फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटIND vs AUS: ऋषभ पंत पर भड़के शेन वॉर्न और मार्क वॉ, विकेटकीपिंग के दौरान मुंह बंद रखने की दी सलाह

IND vs AUS: ऋषभ पंत पर भड़के शेन वॉर्न और मार्क वॉ, विकेटकीपिंग के दौरान मुंह बंद रखने की दी सलाह

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा और निर्णायक मुकाबला ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर खेला जा रहा है। ऑस्ट्रेलिया की टीम पहली पारी में 369 रन बनाकर ऑलआउट हो गई है। टीम की तरफ से...

IND vs AUS: ऋषभ पंत पर भड़के शेन वॉर्न और मार्क वॉ,  विकेटकीपिंग के दौरान मुंह बंद रखने की दी सलाह
लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSat, 16 Jan 2021 11:51 AM
ऐप पर पढ़ें

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा और निर्णायक मुकाबला ब्रिसबेन के गाबा मैदान पर खेला जा रहा है। ऑस्ट्रेलिया की टीम पहली पारी में 369 रन बनाकर ऑलआउट हो गई है। टीम की तरफ से मार्नस लाबुशेन ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 108 रनों की पारी खेली, जबकि कप्तान टिम पेन (50) और कैमरन ग्रीन (47) ने भी बल्ले से अहम योगदान दिया। भारत की तरफ से डेब्यू कर रहे टी नटराजन और वॉशिंगटन सुंदर ने तीन-तीन विकेट अपने नाम किए। ऋषभ पंत को अक्सर देखा जाता है कि वह विकेट के पीछे से लगातार गेंदबाजों का हौसला बढ़ाते रहते हैं और ऐसा ही कुछ नजारा ब्रिसबेन टेस्ट के पहले दिन भी देखने को मिला। हालांकि, पंत के इस आदत से ऑस्ट्रेलिया के दो पूर्व दिग्गज खिलाड़ी शेन वॉर्न और मार्क वॉ बिल्कुल खुश दिखाई नही दिए और उन्होंने पंत को मुंह बंद रखने की सलाह दी। 

रोहित की गेंदबाजी को लेकर दिनेश कार्तिक ने लिए जमकर मजे

दरअसल, पहले दिन के टी ब्रेक से पहले भारत की तरफ से वॉशिंगटन सुंदर गेंदबाजी कर रहे थे और स्ट्राइक पर मैथ्यू वेड थे। खेल में हो रही देरी के दौरान ऋषभ पंत विकेट के पीछे से लगातार बोल रहे थे और गेंदबाज का हौसला बढ़ा रहे थे और पंत तभी चुप नहीं हुए जब सुंदर गेंदबाजी फेंकने जा रहे थे। पंत का यह तरीका बल्लेबाजी कर रहे मैथ्यू वेड को बिल्कुल रास नहीं आया और उन्होंने पंत के चुप ना होने तक बैटिंग करने से मना कर दिया। इस दौरान कमेंट्री बॉक्स में बैठे ऑस्ट्रेलिया के दो पूर्व खिलाड़ी मार्क वॉ और शेन वॉर्न ने इस बात को तुरंत नोटिस किया और पंत को मुंह बंद रखने की सलाह दी। फॉक्स स्पोर्ट्स पर कमेंट्री कर रहे मार्क वॉ ने कहा, 'मुझे कीपर के बोलने से कोई परेशानी नहीं है, लेकिन तब नहीं बोलना चाहिए जब गेंदबाज अपनी गेंद फेंकने जा रहा हो। आपको तब मुंह बंद रखना चाहिए। मुझे लगता है कि ऐसे मौके पर अंपायर को कंट्रोल लेना चाहिए। यह खिलाड़ियों से हाथ से बाहर होता है, अंपायर को वहां पर गेम को कंट्रोल करना चाहिए। अगर यह बहुत ज्यादा होता है और इसकी वजह से खेल रुकता है तो आपको सही स्टैंडर्ड रखना चाहिए अगर आप अंपायरिंग कर रहे हैं तो।'

गेंदबाजों से नाखुश गावस्कर, कहा- साल 1932 से रही है यह सबसे बड़ी कमी

मार्क वॉ की बात से पूर्व स्पिन गेंदबाज शेन वॉर्न भी सहमत नजर आए और उन्होंने कहा कि टीम का हौसला बढ़ाने के पंत के तरीके से उनको कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन हर चीज एक सीमा में होनी चाहिए और उनको पता होना चाहिए कि कब उनको मुंह बंद रखना है। उन्होंने कहा कि मुझे हौसला बढाने वाले तरीके से फर्क नहीं पड़ता, लेकिन जब गेंदबाज गेंदबाजी के लिए तैयार हो रहा हो, तो मुंह बंद कर लेना चाहिए, ताकि बल्लेबाज फोकस कर सके।