DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ASIA CUP 2018: खलील अहमद की रफ्तार है उनका हथियार, राहुल द्रविड़ को मानते हैं गुरु

खलील अहमद की खासियत है उनकी रफ्तार और लाइन लेंथ। वह 145 किमी/घंटा की औसत रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं, इस दौरान गेंद पर उनका नियंत्रण भी शानदार रहता है।

Khaleel Ahmed.jpg (PC: BCCI)

राजस्थान के छोटे से जिले टोंक से आने वाले बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज खलील अहमद को एशिया कप 2018 के लिए टीम इंडिया में चुना गया है। खलील के पिता पेशे से कम्पाउंर हैं। वह अपने बेटे को डॉक्टर बनाना चाहते थे, लेकिन खलील को क्रिकेट में अपना करियर बनाना था। उनके पिता को शुरुआत में खलील के क्रिकेट खेलने से नफरत थी। क्योंकि उन्हें लगता कि क्रिकेट में कोई करियर नहीं है और खलील की पढ़ाई पर इसका असर पड़ेगा। लेकिन कोच इम्तियाज अली ने खलील के पिता को समझाने और उनके क्रिकेट खेलना जारी रखने देने में अहम भूमिका निभाई। खलील अहमद की खासियत है उनकी रफ्तार और लाइन लेंथ। वह 145 किमी/घंटा की औसत रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं, इस दौरान गेंद पर उनका नियंत्रण भी शानदार रहता है।

साल 2016 में हुए U-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के सदस्य
खलील पहली बार तब सुर्खियों में आए जब साल 2016 के आईपीएल सीजन में दिल्ली डेयरडेविल्स ने उन्हें 10 लाख रुपय में खरीदा और अपनी टीम में शामिल किया। हालांकि इस सीजन में खलील अहमद को एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला। लेकिन सबसे जरूरी चीज जो उन्हें मिली वह कोच राहुल द्रविड़ का साथ। खलील अहमद 2016 में हुए अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम के सदस्य थे। उन्होंने इस सीरीज में 12 विकेट चटकाए। फिर खलील को साल 2018 आईपीएल सीजन के लिए सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने 3 करोड़ रुपये में अपनी टीम में शामिल किया। हालांकि उन्हें इस सीजन में भी कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ सिर्फ एक मैच खेलने का मौका मिला। 

पिछले साल राजस्थान के लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट में पदार्पण
20 वर्षीय खलील ने पिछले साल अक्टूबर में राजस्थान के लिए जम्मू-कश्मीर के खिलाफ अपना प्रथम श्रेणी डेब्यू किया और अब तक दो मैचों में 2 विकेट लिए हैं। लेकिन उनकी असली क्षमता छोटे फॉर्मेट्स में दिखी है और अब तक वह 17 लिस्ट ए मैचों में 28 और 12 टी20 मैचों में 17 विकेट ले चुके हैं। राजस्थान से आने वाले खलील को प्रतिभाशाली युवा तेज गेंदबाज माना जा रहा है जो लगातार 145 किलोमीटर प्रति घंटे से ज्यादा की रफ्तार से गेंदबाजी कर सकते हैं। भारत के पूर्व स्टार तेज गेंदबाज जहीर खान ने भी खलील अहमद की तारीफ करते हुए उन्हें एक प्रतिभावान गेंदबाज बताया है। खलील एनसीए में ट्रेनिंग करते रहे हैं और राहुल द्रविड़ को अपना गुरू मानते हैं।

ASIA CUP 2018: विराट कोहली को दिया आराम, रोहित शर्मा को मिली टीम इंडिया की कमान

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Know About Khalil Ahmed the Young Sensation of Indian Cricket Team a Pacer from small District of Rajasthan named Tonk