फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेट'भुवनेश्वर कुमार से सीधा शोएब अख्तर नहीं बन सकते हो', जानें इरफान पठान ने ऐसा क्यों कहा

'भुवनेश्वर कुमार से सीधा शोएब अख्तर नहीं बन सकते हो', जानें इरफान पठान ने ऐसा क्यों कहा

भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान अपनी स्विंग गेंदबाजी के लिए हमेशा याद किए जाते हैं। इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद पठान अब कमेंटेटर की भूमिका में आ गए हैं और अक्सर क्रिकेट से जुड़े...

'भुवनेश्वर कुमार से सीधा शोएब अख्तर नहीं बन सकते हो', जानें इरफान पठान ने ऐसा क्यों कहा
Mohan Kumarलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 09 Jun 2021 10:20 AM
ऐप पर पढ़ें

भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान अपनी स्विंग गेंदबाजी के लिए हमेशा याद किए जाते हैं। इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद पठान अब कमेंटेटर की भूमिका में आ गए हैं और अक्सर क्रिकेट से जुड़े मुद्दों पर अपनी राय देते रहते हैं। उन्होंने अब स्विंग और स्पीड में फर्क करने करने के लिए पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर और भारतीय पेसर भुवनेश्वर कुमार का उदाहरण लिया है। पठान के मुताबिक, किसी भी गेंदबाज के लिए गेंद को दोनों तरफ स्विंग काफी मुश्किल भरा काम है।

पठान ने 'द प्लेफील्ड मैगजीन' के कॉलम में लिखा कि, 'स्विंग और स्पीड किसी भी तेज गेंदबाज के प्रमुख हथियार हैं और इसके काफी फायदे हैं, लेकिन किसी भी बल्लेबाज के लिए स्पीड की बजाय स्विंग गेंदबाजी को खेलना मुश्किल होता है।' पठान ने उदाहरण देते हुए समझाया कि, 'भुवनेश्वर के लिए दोनों तरफ स्विंग कराने के बाद शोएब अख्तर जैसा बनना बेहद मुश्किल काम होगा, जो दुनिया में अपने समय के सबसे तेज गेंदबाज माने जाते थे। एक स्विंग बॉलर के लिए फास्ट बॉलर बनना घाटे का सौदा हो सकता है।'

न्यूजीलैंड की बढ़ी मुश्किलें, केन विलियमसन चोटिल, सैंटनर इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से बाहर

पठान ने कहा कि युवा गेंदबाजों को अपनी गेंदबाजी में सिर्फ 4-5 क्लिक जोड़ने के लिए स्विंग से समझौता नहीं करना चाहिए। उन्होंने स्विंग को तेज गेंद से ज्यादा घातक माना। भारत की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले पठान ने कहा कि उन्होंने पाकिस्तान टीम के खिलाफ 2006 में हैट्रिक स्विंग गेंदबाजी के दम पर ही हासिल की थी।

उनके इंटरनेशनल करियर पर नजर दौड़ाई जाए तो उन्होंने अपना आखिरी मैच 2012 में खेला था, जबकि इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू 2003 में किया था। इरफान पठान ने भारत की तरफ से 29 टेस्ट, 120 वनडे और 24 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में हिस्सा लिया है। बाएं हाथ के इस ऑलराउंडर ने पिछले साल जनवरी में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया था।

WTC फाइनल से पहले टीम इंडिया को मिली गुड न्यूज, ICC ने शेयर की पोस्ट 

epaper