फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटवर्ल्ड कप 2023 से बाहर होने पर निराश हैं जोस बटलर, बोले- एक कप्तान के रूप में यह...

वर्ल्ड कप 2023 से बाहर होने पर निराश हैं जोस बटलर, बोले- एक कप्तान के रूप में यह...

वर्ल्ड कप 2023 से इंग्लैंड टीम के बाहर होने कप्तान जोस बटलर निराश हैं। उन्होंने कहा है कि इस पोजिशन में एक कप्तान के रूप में होना एक लो पॉइंट है। इंग्लैंड की टीम अब तक 6 मुकाबले हार चुकी है। 

वर्ल्ड कप 2023 से बाहर होने पर निराश हैं जोस बटलर, बोले- एक कप्तान के रूप में यह...
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 05 Nov 2023 07:51 AM
ऐप पर पढ़ें

इंग्लैंड की टीम आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 के सेमीफाइनल की रेस से पूरी तरह बाहर हो गई है। बांग्लादेश के बाद इंग्लैंड दूसरी ऐसी टीम है, जो टूर्नामेंट से एलिमिनेट हुई है। इंग्लैंड के इस प्रदर्शन से टीम के कप्तान जोस बटलर निराश हैं। उन्होंने कहा है कि एक कप्तान के तौर पर किसी के लिए भी ये एक लो पॉइंट (सबसे खराब दौर) है। बटलर ने ये भी स्वीकार किया है कि बल्ले से उनका प्रदर्शन टीम के लिए अनुकूल नहीं रहा। वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद इंग्लैंड की टीम पर आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2023 के बाहर होने का भी खतरा मंडरा रहा है।   

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अहमदाबाद नरेंद्र मोदी स्टेडियम में 33 रनों से मिली हार के बाद कप्तान जोस बटलर ने पोस्ट मैच सेरेमनी में कहा, "निराशा, हम मैच के बाद वही बातें कर रहे थे। आज सुधार हुआ, बल्ले से अधिक, लेकिन हम अभी भी काफी पीछे थे, अगर आप 30 रन से हार जाते हैं तो कोई शिकायत नहीं। एक कप्तान के रूप में यह एक लो पॉइंट है कि आप इस पोजिशन पर खड़े हैं, आप उच्च आशाओं और उम्मीदों के साथ भारत आए थे, हमने अपने साथ कोई न्याय नहीं किया है, हर कोई जानता है कि हमने कितनी कड़ी मेहनत की है, इन हारों का भार हमारे कंधों पर बहुत अधिक है।" 

ये भी पढ़ेंः क्या वर्ल्ड कप 2023 में ऑस्ट्रेलिया की टीम अब अफगानिस्तान को देगी 2 अंक, नवीन उल हक ने उठाया बड़ा मुद्दा

उन्होंने आगे मैच को लेकर कहा, "हमने (गेंद से) अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन हम और बेहतर कर सकते थे, हमने उन्हें निराशाजनक छोटी साझेदारियां बनाने दीं। ओस के साथ, हमने खुद को संभाला, लेकिन हम 30 रन पीछे रह गए। यह (खुद के आउट होने पर) खेलने के लिए सही शॉट था, एग्जीक्यूशन अच्छा नहीं था, मैं दबाव को वापस उनके पास ले जाने की कोशिश कर रहा था। मैं उतना अच्छा नहीं खेल पाया, जितना मैं खेल सकता था, ऐसी महत्वपूर्ण स्थिति में, मुझे लगता है कि मैंने खुद को और अपनी टीम को निराश किया है। वापसी का एकमात्र तरीका नेट्स पर कड़ी मेहनत करना और अगले गेम में बेहतर वापसी करना है।" 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें