फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटसेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से ईशान किशन और श्रेयस अय्यर को किसने किया बाहर?, जय शाह ने खोले राज

सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से ईशान किशन और श्रेयस अय्यर को किसने किया बाहर?, जय शाह ने खोले राज

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने कहा है कि ईशान किशन और श्रेयस अय्यर को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर करने का फैसला अजीत अगरकर का था। उनकी इस मामले में कोई भी भूमिका नहीं थी।

सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से ईशान किशन और श्रेयस अय्यर को किसने किया बाहर?, जय शाह ने खोले राज
jay shah
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 10 May 2024 03:50 PM
ऐप पर पढ़ें

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने शुक्रवार को ईशान किशन और श्रेयस अय्यर के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट के बाहर होने की वजह बताई है। उन्होंने कहा कि ईशान किशन और श्रेयस अय्यर को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर रखने का फैसला मुख्य चयनकर्ता अजीत अगरकर का था। बीसीसीआई ने कई खिलाड़ियों को इस साल की शुरुआत में जारी सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर का रास्ता दिखाया था, इस लिस्ट में ईशान किशन और श्रेयस अय्यर के नाम ने सबको चौंकाया था। बोर्ड द्वारा रणजी ट्रॉफी में खेलने के निर्देशों का पालन नहीं करना इन दोनों खिलाड़ियों पर भारी पड़ा है। 

सचिव जय शाह ने बीसीसीआई कार्यालय पर मीडिया से बातचीत में कहा, ''आप संविधान देख सकते हैं। मैं चयन समिति की बैठक बस बुलाता हूं। वह फैसला अजित अगरकर का था। जब इन दोनों खिलाड़ियों ने घरेलू क्रिकेट नहीं खेला तो उन्हें बाहर रखने का फैसला अगरकर का ही था। मेरा काम बस उस पर अमल करने का है। हमें संजू सैमसन जैसा अच्छा खिलाड़ी मिल गया। कोई भी ऐसा नहीं है, जिसके बिना काम ना चले।''

ईशान किशन ने पिछले साल साउथ अफ्रीका के खिलाफ बीच दौरे से हटने का फैसला किया था। इसके पीछे की वजह मानसिक थकान बताई थी। हालांकि वह आईपीएल शुरू होने से पहले एक घरेलू मैच में खेलते हुए नजर आए थे। वहीं श्रेयस अय्यर के ऊपर जब ज्यादा दबाव बनाया गया तो वह रणजी ट्रॉफी से बाहर होने के बाद वापस लौटे और सेमीफाइनल और फाइनल भी खेला। अय्यर पर आरोप लगा था कि मुंबई टीम जब रणजी खेल रही थी तब अय्यर कोलकाता नाइट राइडर्स के मुंबई कैंप में भाग ले रहे थे। हालांकि तब तक काफी देर हो चुकी थी और बीसीसीआई से निर्देश मिलने के बावजूद घरेलू टूर्नामेंट नहीं खेलने पर ईशान और अय्यर को अनुबंध से बाहर रखा गया। 

केएल राहुल-संजीव गोयनका विवाद कुछ नहीं, रॉस टेलर को टीम मालिक ने मारे थे थप्पड़; किताब में किया था खुलासा

शाह ने कहा कि उन्होंने बाद में दोनों खिलाड़ियों से बात भी की। उन्होंने कहा,''मैंने उनसे बात की। मीडिया में रिपोर्ट भी आई थी। हार्दिक पंड्या ने भी कहा था कि अगर बीसीसीआई सफेद गेंद के क्रिकेट के लिए उन्हें चुनता है तो वह विजय हजारे और सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी खेलने के लिये तैयार है। हर खिलाड़ी को खेलना होगा, भले ही वह नहीं चाहता हो।''