DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्व चयनकर्ता बोले- सलेक्टर्स को जाननी चाहिए धौनी के मन की बात

"धौनी एक बेहतरीन खिलाड़ी हैं। उन्होंने भारतीय टीम के लिए हमेशा नि:स्वार्थ क्रिकेट खेला है। मेरे मत में भारतीय टीम के पास विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में अभी धौनी का उपयुक्त विकल्प तुरंत मौजूद नहीं है।''

ms dhoni  action images via reuters

महेंद्र सिंह धौनी के संन्यास की अटकलों के बीच पूर्व राष्ट्रीय चयनकर्ता संजय जगदाले ने कहा कि हालांकि भारतीय टीम के पास 38 वर्षीय विकेटकीपर बल्लेबाज का सही विकल्प तुरंत मौजूद नहीं है, लेकिन चयन समिति को धौनी से मिलकर भविष्य के बारे में उनके मन की थाह लेनी चाहिए। जगदाले ने कहा, "धौनी एक बेहतरीन खिलाड़ी हैं और उन्होंने भारतीय टीम के लिए हमेशा नि:स्वार्थ क्रिकेट खेला है। मेरे मत में भारतीय टीम के पास विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में अभी धौनी का उपयुक्त विकल्प तुरंत मौजूद नहीं है।" 

ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं कि टेस्ट प्रारूप से पहले ही संन्यास ले चुके धौनी ने अपना अंतिम वनडे खेल लिया है जो विश्व कप में भारत का सेमीफाइनल था और न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गये इस अहम मुकाबले में विराट कोहली की टीम को हार का मुंह देखना पड़ा था। 

विडींज दौरे के लिए ऐसे तैयारी कर रहे विराट, देखें- VIDEO

इन कयासों पर बीसीसीआई के पूर्व सचिव ने कहा, "अपने संन्यास के बारे में फैसला करने के लिए हालांकि धौनी खुद परिपक्व हैं। लेकिन चयनकर्ताओं को उनसे मिलकर उसी तरह पता करना चाहिए कि पेशेवर भविष्य को लेकर उनके दिमाग में क्या चल रहा है, जिस तरह सचिन तेंदुलकर के संन्यास से पहले उनसे बात की गई थी।" 

उन्होंने कहा, "चयनकर्ताओं को धौनी को यह भी बताना चाहिये कि वे भविष्य में उन्हें किस भूमिका में देखना चाहते हैं।" जगदाले ने इस बात को खारिज किया कि विश्व कप में धौनी ने धीमी बल्लेबाजी की। बीसीसीआई के पूर्व सचिव ने कहा, "विश्व कप में धौनी मैचों के हालात और भारतीय टीम की जरूरतों के मुताबिक ही खेल रहे थे। सेमीफाइनल में भी वह सही रणनीति के साथ बल्लेबाजी कर रहे थे। दुर्भाग्य से वह निर्णायक क्षणों में रन आउट हो गये।" 

उन्होंने धौनी का बचाव करते हुए कहा, "यह कहना बेहद गलत होगा कि धौनी एक क्रिकेटर के रूप में चुक गये हैं। 38 साल की उम्र में किसी भी खिलाड़ी से उम्मीद नहीं की जा सकती कि वह उसी ऊर्जा और आक्रामकता के साथ खेलेगा, जैसा वह अपनी युवावस्था में खेलता था।"  

धौनी ने विंडीज दौरे से नाम लिया वापस, वजह जीत लेगी आपका दिल

वरिष्ठ क्रिकेट प्रशासक ने कहा, "धौनी की आलोचना कुछ ऐसे पूर्व क्रिकेटर भी कर रहे हैं जो अपने करियर के दौरान अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते थे। सच्चे खिलाड़ी धौनी की असली कीमत जानते हैं।" 

जगदाले ने हालांकि कहा कि भारतीय टीम की भविष्य की जरूरतों को देखते हुए विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में ऋषभ पंत (21) लगातार मौके दिए जाने चाहिए। उन्होंने जोर देकर कहा, "पंत को विश्व कप से पहले ही भारत की वन डे टीम में धौनी के साथ शामिल किया जाना चाहिये था। धौनी के साथ खेलकर पंत बहुत कुछ सीख सकते थे।" 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:MS Dhoni mature enough to take decision on retirement says Sanjay Jagdale