फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटभारत को मोहम्मद शमी की कमी खलेगी, स्टीव हार्मिसन ने कहा- तेज गेंदबाजी यूनिट से दोनों टीमें खुश होंगी

भारत को मोहम्मद शमी की कमी खलेगी, स्टीव हार्मिसन ने कहा- तेज गेंदबाजी यूनिट से दोनों टीमें खुश होंगी

इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर स्टीव हार्मिसन ने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैच की टेस्ट सीरीज के दौरान भारतीय टीम को मोहम्मद शमी की कमी खलेगी, जोकि चोट के कारण विश्व कप के बाद से बाहर हैं।

भारत को मोहम्मद शमी की कमी खलेगी, स्टीव हार्मिसन ने कहा- तेज गेंदबाजी यूनिट से दोनों टीमें खुश होंगी
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 20 Jan 2024 06:44 PM
ऐप पर पढ़ें

पूर्व क्रिकेटर स्टीव हार्मिसन का मानना है कि भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैच की टेस्ट सीरीज के दौरान मोहम्मद शमी को मिस करेगी। भारत और इंग्लैंड के बीच पहला टेस्ट मैच  25 जनवरी से शुरू होगा। उन्होंने शमी को इस समय दुनिया का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज में से एक बताया है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि शमी टखने की चोट से उबरने के बाद एक बार फिर टीम में वापसी कर सकते हैं। 

स्टीव हार्मिसन ने कहा कि टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले भारत और इंग्लैंड की टीम अपने तेज गेंदबाजी यूनिट से खुश होंगे। पूर्व तेज गेंदबाज ने बताया कि जेम्स एंडरसन ने पिछली सीरीज में अच्छा किया था। ओली रॉबिन्सन, मार्क वुडे और गुस एटिंकसन पूरी सीरीज के दौरान अच्छा साथ देंगे। उन्होंने आगे कहा कि थ्री लायंस ने उपलब्ध चार सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों को चुना है।

ईटीवी भारत ने हार्मिसन के हवाले से कहा, ''दोनों टीमें अपनी तेज गेंदबाजी लाइन अप से खुश होंगी। मोहम्मद शमी इस समय दुनिया के बेस्ट गेंदबाज हैं। चाहे वो रेड बॉल हो या व्हाइट बॉल क्रिकेट। शुरुआती चरण में भारत को उनकी कमी खलेगी। जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज के होने से भारत की गेंदबाजी मजबूत नजर आती है लेकिन शमी बाद में उपलब्ध होते हैं तो एंट्री करेंगे।''

IND vs ENG : भारत के खिलाफ इंग्लैंड को कमतर नहीं आंके, पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने चेताया

उन्होंने आगे कहा, ''इंग्लैंड के पास जेम्स एंडरसन है, उन्होंने पिछली बार भारत में अच्छा किया था। मुझे लगता है कि वह एक बार फिर यही करेंगे। क्योंकि इंग्लैंड अनुभव का इस्तेमाल अच्छे से करेगी।'' वहीं नासिर हुसैन ने स्काई स्पोटर्स से कहा, ''भारत का पलड़ा भारी है लेकिन ब्रेंडन मैकुलम और बेन स्टोक्स का रिकॉर्ड शानदार है। उन्हें कमतर नहीं आंका जा सकता।''

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें