DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्मृति मंधाना और रोहन बोपन्ना को दिया गया अर्जुन अवॉर्ड- photos

1961 में इस अवॉर्ड को पहले बार दिया गया था। इस पुरस्कार में 5,00,000 रुपये कैश दिया जाता है साथ ही अर्जुन की प्रतीकात्मक ट्रॉफी और सर्टिफिकेट दिया जाता है।

union sports minister kiren rijiju and smriti mandhana  photo credit  ani

केंद्रीय खेल मंत्री किरन रिजिजू ने मंगलवार को स्टार महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना और टेनिस खिलाड़ी रोहन बोपन्ना को अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया। 1961 में इस अवॉर्ड को पहले बार दिया गया था। इस पुरस्कार में 5,00,000 रुपये कैश दिया जाता है साथ ही अर्जुन की प्रतीकात्मक ट्रॉफी और सर्टिफिकेट दिया जाता है।

स्मृति मंधाना ने महिला क्रिकेट टीम के लिए कई यादगार पारियां खेली हैं। महिला हो या पुरुष वो टी-20 इंटरनेशनल में सबसे कम उम्र की भारतीय कप्तान हैं। मंधाना ने 22 साल 229 दिन की उम्र में टी-20 इंटरनेशनल में टीम इंडिया की कप्तानी संभाली। वो इसी साल फरवरी में दुनिया की नंबर 1 वनडे बल्लेबाज बनी थीं।

CWC 2019: सचिन तेंदुलकर बोले- मैं धौनी को 7 नहीं इस नंबर पर भेजता

विश्व कप 2019 के बाद से सबकी नजरें धौनी पर, दो दिन बाद होगा भविष्य पर फैसला!

शानदार रहा मंधाना का 2018

मंधाना साल 2018 की शुरुआत से ही वनडे में शानदार प्रदर्शन कर रही हैं। मंधाना ने पिछले साल 12 एकदिवसीय मैचों में 669 रन और 25 टी 20 में 622 रन बनाए थे। वहीं एशियन गेम्स 2018 में टेनिस पुरुष डबल्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले रोहन बोपन्ना ने इस दौरान कहा, 'अर्जुन पुरस्कार विजेता के तौर पर पहचान बनाना मेरे लिए गर्व की बात है। मैं इस पुरस्कार को प्राप्त करके बहुत खुश हूं।'

वहीं मंधाना पिछले सीजन में शानदार प्रदर्शन करने के बावजूद अपने खेल में लगातार सुधार करके उसे अधिक दमदार बनाना चाहती हैं। बेंगलुरू में राष्ट्रीय क्रिकेट एकैडमी में फिटनेस शिविर में समय बिताने के बाद मंधाना अब अपनी बल्लेबाजी पर काम कर रही हैं। मंधाना ने मंगलवार को अर्जुन पुरस्कार हासिल करने के बाद कहा, 'फिटनेस शिविर अच्छा रहा। आखिरकार हमें एक-दो साल बाद एक महीने के आराम का समय मिला। फिटनेस शिविर में आकर वापसी करना अच्छा रहा। ये हमारे लिए बहुत जरूरी था क्योंकि अगले आठ महीने काफी व्यस्त हैं और उसके लिये हमें शारीरिक रूप से तैयार रहना होगा।'

'बल्लेबाजी पर ध्यान दे रही हूं'

अपनी बल्लेबाजी के बारे में उन्होंने कहा, 'मैं और कोच रमन सर मेरे खेल के बारे में काफी चर्चा कर रहे हैं। मैं कैसे टी20 क्रिकेट में निरंतर अच्छा प्रदर्शन करने वाली खिलाड़ी बन सकती हूं, कैसे मैं अपने खेल में अधिक 'पावर जोड़ सकती हूं। मुझे अब भी लगता है कि इस मोर्चे पर मुझे सुधार करने की जरूरत है।' मंधाना ने कहा, 'आपको सुधार करते रहना होगा कि क्योंकि अन्य टीमें भी आप पर निगाह रख रही है। मैं नए शॉट जोड़ने पर नहीं बल्कि मैं उसी लेंथ की गेंद को अलग अलग स्थानों पर खेलने पर ध्यान दे रही हूं।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kiren Rijiju confers Arjuna Awards to Smriti Mandhana Rohan Bopanna on 16 july