फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटभारतीय गेंदबाजों की कुटाई कर ये कारनामा करने वाले पहले खिलाड़ी बने ब्रेसवेल, बोले- 'करियर के शुरआती दिन हैं और...'

भारतीय गेंदबाजों की कुटाई कर ये कारनामा करने वाले पहले खिलाड़ी बने ब्रेसवेल, बोले- 'करियर के शुरआती दिन हैं और...'

Michael Bracewell in India vs New Zealand 1st ODI: कीवी प्लेयर माइकल ब्रेसवेल का भारत के खिलाफ पहले वनडे में जमकर बल्ला चला। उन्होंने मुश्किल हालात में अपनी टीम के लिए तूफानी शतकीय पारी खेली।

भारतीय गेंदबाजों की कुटाई कर ये कारनामा करने वाले पहले खिलाड़ी बने ब्रेसवेल, बोले- 'करियर के शुरआती दिन हैं और...'
Md.akram लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 18 Jan 2023 11:14 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

न्यूजीलैंड के माइकल ब्रेसवेल ने बुधवार को भारत के खिलाफ पहले वनडे में जमकर धमाल मचाया। उन्होंने हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम में तूफानी शतकीय पारी खेली। उन्होंने 78 गेंदों का सामना करने के बाद 140 रन बनाए। उन्होंने 12 चौके और 10 छक्के ठोके। यह उनके वनडे करियर की दूसरी सेंचुरी है। उन्होंने यह आतिशी पारी उस वक्त खेली, जब न्यूजीलैंड टीम 131 के कुल स्कोर पर 6 विकेट गंवाकर जूझ रही थी। बता दें कि भारत ने 349/8 का स्कोर खड़ा किया, जिसके जवाब में कीवी टीम 49.2 ओवर में 337 रन पर ढेर हो गई। भारत ने 12 रन से मैच जीता। सातवें नंबर पर बैटिंग करने उतरे ब्रेसवेल आखिरी खिलाड़ी के रूप में शार्दुल ठाकुर का शिकार बने।

ब्रेसवेल ने बनाया ये बड़ा रिकॉर्ड

ब्रेसवेल ने भारतीय गेंदबाजों की कुटाई कर एक बड़ा कारनामा अंजाम दिया है। वह वनडे क्रिकेट में लक्ष्य का पीछा करते हुए नंबर 7 या उससे निचले स्थान पर दो शतक लगाने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने भारतीय टीम से पहले साल 2022 में आयरलैंड के खिलाफ नाबाद 127 रन की पारी खेली थी। इसके अलावा, ब्रेसवेल न्यूजीलैंड के लिए वनडे में सबसे तेज शतक लगाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में भी शामिल हो गए हैं। उन्होंने 57 गेंदों में सेंचुरी कंप्लीट कर ली थी। वह सबसे तेज सेंचुरी जड़ने वाले तीसरी कीवी क्रिकेटर बन गए हैं। उनसे आगे कोरी एंडरसन (37 गेंदों में सेंचुरी) और जेसी राइटडर (46 गेदों में सैकड़ा) हैं।

तूफानी पारी के बाद कही ये बात

ब्रेसवेल ने मिचेल सेंटनर (45 गेदों में 57) के साथ सातवें विकेट के लिए 162 रन की साझेदारी की। एक समय लग रहा था दोनों न्यूजीलैंड को जिताकर लौटेंगे। ब्रेसवेल ने तूफानी पारी के बाद कहा कि अंत में उम्मीदों के मुताबिक रन नहीं आए, जिससे मुश्किल हो गई। उन्होंने कहा कि हम सिर्फ खुद को मौका देने की कोशिश कर रहे थे। दुर्भाग्य से हम अंत में चूक गए। सेंटनर और मैंने अच्छी साझेदारी की और मैच को आखिर तक ले जाने का प्रयास किया। हालांकि, अंत में काफी रन रह गए। उन्होंने आखिरी चरण में वास्तव में अच्छी गेंदबाजी की। आखिरी ओवर में 20 रन चाहिए थे और आज मेरा दिन नहीं था। यह मेरे अंतरराष्ट्रीय करियर के शुरुआती दिन हैं और मेरे पास इन गेंदबाजों के अधिक फुटेज भी नहीं हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें