DA Image
2 जून, 2020|12:31|IST

अगली स्टोरी

आईपीएल सिर्फ खेल की बात नहीं लोगों की सुरक्षा का मामला हैः खेल मंत्री किरण रिजिजू

आईपीएल का आगाज 29 मार्च से होना था और कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए इस टूर्नामेंट को 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

kiren rijiju

खेल मंत्रालय ने गुरुवार को साफ कर दिया कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन के भविष्य पर फैसला 15 अप्रैल के बाद लिया जाएगा। मंत्रालय ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण फैली मौजूदा स्थिति को देखने के बाद ही 15 अप्रैल के बाद नई एडवाइजरी जारी की जाएगी। आईपीएल का आगाज 29 मार्च से होना था और कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए इस टूर्नामेंट को 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

PSL से जुड़े 128 व्यक्तियों की कोरोना वायरस टेस्ट की रिपोर्ट्स आई

खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि क्रिकेट के मसलों पर फैसला बीसीसीआई को लेना होता है। इस महामारी का असर सीधे तौर पर देश के नागिरकों पर पड़ेगा। उन्होंने कहा, '15 अप्रैल के बाद सरकार स्थिति के हिसाब से नई एडवाइजरी जारी करेगी। बीसीसीआई क्रिकेट को मसलों को देखती है और यह ओलम्पिक स्पोर्ट नहीं है, लेकिन यह सिर्फ एक खेल टूर्नामेंट का सवाल नहीं बल्कि नागरिकों की सुरक्षा का सवाल है। एक टूर्नामेंट में हजारों लोग आते हैं। इसलिए यह सिर्फ खेल संघ और खिलाड़ियों की बात नहीं यह हर नागरिक की बात है।'

स्टेन ने बताया PSL के दौरान कैसे पाकिस्तान में हुए थे वो 'होटल अरेस्ट'

खेल मंत्रालय ने 12 मार्च को सूचना जारी करते हुए कहा था कि कोरोना वायरस के कारण सभी खेल टूर्नामेंट रद्द किए जाते हैं और अगर टूर्नामेंट का आयोजन जरूरी हो तो इसे बिना दर्शकों के कराया जाए। दिल्ली सरकार केंद्र सरकार से एक कदम आगे रही थी। उसने दिल्ली में 31 मार्च तक आईपीएल कराने पर ही पाबंदी लगा दी थी।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:It is not about sport but about the safety of citizens Sports Minister Kiren Rijiju on the possibility of IPL 2020