फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटHardik Pandya के साथ 4.3 करोड़ रुपये की हुई धोखाधड़ी, मुंबई पुलिस ने सौतेले भाई वैभव पांड्या को किया गिरफ्तार

Hardik Pandya के साथ 4.3 करोड़ रुपये की हुई धोखाधड़ी, मुंबई पुलिस ने सौतेले भाई वैभव पांड्या को किया गिरफ्तार

हार्दिक और उनके भाई क्रुणाल पांड्या के साथ करोड़ों रुपए की ठगी का मामला सामने आया है। हार्दिक पांड्या के सौतेले भाई वैभव पांड्या को कथित 4.3 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया

Hardik Pandya के साथ 4.3 करोड़ रुपये की हुई धोखाधड़ी, मुंबई पुलिस ने सौतेले भाई वैभव पांड्या को किया गिरफ्तार
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 11 Apr 2024 12:51 PM
ऐप पर पढ़ें

हार्दिक पांड्या और उनके भाई क्रुणाल पांड्या के साथ धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। मुंबई पुलिस ने इस हाईप्रोफाइल केस में एक गिरफ्तारी भी की है। मुंबई पुलिस ने हार्दिक पांड्या के सौतेले भाई वैभव पांड्या को कथित तौर पर क्रिकेटर और उनके भाई क्रुणाल के साथ हुई 4.3 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक 37 वर्षीय वैभव पर एक पार्टनरशिप फर्म से लगभग 4.3 करोड़ रुपये का हेर-फेर करने का आरोप है, जिससे हार्दिक और क्रुणाल पांड्या को काफी वित्तीय नुकसान हुआ।

समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया है कि मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने मुंबई इंडियंस के कप्तान हार्दिक पांड्या के सौतेले भाई वैभव पांड्या को पांड्या ब्रदर्स के साथ 4 करोड़ से अधिक की धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

सुनील गावस्कर ने राशिद खान की तुलना बेन स्टोक्स से की, कहा- कुछ ही खिलाड़ी हैं जो फील्ड में सब कुछ झोंक देते हैं

आईपीएल के 17वें सीजन में मुंबई इंडियंस टीम की कप्तानी कर रहे हार्दिक पांड्या के लिए मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। उनकी कप्तानी में टीम ने अपने शुरुआती तीनों मैच गंवाए हैं। हालांकि अपने पिछले मैच में टीम जीत का खाता खोलने में कामयाब हुई है। वही ऑफ फील्ड करोड़ों रुपये के धोखाधड़ी का मामला से वह परेशान जरूर होंगे। ये धोखाधड़ी उनके सौतेले भाई वैभव पांड्या ने की है। हार्दिक और क्रुणाल की तरफ से इस मामले की शिकायत मुंबई की इकोनॉमिक ऑफिस विंग में की गई, जिसके बाद वैभव को गिरफ्तार किया गया। 

क्या है पूरा मामला?
रिपोर्ट के मुताबिक इस धोखाधड़ी के मामले में रुपये का हेरफेर और साझेदारी की शर्तों का उल्लंघन शामिल है। तीन लोगों ने करीब तीन साल पहले कुछ शर्तों के साथ एक पॉलिमर बिजनेस शुरू किया था। क्रिकेटर भाइयों को पूंजी का 40% निवेश करना था, जबकि वैभव को 20 प्रतिशत योगदान देना था और रोज के कामों को मैनेज करना था। इन शेयर के मुताबिक ही मुनाफे को बांटा जाना था।

हालांकि, वैभव ने कथित तौर पर अपने सौतेले भाइयों को सूचित किए बिना उसी व्यापार में एक और फर्म स्थापित की, इस प्रकार साझेदारी समझौते का उल्लंघन किया। जिसका नतीजा ये हुआ कि बिजनेस में नुकसान हुआ, जोकि 3 करोड़ रुपये से ज्यादा था। ऐसा आरोप है कि वैभव ने बिना किसी को बताए अपने मुनाफे का हिस्सा 20% से बढ़ाकर 33.3% कर दिया, जिससे हार्दिक और क्रुणाल पंड्या के वित्तीय हितों पर और असर पड़ा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें