फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटआईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद लखनऊ, अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को मिलेगा मंजूरी पत्र, बीसीसीआई से मिली वर्चुअल मंजूरी

आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद लखनऊ, अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को मिलेगा मंजूरी पत्र, बीसीसीआई से मिली वर्चुअल मंजूरी

आईपीएल की दो नई टीमों लखनऊ और अहमदाबाद के मालिकों क्रमश: संजीव गोयनका के आरपीएसजी ग्रुप और सीवीसी कैपिटल को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से वर्चुअल मंजूरी मिल गई है। दोनों टीमों को औपचारिक...

आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद लखनऊ, अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को मिलेगा मंजूरी पत्र, बीसीसीआई से मिली वर्चुअल मंजूरी
Himanshu Singhएजेंसी,नई दिल्लीMon, 10 Jan 2022 09:13 PM

आईपीएल की दो नई टीमों लखनऊ और अहमदाबाद के मालिकों क्रमश: संजीव गोयनका के आरपीएसजी ग्रुप और सीवीसी कैपिटल को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से वर्चुअल मंजूरी मिल गई है। दोनों टीमों को औपचारिक मंजूरी मंगलवार को आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद दे दी जाएगी।

आईपीएल के अध्यक्ष बृजेश पटेल ने सोमवार को क्रिकबज से कहा, ''दोनों टीमों को मंजूरी दे दी गई है और हम कल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद मंजूरी पत्र (एलओआई) जारी करेंगे। टीमें सभी व्यावहारिक उद्देश्यों से काम कर रही हैं।''

उल्लेखनीय है कि ब्रिटेन में एक सट्टेबाजी फर्म के साथ जुड़ाव के लिए सीवीसी का मामला काफी समय से जांच के दायरे में है, हालांकि इस मुद्दे को काफी समय से सैद्धांतिक रूप से सुलझा लिया गया है, लेकिन पार्टियों ने कुछ बिंदुओं पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं। इसके लिए विशेष रूप से मंगलवार की गवर्निंग काउंसिल की बैठक बुलाई गई है।

 

IPL 2022: हार्दिक पांड्या को अहमदाबाद फ्रेंचाइजी में मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी, बन सकते हैं टीम के कप्तान?

 

क्रिकबज के मुताबिक हालांकि इसके विपरीत रिपोर्टें भी आई हैं, जिसमें कहा गया है कि दोनों फ्रेंचाइजियों को नीलामी से बाहर खिलाड़ियों को साइन करने के लिए बीसीसीआई से औपचारिक मंजूरी नहीं मिली है। दोनों टीमों को खिलाड़ियों को साइन करने के लिए कम से कम दो हफ्ते का समय दिए जाने की उम्मीद है। आईपीएल अध्यक्ष ने इस बारे में कहा है कि आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक में भी इस मामले को उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम बैठक में टीमों को दिए जाने वाले समय पर फैसला करेंगे।

समझा जाता है कि बीसीसीआई 12 और 13 फरवरी को मेगा नीलामी को लेकर पूरा भरोसा है, लेकिन उसने सीवीसी मुद्दे के समाधान तक इसे एक हफ्ते के लिए टालने का विकल्प रखा है। गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बाद तारीखों को औपचारिक रूप से सार्वजनिक किए जाने की उम्मीद है।

 


नई टीमों के कोच और खिलाड़ी

इस बीच दो नई टीमों के खिलाड़ी और कोच कौन होंगे, इस पर काफी अटकलें लगाई जा रही हैं। क्रिकबज ने 23 दिसंबर को एक रिपोर्ट में कहा था कि गैरी कर्स्टन, आशीष नेहरा और वक्रिम सोलंकी सीवीसी के रडार पर हैं, हालांकि उनकी नियुक्ति को अभी तक औपचारिक रूप नहीं दिया गया है, लेकिन इन नामों में से एक ने पुष्टि की है कि वह फ्रेंचाइजी की ओर से आधिकारिक प्रतक्रियिा का इंतजार कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि सीवीसी कैपिटल ने पहले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच रवि शास्त्री एंड कंपनी से भी संपर्क किया था, लेकिन बातचीत बहुत दूर नहीं गई। वहीं दूसरी ओर संजीव गोयनका के आरपीएसजी ग्रुप के स्वामत्वि वाली लखनऊ फ्रेंचाइजी ने पहले ही अपने सपोर्ट स्टाफ में गौतम गंभीर, एंडी फ्लॉवर और विजय दहिया को शामिल करने की घोषणा कर दी है।

खिलाड़ियों के संदर्भ में बात करें तो इस बात की चर्चा सबसे ज्यादा है कि लोकेश राहुल लखनऊ के कप्तान होंगे। समझा जाता है कि फ्रेंचाइजी रवि बश्निोई, कैगिसो रबादा और मार्कस स्टॉयनिस जैसे खिलाड़ियों को देख रही है। दूसरे और तीसरे खिलाड़ी को अभी अंतिम रूप नहीं दिया गया ह, हालांकि लखनऊ फ्रेंचाइजी के एक अधिकारी ने कहा है कि इसमें सरप्राइज हो सकता है।

इसके अलावा हार्दिक पांड्या, ईशान किशन और राशिद खान के अहमदाबाद फ्रेंचाइजी से जुड़े होने की जानकारी है, लेकिन औपचारिक पुष्टि की उम्मीद तभी की जा सकती है जब फ्रेंचाइजी को बीसीसीआई से मंजूरी पत्र मिल जाएगा। सनराइजर्स हैदराबाद के नंबर दो खिलाड़ी के रूप में रिटेन किए जाने के प्रस्ताव को अस्वीकार करने वाले राशिद खान को लेकर भी यह पेचीदा मसला है कि क्या अहमदाबाद में उन्हें पांड्या से आगे चुना जाएगा या वह नई टीम में नंबर दो का स्थान स्वीकार करेंगे, यह बहस का विषय रहा है।

epaper