फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटये कैसा वर्कलोड मैनेजमेंट है पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का, खिलाड़ी को किया परेशान

ये कैसा वर्कलोड मैनेजमेंट है पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का, खिलाड़ी को किया परेशान

मोहम्मद हारिस को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने आखिरी समय पर NOC नहीं दी। यहां तक कि एक दिन पहले एनओसी के लिए बोर्ड ने बोल दिया था, लेकिन जब वे टी20 लीग के लिए बांग्लादेश पहुंच गए तो उनसे मना कर दिया।

ये कैसा वर्कलोड मैनेजमेंट है पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का, खिलाड़ी को किया परेशान
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 22 Jan 2024 11:51 AM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यानी पीसीबी से जुड़ा एक बड़ा ही हैरान करने वाला मामला सामने आया है। बोर्ड ने पहले तो एक खिलाड़ी को विदेशी टी20 लीग में खेलने के लिए बोल दिया, लेकिन जब उसने एनओसी मांगी तो अंत समय पर उससे मना कर दिया। खिलाड़ी अपने पैसे खर्च करके दूसरे देश गया, लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उसे वापस बुलाने के लिए टिकट भी नहीं कराई। ये खिलाड़ी कोई और नहीं, बल्कि मोहम्मद हारिस हैं। बोर्ड ने एनओसी नहीं देने के पीछे वर्कलोड मैनेजमेंट की दुहाई दी, लेकिन सवाल ये है कि जब वह खिलाड़ी इंटरनेशनल क्रिकेट लंबे समय से नहीं खेला है तो वर्कलोड मैनेजमेंट की बात कहां से आ गई।

पाकिस्तान की मीडिया की मानें तो मोहम्मद हारिस ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से एनओसी मांगी थी और उन्हें बोर्ड ने बीपीएल 2024 के लिए बांग्लादेश जाने के लिए कहा गया था। उन्होंने 17 जनवरी को फ्लाइट की व्यवस्था की और पीसीबी ने कहा कि वे उन्हें 18 जनवरी को एनओसी देंगे। हालांकि, बांग्लादेश पहुंचने के बाद, पीसीबी ने उन्हें एनओसी देने से इनकार कर दिया। इसके पीछे जो कारण बोर्ड ने बताया, वह बहुत ही हैरान करने वाला था। 

पीसीबी ने मोहम्मद हारिस को इसलिए अचानक एनओसी देने से इनकार कर दिया, क्योंकि उन्होंने वह पहले ही 2 लीग में खेल चुके हैं। इतना ही नहीं, पीसीबी ने उनकी स्वदेश वापसी की फ्लाइट का भुगतान करने से भी इनकार कर दिया। उनकी बीपीएल फ्रेंचाइजी, चटग्राम चैलेंजर्स ने अब उनकी घर वापसी के लिए उड़ान की व्यवस्था की है और इसके लिए भुगतान किया है। इस तरह की हरकतें किसी भी खिलाड़ी का मनोबल तोड़ती हैं। 

IPL 2024 की शुरुआत होगी 22 मार्च से, इस दिन खेला जा सकता है टूर्नामेंट का फाइनल

अगर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को मोहम्मद हारिस को एनओसी नहीं देनी थी तो उनको कई देशों का चक्कर क्यों लगवाया। यहां तक कि वे ना तो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई टेस्ट सीरीज का हिस्सा थे और ना ही न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली गई टी20 सीरीज के लिए टीम में चुने गए थे। ऐसे में अगर उन्होंने दो लीगों में खेल भी लिया तो कम से कम उनको यहां खेलने का मौका दिया जा सकता था, ताकि वे अपनी फॉर्म हासिल कर सकें। 22 साल के इस खिलाड़ी ने देश के लिए 6 वनडे और 9 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। आखिरी बार वे टीम के लिए सितंबर 2023 में खेले थे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें