फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटKKR vs SRH IPL 2024 Final: ‘गंभीर’ KKR के आगे नतमस्तक SRH, श्रेयस & कंपनी का IPL ट्रॉफी पर कब्जा

KKR vs SRH IPL 2024 Final: ‘गंभीर’ KKR के आगे नतमस्तक SRH, श्रेयस & कंपनी का IPL ट्रॉफी पर कब्जा

KKR vs SRH IPL 2024 Final: कोलकाता नाइट राइडर्स के गंभीर प्रहार के आगे सनराइजर्स हैदराबाद पूरी तरह से लाचार नजर आई और केकेआर चैंपियन बन गई। उसने हैदराबाद को 8 विकेट से पटखनी देते हुए तीसरा खिताब जीता।

KKR vs SRH IPL 2024 Final: ‘गंभीर’ KKR के आगे नतमस्तक SRH, श्रेयस & कंपनी का IPL ट्रॉफी पर कब्जा
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 27 May 2024 01:00 AM
ऐप पर पढ़ें

KKR vs SRH IPL 2024 Final: कोलकाता नाइट राइडर्स के गंभीर प्रहार के आगे सनराइजर्स हैदराबाद पूरी तरह से लाचार नजर आई और केकेआर चैंपियन बन गई।चेन्नई में खेले गए आईपीएल 2024 के फाइनल मैच में उसने हैदराबाद को जबर्दस्त पटखनी दी। हैदराबाद के 113 रनों के लक्ष्य को केकेआर ने 11वें ओवर में ही मात्र दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। वेंकटेश अय्यर ने नाबाद 52 रनों की पारी खेली। उनके अलावा रहमनुल्ला गुरबाज ने नाबाद 39 रन बनाए। एक नजर मैच की कुछ खास बातों पर...

पूरा हुआ दस साल का इंतजार
केकेआर ने 10 इंतजार के बाद एक बार फिर से आईपीएल की ट्रॉफी पर कब्जा किया। आईपीएल में कोलकाता चार बार फाइनल में पहुंची है और तीन बार उन्हें जीत हासिल हुई है। इस जीत के लिए गौतम गंभीर को भी पूरी तरह से क्रेडिट दिया जा रहा है। कोलकाता नाइट राइडर्स ने पहले दोनों खिताब गौतम गंभीर की कप्तानी में जीते थे। पहला खिताब 2012 में और दूसरा खिताब 2014 में आया था। इसके बाद से कोलकाता की टीम खिताब के सूखे से जूझ रही थी। लेकिन इस साल गौतम गंभीर एक बार फिर केकेआर के साथ बतौर मेंटर जुड़े और टीम ने फिर से एक और टाइटल जीत लिया।

पैट कमिंस के फैसले पर सवाल
फाइनल मुकाबले में पैट कमिंस टॉस के लिए मैदान में उतरे तो काफी कंफ्यूज नजर आए। उन्होंने कहाकि वह पिच पढ़ने में एक्सपर्ट नहीं हैं। टॉस जीता तो कमिंस ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, लेकिन मैच के पहले ओवर से लेकर हैदराबाद की पारी खत्म होने तक यह फैसला उनकी टीम को रास आता नहीं दिखा। पहले ओवर में अभिषेक शर्मा आउट हुए तो फिर सिलसिला ही चल पड़ा। मिचेल स्टार्क और वैभव अरोड़ा की आग उगलती गेंदों के सामने एसआरएच के बल्लेबाज जैसे शॉट ही खेलना भूल गए। इसके बाद सुनील नारायण, हर्षित राणा, आंद्रे रसेल ने भी हैदराबाद के बल्लेबाजों को लगातार टेस्ट किया।

केकेआर के बल्लेबाजों का दम
केकेआर के गेंदबाजों के बाद उसके बल्लेबाजों ने दम दिखाया। नतीजा यह रहा कि एसआरएच को उबरने का मौका ही नहीं मिला। कप्तान पैट कमिंस ने सुनील नारायण को आउट जरूर किया, लेकिन उसके बाद उनके हाथ जल्दी कुछ लगा नहीं। सुनील के आउट होने के बाद मैदान पर उतरे वेंकटेश अपने फियरलेस अंदाज से छोटे टारगेट को और छोटा बनाते नजर आए। उनका साथ दिया रहमनुल्लाह गुरबाज ने और अच्छे शॉट्स लगाते रहे। एसआरएच के कप्तान पैट कमिंस ने अपने सभी दांव आजमाए, लेकिन वह कहीं से भी प्रभाव डालते दिखे नहीं।

डिरेल हो गई एसआरएच
एसआरएच की पारी मात्र 113 रनों पर सिमट गई। जिस अंदाज में हैदराबाद के बल्लेबाज आउट हुए, उसे देखकर यकीन ही नहीं हो रहा था कि यही बल्लेबाज हैं, जिन्होंने रनों की बरसात कर दी थी। हर नए बल्लेबाज से एक नई उम्मीद जगती थी। नीतीश रेड्डी का अंदाज देखकर लगा कि वह कुछ फायर करेंगे, लेकिन वह भी आउट हो गए। इसके बाद एडेन मारक्रम से लेकर अब्दुल समद और हेनरिक क्लासेन तक एक के बाद पवेलियन लौटते रहे। आखिर में टीम का सबसे बड़ा निजी स्कोर कप्तान पैट कमिंस के बल्ले से निकला। कमिंस ने 19 गेंदों में 24 रन बनाए। वह आखिरी बल्लेबाज के तौर पर रसेल का शिकार बने।

पॉवरप्ले में पड़ गया सूखा
इस सीजन पॉवरप्ले में धुआंधार बल्लेबाजी एसआरएच की पहचान रही। लेकिन फाइनल में ऐसा कुछ होता नजर नहीं आया। एसआरएच के बल्लेबाज किस कदर खौफ में थे, यह इसी से देखने को मिला कि हेड की जगह आज स्ट्राइक अभिषेक शर्मा ने ली। हालांकि इसका भी बहुत ज्यादा फायदा मिला नहीं और मिचेल स्टार्क की एक बेहद खूबसूरत गेंद ने अभिषेक शर्मा का डंडा उड़ा दिया। इस झटके से एसआरच उभर भी नहीं पाई थी कि ट्रेविस हेड वैभव अरोड़ा की गेंद को विकेटकीपर के हाथों में खेल बैठे। यहां पर हैदराबाद को राहुल त्रिपाठी से काफी उम्मीदें थीं कि पिछले दो मैचों की तरह वह यहां भी संभालेंगे। लेकिन रनगति बढ़ाने के चक्कर में त्रिपाठी ने मिचेल स्टार्क की गेंद को हवा में खेल दिया और रमनदीप सिंह ने कैच लपक लिया। वहीं, कुछ अच्छे शॉट्स लगाने के बाद नीतीश रेड्डी भी हर्षित राणा के शिकार बन गए।