फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटसबसे महंगा ओवर फेंकने का खुद का वर्ल्ड रिकॉर्ड टूटने पर दुखी हुए रॉबिन पीटरसन, ट्वीट करके लिखा- रिकॉर्ड टूटने से निराश हूं

सबसे महंगा ओवर फेंकने का खुद का वर्ल्ड रिकॉर्ड टूटने पर दुखी हुए रॉबिन पीटरसन, ट्वीट करके लिखा- रिकॉर्ड टूटने से निराश हूं

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व स्पिनर रॉबिन पीटरसन का टेस्ट में सबसे महंगा ओवर फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड टूट गया है। अब ये रिकॉर्ड इंग्लैंड के स्टुअर्ट ब्रॉड के नाम दर्ज हो गया है, जिन्होंने 35 रन लुटाए हैं।

सबसे महंगा ओवर फेंकने का खुद का वर्ल्ड रिकॉर्ड टूटने पर दुखी हुए रॉबिन पीटरसन, ट्वीट करके लिखा- रिकॉर्ड टूटने से निराश हूं
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 02 Jul 2022 06:57 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

क्रिकेट हो या कोई और खेल हर जगह ये कहावत फिट बैठती है कि रिकॉर्ड बनते ही हैं टूटने के लिए। लेकिन अगर आपके नाम कोई शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हो, जोकि जिंदगी भर के लिए शायद ही आपके नाम से हट पाए और अगर वह रिकॉर्ड टूट जाए, तो जाहिर सी बात है आप खुश होंगे। लेकिन दक्षिण अफ्रीका के पूर्व स्पिनर रॉबिन पीटरसन अपने नाम दर्ज एक ऐसे ही शर्मनाक रिकॉर्ड के टूटने से थोड़े से निराश हैं। दरअसल रॉबिन पीटरसन के नाम टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सबसे महंगा ओवर फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड था, जिसे वेस्टइंडीज के दिग्गज ब्रॉयन लारा ने बनाया था। 

इंग्लैंड के खिलाफ जारी पांचवें टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारतीय कप्तान जसप्रीत बुमराह ने स्टुअर्ट ब्रॉड पर 29 रन बनाकर टेस्ट क्रिकेट में एक ही ओवर में सर्वाधिक रन बनाने का विश्व रिकॉर्ड बनाया और महान क्रिकेटर ब्रायन लारा की उपलब्धि को एक रन से पीछे छोड़ दिया। यह विश्व रिकॉर्ड 18 वर्ष तक लारा के नाम रहा, जो उन्होंने 2003-04 में टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका के बायें हाथ के स्पिनर रॉबिन पीटरसन पर 28 रन बनाकर हासिल किया था, जिसमें छह वैध गेंदों में चार चौके और दो छक्के शामिल थे।

स्टुअर्ट ब्रॉड ने फेंका टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का सबसे महंगा ओवर, जसप्रीत बुमराह ने खोले धागे

सबसे महंगे ओवर का खुद का रिकॉर्ड टूटने पर रॉबिन ने ट्वीट करके लिखा, ''आज अपना रिकॉर्ड खोने का दुख है ओह ठीक है, रिकॉर्ड तोड़े जाने के लिए बनते हैं मुझे लगता है। अब अगले पर।'' हालांकि उन्होंने मजाकिया अंदाज में अपने रिकॉर्ड टूटने का दुख जताया है। 

ब्राड ने शनिवार को पांचवें टेस्ट में भारत की पहली पारी के 84वें ओवर में 35 रन लुटा दिये जिसमें छह अतिरिक्त रन (पांच वाइड और एक नो बॉल) भी शामिल थे। भारतीय कप्तान बुमराह 16 गेंद में चार चौके और दो छक्कों से 31 रन बनाकर नाबाद रहे।

इस ओवर की शुरूआत हालांकि हुक शॉट से हुई जिसे बुमराह टाइम नहीं कर सके जो चौके के लिये चला गया जिसके बाद हताशा में ब्राड ने एक बाउंसर लगाया जो वाइड था जो मैदान से बाहर निकल गया और इससे पांच रन मिले।

क्या ये युवी है या बुमराह? भारतीय कप्तान ने की स्टुअर्ट ब्रॉड की धुनाई तो सचिन तेंदुलकर को आई 2007 टी20 वर्ल्ड

अगली गेंद 'नो बॉल' रही जिस पर बुमराह ने छक्का जड़ा। अगली तीन गेंद पर बुमराह ने अलग अलग दिशा में - मिड ऑन, फाइनल लेग और मिड विकेट पर - तीन चौके लगाये। फिर बुमराह ने डीप मिड विकेट पर एक छक्का जड़ा और अंतिम गेंद पर एक रन लिया जिससे इस ओवर में कुल 35 रन बने। भारत ने इस तरह ऋषभ पंत (146 रन) और रविंद्र जडेजा (104 रन) के शतकों से पहली पारी में 416 रन बनाये। 

epaper