DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विश्व कप 2019 के बाद से सबकी नजरें धौनी पर, दो दिन बाद होगा भविष्य पर फैसला!

भारत का एक महीने का वेस्टइंडीज दौरा अगस्त- सितम्बर में होना है। भारतीय टीम 3 अगस्त से 4 सितम्बर तक वेस्टइंडीज के दौरे पर रहेगी जिसमें तीन ट्वंटी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट मैच खेले जाएंगे।

ms dhoni  file photo

विश्व कप 2019 खत्म हुए तीन दिन हो चुके हैं, वहीं टूर्नामेंट से टीम इंडिया का सफर खत्म हुए करीब एक सप्ताह बीत चुका है। अब सबकी निगाहें महेंद्र सिंह धौनी पर टिकी हुई हैं। ऐसा माना जा रहा था कि धौनी विश्व कप 2019 के बाद संन्यास की घोषणा कर देंगे, लेकिन फिलहाल ऐसा नहीं हुआ है। धौनी के भविष्य पर बड़ा फैसला 19 जुलाई को हो सकता है। भारतीय टीम को अगस्त में वेस्टइंडीज दौरे पर जाना है, जिसके लिए टीम का चयन 19 जुलाई को होना है। इस दौरान धौनी को लेकर भी जो अटकलें चल रही हैं, वो साफ हो जाएंगी।

भारत का एक महीने का वेस्टइंडीज दौरा अगस्त- सितम्बर में होना है। भारतीय टीम 3 अगस्त से 4 सितम्बर तक वेस्टइंडीज के दौरे पर रहेगी जिसमें तीन ट्वंटी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट मैच खेले जाएंगे। धौनी का भारतीय टीम में स्थान पिछले 12 महीनों में बहस का विषय रहा है और विश्व कप के दौरान ये बहस और तेज हो गई थी। यहां तक कि लीजेंड क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में धौनी की धीमी पारी के बाद उनकी मंशा पर ही सवाल उठा दिया था। कप्तान विराट कोहली ने हर बार इस बहस को ये कहते हुए शांत करने की कोशिश की थी कि ड्रेसिंग रूम का धौनी को पूरी तरह समर्थन है।

INDvsWI: वेस्टइंडीज दौरे के लिए 19 जुलाई को होगा भारतीय टीम का सलेक्शन

डेनियल विटोरी ने कहा- विश्व कप में अपने प्रदर्शन पर न्यूजीलैंड को गर्व होना चाहिए

38 साल के हो चुके हैं धौनी

समझा जाता है कि धौनी ने अपने भविष्य के बारे में टीम मैनेजमेंट या सिलेक्टर्स से कोई बात नहीं की है। धौनी के अतिरिक्त सिलेक्टर्स को टीम के प्रमुख खिलाड़ियों खासतौर पर तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के बोझ को भी देखना है। दोनों का प्रदर्शन विश्व कप में काफी शानदार रहा था। सिलेक्टर्स को ओपनर शिखर धवन और ऑलराउंडर विजय शंकर की फिटनेस को भी देखना है। दोनों खिलाड़ी इस समय बेंगलुरु में राष्ट्रीय क्रिकेट एकैडमी में रिहैबिलिटेशन से गुजर रहे हैं। बीते 7 जुलाई को 38 वर्ष के हो गए धौनी की विश्वकप में धीमी बल्लेबाजी लगातार आलोचना के घेरे में रही है। भारत को दो विश्वकप (एक टी20 और एक आईसीसी विश्व कप) जिताने वाले धौनी का वेस्टइंडीज दौरे में टीम में स्वाभाविक चयन होना मुश्किल है। विश्वकप के समय ही माना जा रहा था कि ये धौनी का आखिरी विश्वकप होगा।

'संन्यास के बारे में धौनी को खुद सोचना चाहिए'

खबरों की मानें तो सिलेक्टर प्रमुख एमएसके प्रसाद का कहना है कि धौनी अब टीम में पहली स्वाभाविक पसंद नहीं रह गए हैं और उन्हें अपने स्थान के बारे में खुद विचार करना होगा। प्रसाद पहले भी धौनी की आलोचना कर चुके हैं। हालांकि इस वर्ष के शुरू में ऑस्ट्रेलिया में वनडे सीरीज में धौनी के शानदार प्रदर्शन के बाद प्रसाद को अपने सुर बदलने पड़े थे। प्रसाद का कहना है कि धौनी अब पहले जैसे बल्लेबाज नहीं रह गये हैं और छठे या सातवें नंबर पर आने के बावजूद वो टीम को गति नहीं दे पा रहे हैं जिसका टीम को नुकसान हुआ है। प्रसाद का मानना है कि धौनी को अपने संन्यास के बारे में अब खुद विचार कर लेना होगा, क्योंकि वो अगले साल होने वाले ट्वंटी 20 विश्वकप के लिए सिलेक्टर्स की योजनाओं में नहीं है। उन्हें सम्मान के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ms dhoni retirement news indian team selection for west indies tour 2019