फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटIPL 2024: ऑलराउंडर या गेंदबाज, इम्पैक्ट प्लेयर नियम किसकी ज्यादा लग रहा लंका? शाहबाज अहमद ने बताई तल्ख हकीकत

IPL 2024: ऑलराउंडर या गेंदबाज, इम्पैक्ट प्लेयर नियम किसकी ज्यादा लग रहा लंका? शाहबाज अहमद ने बताई तल्ख हकीकत

Shahbaz Ahmed on Impact Player Rule: शाहबाज अहमद ने इम्पैक्ट प्लेयर नियम को लेकर तल्ख हकीकत बताई है। शाहबाज का कहना है कि इस निमय की वजह से ऑलराउंडर की तुलना में गेंदबाजों की ज्यादा लंका लग रही है।

IPL 2024: ऑलराउंडर या गेंदबाज, इम्पैक्ट प्लेयर नियम किसकी ज्यादा लग रहा लंका? शाहबाज अहमद ने बताई तल्ख हकीकत
Md.akram एजेंसी,नई दिल्लीFri, 17 May 2024 08:59 PM
ऐप पर पढ़ें

Shahbaz Ahmed on Impact Player Rule: सनराइजर्स हैदराबाद (एसआरएच) के बाएं हाथ के स्पिनर शाहबाज अहमद ने शुक्रवार को कहा कि 'इम्पैक्ट प्लेयर' नियम ऑलराउंडर की तुलना में गेंदबाजों के लिए सबसे बड़ा दुस्वप्न साबित हुआ है। शाहबाज ने आईपीएल 2024 में 138 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से 186 रन बनाए हैं। लेकिन उनका मुख्य कौशल बाएं हाथ से स्पिन गेंदबाजी करना है जो उनके लिए फायदेमंद नहीं रहा है। उन्होंने केवल तीन विकेट ही झटके हैं, जिसमें भी उनका इकोनोमी रेट 10.60 का है और यह इतना अच्छा नहीं है।

शाहबाज ने 'पीटीआई वीडियो' से कहा, ''अब प्रत्येक टीम के पास कुल नौ बल्लेबाज ( एक ऑलराउंडर और आठ बल्लेबाज) हो गए हैं। साथ ही टीम ऐसा खिलाड़ी चाहती हैं जो पहली ही गेंद से बड़े शॉट लगा सके और अंत तक इसी लय को जारी रखे। 'इम्पैक्ट प्लेयर' नियम ने ऑलराउंडर की तुलना में गेंदबाजों को ज्यादा प्रभावित किया है क्योंकि यह बल्लेबाजों को स्वच्छंद बल्लेबाजी करने की आजादी देता है।''

शाहबाज का कहना है कि आईपीएल में जब इस नियम ने शुरुआत की तो पिछले सत्र में टीमों को 'इम्पैक्ट' खिलाड़ी नियम को इस्तेमाल करने का तरीका समझ नहीं आया था। पिछले सत्र में इसके इस्तेमाल के बारे में ज्यादा पता नहीं था। अब ऑलराउंडर की भूमिका कम हो गई है जिसका मतलब है कि उन्हें पहले की तरह गेंदबाजी करने का नहीं मिल रहा है, उन्हें गेंदबाजी करने का कम मौका मिल रहा है।''

उन्होंने कहा, ''काफी ऑलराउंडर इसका सामना कर रहे हैं। अब उन्हें सिर्फ एक या दो ओवर ही गेंदबाजी करने को मिलती है जबकि पहले वे चार ओवर फेंक लिया करते थे। यह सच है। हर किसी को यह दिख रहा है। मैच में सूत्रधार की भूमिका निभाने वाले बल्लेबाज तेजी से कम हुए हैं।''