फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटइन खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य होगा रणजी ट्रॉफी खेलना, BCCI नहीं सहेगा किसी के नखरे

इन खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य होगा रणजी ट्रॉफी खेलना, BCCI नहीं सहेगा किसी के नखरे

BCCI सचिव जय शाह ने पुष्टि की है कि जो खिलाड़ी सेंट्रली कॉन्ट्रैक्टेड हैं, उन खिलाड़ियों के लिए रणजी ट्रॉफी खेलना अनिवार्य होगा। अगर एनसीए इसकी अनुमति देता है तो हर किसी को ये करना होगा। 

इन खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य होगा रणजी ट्रॉफी खेलना, BCCI नहीं सहेगा किसी के नखरे
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 15 Feb 2024 01:20 PM
ऐप पर पढ़ें

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने सभी केंद्रीय अनुबंधित भारतीय खिलाड़ियों को कड़ी चेतावनी दी। उन्होंने कहा है कि आगे से घरेलू रेड बॉल क्रिकेट में भाग लेना इन खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य होगा। भारत और इंग्लैंड के बीच तीसरे टेस्ट से पहले राजकोट में एक कार्यक्रम में बीसीसीआई सचिव जय शाह ने अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के घरेलू मैचों में भाग ना लेने के मुद्दे पर बात की और कहा कि बीसीसीआई किसी के नखरे नहीं सहने वाली है।

जय शाह ने राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम का नाम निरंजन शाह क्रिकेट स्टेडियम रखे जाने के बाद कहा, "उन्हें फोन पर पहले ही सूचित कर दिया गया है और मैं पत्र भी लिखने जा रहा हूं कि यदि आपके मुख्य चयनकर्ता, आपके कोच और आपके कप्तान इसके लिए कह रहे हैं तो आपको रेड बॉल क्रिकेट खेलना होगा।" भारत इंग्लैंड के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज के दौरान कई खिलाड़ियों की चोटों और कुछ के उपलब्ध नहीं होने की वजह से प्रभावित हुआ है।

इस तरह की खबरें सामने आई हैं कि खिलाड़ी रणजी ट्रॉफी में नहीं खेलना चाहते हैं और वे आईपीएल की तैयारियों में जुटे हैं। यहां तक कि उनके पास अन्य कोई कमिटमेंट नहीं है। जय शाह ने उल्लेख किया कि बीसीसीआई सभी केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों, विशेषकर युवाओं से राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के दिशानिर्देशों के अनुसार घरेलू क्रिकेट खेलने की उम्मीद करेगा। उन्होंने कहा, "हमें एनसीए से जो भी सलाह मिलती है, मान लीजिए कि किसी का शरीर सफेद गेंद और लाल गेंद दोनों क्रिकेट को संभालने में सक्षम नहीं है, तो हम उस संबंध में कुछ भी थोपना नहीं चाहते।"  

जय शाह ने आगे बताया, "जो भी फिट और यंग है, उसके दूसरे नखरे हम बर्दाश्त नहीं करेंगे। यह संदेश सभी केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों के लिए है। हर किसी को खेलना होगा, अन्यथा चयन समिति के अध्यक्ष ने मुझे अपने सुझाव दिए हैं और मैं उन्हें खुली छूट देने जा रहा हूं कि वे अपने फैसले स्वतंत्र रूप से ले सकें।" गौरतलब है कि ईशान किशन ने पिछले साल दिसंबर में दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले 'मानसिक थकान' का हवाला देते हुए ब्रेक मांगा था और अभी तक खुद को चयन के लिए उपलब्ध नहीं कराया है। इस बीच उन्हें निजी तौर पर संभवतः आगामी आईपीएल सीजन की तैयारी के लिए पांड्या बंधुओं (हार्दिक पांड्या और क्रुणाल) के साथ छुट्टियां मनाते और ट्रेनिंग लेते देखा गया था।

हालांकि, जय शाह ने सीधे तौर पर उनका नाम लेने से परहेज किया, लेकिन कहा, “वह एक युवा खिलाड़ी हैं… उनके नाम का उल्लेख करने की कोई आवश्यकता नहीं है। यह निर्देश अनुबंधित खिलाड़ियों सहित सभी घरेलू खिलाड़ियों पर लागू होता है। आगे चलकर सभी खिलाड़ियों के पास घरेलू क्रिकेट में भाग लेने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा।" बीसीसीआई सचिव ने भी इंग्लैंड सीरीज के लिए विराट कोहली की छुट्टी के अनुरोध का समर्थन किया। उन्होंने कहा, “विराट के साथ कोई समस्या नहीं है। 15 साल के क्रिकेट करियर में अगर कोई एक सीरीज के लिए छुट्टी मांगता है तो यह उसका अधिकार है। विराट ऐसे खिलाड़ी नहीं हैं जो बिना किसी वास्तविक कारण के छुट्टी लेंगे। हमें अपने खिलाड़ियों का समर्थन करने और उन पर भरोसा करने की जरूरत है।” 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें