DA Image
14 जुलाई, 2020|5:53|IST

अगली स्टोरी

इशांत शर्मा ने रिकी पोंटिंग को बताया अपने करियर का बेस्ट कोच

भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने दिल्ली कैपिटल्स के इंस्टाग्राम लाइव सत्र में कहा, “मैं अब तक जितने भी कोच के साथ खेला हूं, उसमें रिकी पोंटिंग सर्वश्रेष्ठ कोच हैं।''

ishant sharma

आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स के भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा का कहना है कि टीम के कोच रिकी पोंटिंग उनके करियर के सर्वश्रेष्ठ कोच हैं। इशांत ने दिल्ली कैपिटल्स के आधिकारिक इंस्टाग्राम के लाइव सत्र के दौरान यह बात कही। इशांत अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में कई बार पोटिंग के खिलाफ भी खेले हैं और 2019 आईपीएल में उन्हें पहली बार पोंटिंग के नेतृत्व में खेलने का मौका मिला था। इशांत अपने करियर की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया दौरे के पर्थ टेस्ट में पोंटिंग को आउट करने को लेकर चर्चा में आए थे। 

इशांत ने दिल्ली कैपिटल्स के इंस्टाग्राम लाइव सत्र में कहा, “मैं अब तक जितने भी कोच के साथ खेला हूं उसमें पोंटिंग सर्वश्रेष्ठ कोच हैं। जब मैंने पिछले सत्र में वापसी की तो मैं बैचेन था। जब मैं पहले दिन दिल्ली के शिविर में गया तो मुझे ऐसा लगा जैसे मैं पदार्पण कर रहा हूं लेकिन पोंटिंग ने मेरा आत्मविश्वास बढ़ाया।”

तनवीर अहमद की अंग्रेजी सुधारने की सलाह पर बाबर आजम ने दिया जवाब, बोले- मैं 'गोरा' नहीं हूं,जिसे सारी इंग्लिश आए

उन्होंने कहा, “पोंटिंग ने मुझसे कहा कि तुम सीनियर खिलाड़ी हो और तुम्हें युवाओं की मदद करनी चाहिए। किसी चीज की चिंता मत करो। तुम मेरी पहली पसंद हो और उनके साथ इस बातचीत से मुझे काफी मदद मिली।” 

2008 में ऑस्ट्रेलिया दौरे को लेकर इशांत ने कहा, “लोग अभी भी मुझसे बात करते हैं तो पर्थ टेस्ट के बारे में पूछते हैं कि मैंने पोंटिंग के सामने कैसे गेंदबाजी की थी। उस साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया ने भारत का दौरा किया था और मैं अच्छी फॉर्म में था। हमारे तत्कालीन कोच गैरी कर्स्टन ने मुझसे कहा था कि ऑस्ट्रेलियाई सिर्फ जीतने के लिए खेलते हैं, इसलिए घरेलू मैदान पर भी इनके खिलाफ मजबूती से खेलना है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सफलता हासिल करना मेरे करियर का केंद्र बिंदु रहा है।”

दिल्ली कैपिटल्स के लिए पहले सत्र में 13 विकेट लेने पर इशांत ने कहा, “मैंने पिछली बार आईपीएल नीलामी नहीं देखी थी लेकिन जब मैंने सुना कि मुझे दिल्ली ने खरीदा है तो मुझे खुशी हुई। अपना राज्य अपना राज्य ही होता है। मुझे पता था कि कोच पोंटिंग के साथ अपने शहर के लिए खेलने का अनुभव अलग ही होगा। हम सभी सिर्फ ट्राफी जीतना हैं।”

VIDEO:विराट कोहली और सुनील छेत्री ने सुनाए अपनी पिटाई के मजेदार किस्से, हंसते-हंसते हो जाएंगे लोटपोट

करियर में उतार-चढ़ाव के बाद वापसी पर 31 साल के इशांत ने कहा, “जब लोग इशांत 2.0 कहते हैं तो मुझे रोबोट जैसा लगता है। 2017 से पहले मेरे ऊपर प्रदर्शन करने का दबाव था। मैं सो नहीं पाता था और मुझे गेंदबाजी करते समय आनंद नहीं आता था।”

उन्होंने कहा, “ससेक्स के साथ जब मैंने काउंटी खेलना शुरु किया तो वहां से सभी चीजें बदल गयी। यह मेरे लिए काफी अच्छा था क्योंकि मैं प्रतिदिन 22-23 ओवर गेंदबाजी करता था और बल्लेबाजी भी करता था। यह कठिन था लेकिन मैंने इसका आनंद लिया।”

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ishant Sharma Hails Ricky Ponting As The Best Coach He Has Ever Met