सामना भले ही टीम इंडिया ने किया, लेकिन तीसरे दिन और चौथे दिन भारत ने बहादुरी से जवाब दिया और राजकोट के निरंजन शाह स्टेडियम में टेस्ट में रनों के लिहाज से बड़ी जीत भारत ने दर्ज की। टीम इंडिया को अपनी इस जीत के बाद काफी प्रशंसा मिली। कई रिकॉर्ड भी भारत ने बनाए।

India vs England: चौथे टेस्ट से जसप्रीत बुमराह को मिलेगा आराम या नहीं? आया लेटेस्ट अपडेट

भारत के खिलाफ मिली हार के बाद इंग्लैंड टीम की आलोचना नासिर हुसैन ने भी की। उन्होंने स्काई स्पोर्ट्स पर कहा, "एक चीज जो जो रूट देखेंगे वह है उस शॉट की टाइमिंग। (रविचंद्रन) अश्विन वहां नहीं थे, भारत के पास एक गेंदबाज की कमी थी; (रविंद्र) जडेजा चोट के बाद भी खेल रहे हैं; बुमराह लगातार तीन टेस्ट से खेल रहे हैं और ऐसी चर्चा है कि उन्हें आराम की जरूरत है। बैजबॉल आक्रमण के बारे में है, लेकिन यह दबाव झेलने के बारे में भी है। बुमराह को उनके दूसरे या तीसरे स्पैल में ले जाएं, इसे गहराई तक ले जाएं और फिर दिन में बाद में ऐसे शॉट खेलें।" 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें