फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटसंजू सैमसन और ऋषभ पंत की कप्तानी में क्या डिफरेंस था? इरफान पठान ने बताईं दोनों की खूबी और कमियां

संजू सैमसन और ऋषभ पंत की कप्तानी में क्या डिफरेंस था? इरफान पठान ने बताईं दोनों की खूबी और कमियां

आईपीएल 2024 के दिल्ली कैपिटल्स वर्सेस राजस्थान रॉयल्स मैच में संजू सैमसन और ऋषभ पंत की कप्तानी में क्या डिफरेंस था? इसका विश्लेषण इरफान पठान ने किया है। उन्होंने सैमसन की गलती भी बताई है। 

संजू सैमसन और ऋषभ पंत की कप्तानी में क्या डिफरेंस था? इरफान पठान ने बताईं दोनों की खूबी और कमियां
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 08 May 2024 08:44 AM
ऐप पर पढ़ें

मंगलवार 7 मई को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में मेजबान दिल्ली कैपिटल्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच आईपीएल 2024 का 56वां लीग मैच खेला गया। इस मैच में दिल्ली की टीम को जीत मिली। दिल्ली कैपिटल्स ने राजस्थान रॉयल्स को 20 रन से हरा दिया। हार और जीत का अंतर दोनों टीमों के कप्तानों की कप्तानी रही, जिसके बारे में पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान ने बताया है। पठान ने बताया है कि संजू सैमसन ने कौन सी गलती मैदान पर की और ऋषभ पंत की कौन सी बात खराब रही। 

इरफान पठान ने अपने इंस्टाग्राम पर शेयर किए गए एक वीडियो में दोनों टीमों के कप्तानों की कप्तानी के अंतर पर बात की और कहा, "अगर कप्तानी की बात करें तो ऋषभ पंत नंबर ले गए और अगर बल्लेबाजी की बात करें तो संजू सैमसन उनसे आगे निकल गए। बतौर कप्तान संजू सैमसन ने क्या गलती की? जो अक्सर करते नहीं हैं। उन्होंने गलती की कि आर अश्विन ने जब फ्रेजर मैकगर्क की विकेट निकाली तो उन्होंने फिर 10 ओवर तक अश्विन का इस्तेमाल ही नहीं किया।"

IPL 2024 ऑरेंज कैप की रेस में कूदे संजू सैमसन, पर्पल कैप की रेस में नहीं हुआ कोई बदलाव

पठान ने आगे कहा, "अश्विन को जब वे दोबारा 10 ओवर के आसपास लेकर आए तो एक साझेदारी बन चुकी थी और उन ओवरों में 42 रन बन चुके थे। वहां दिल्ली कैपिटल्स को थोड़ा सा मोमेंटम मिला। दो लेफ्टी बैटर्स खेल रहे थे। अश्विन को जल्दी लगाना था, लेकिन संजू सैमसन ने ऐसा नहीं किया। आखिर में ये बड़ा डिफरेंस हो गया। वहीं, ऋषभ पंत की कप्तानी की बात करें तो उनको पता था कि राजस्थान के पास नए बल्लेबाज डोनावैन फरेरा हैं। उनके लिए पंत के पास प्लान था।"

पूर्व ऑलराउंडर ने बताया, "आमतौर पर नए बल्लेबाज के लिए कोई प्लान नहीं होता है। दिल्ली को ये बात मालूम थी कि वह फास्ट बॉलिंग को अच्छा खेलता है, लेकिन ऋषभ पंत ने कुलदीप यादव को बचाकर रखा था। 18वां ओवर उनसे कराया और उन्होंने फरेरा की विकेट निकाली और मैच को सील कर दिया। ओवरऑल ऋषभ पंत ने अच्छे बदलाव किए और अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम योगदान बतौर कप्तान दिया।"