फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटIPL 2023: क्या है गुजरात टाइटन्स और चेन्नई सुपर किंग्स की ताकत, कौन करेगा पहला वार?

IPL 2023: क्या है गुजरात टाइटन्स और चेन्नई सुपर किंग्स की ताकत, कौन करेगा पहला वार?

IPL 2023: गुजरात टाइटन्स और चेन्नई सुपर किंग्स की ताकत क्या है, कौन पहला वार करेगा? ये जान लीजिए। दोनों टीमों के पास दमदार खिलाड़ियों की भरमार है, जो अच्छी लय में भी नजर आ रहे हैं। 

IPL 2023: क्या है गुजरात टाइटन्स और चेन्नई सुपर किंग्स की ताकत, कौन करेगा पहला वार?
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 31 Mar 2023 10:50 AM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात टाइटन्स और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच आज यानी शुक्रवार 31 मार्च को आईपीएल 2023 का पहला मुकाबला खेला जाएगा। गुजरात की टीम मौजूदा चैंपियन है, जबकि चेन्नई की टीम ने 2022 का खिताब अपने नाम किया था। ऐसे में जान लीजिए कि एमएस धोनी की कप्तानी वाली टीम सीएसके और हार्दिक पांड्या की कप्तानी वाली जीटी की ताकत क्या है। आज पहला वार करने की कोशिश दोनों टीमों की होगी।

गुजरात टाइटन्स की ताकत

मौजूदा चैंपियन गुजरात टाइटन्स की सबसे बड़ी ताकत तो यह होगी कि उनके दिमाग में इस बात का फितूर नहीं होगा कि उन्हें चैंपियन बनना है, क्योंकि वे चैंपियन के तौर पर ही मैदान पर उतरेंगे। ऐसे में मैदान पर उनकी ताकत एक बार फिर टीम का एकजुट प्रदर्शन होगा। उनके पास ऑलराउंडर्स के रूप में खुद कप्तान हार्दिक पांड्या और उपकप्तान राशिद खान होंगे, जबकि तीसरे ऑलराउंडर के रूप में राहुल तेवतिया खेलते नजर आ सकते हैं। 

गुजरात की एक और ताकत इस बार बल्लेबाजी होगी, क्योंकि उनके पास केन विलियमसन और डेविड मिलर होंगे। ओपनिंग पर शुभमन गिल नजर आएंगे, जो अच्छी लय में हैं। मैथ्यू वेड के रूप में भी एक बड़ा विकल्प टीम के पास है। गेंदबाजी में टीम के पास मोहम्मद शमी, अल्जारी जोसेफ और यश दयाल जैसे विकल्प हैं। स्पिन भी जयंत यादव और आर साई किशोर के रूप में मजबूती प्रदान करेगी। 

चेन्नई सुपर किंग्स की ताकत

एमएस धोनी की कप्तानी वाली सबसे बड़ी ताकत इस सीजन में ये होगी कि उनके पास प्लेइंग इलेवन में गेंदबाजी के कम से कम 6 से 7 ऑप्शन होंगे, जहां ये सोचना नहीं पड़ेगा कि किससे कब गेंदबाजी कराई जाए। दीपक चाहर की वापसी भी टीम में हो गई है, जिससे गेंदबाजी पक्ष और भी ज्यादा मजबूत होगा, जो शुरुआत ही नहीं, बल्कि बीच के ओवरों में भी विकेट निकाल सकते हैं। 

सीएसके का एक और मजबूत पक्ष ये है कि उनके पास ऑलराउंडर्स की भरमार है, जिनमें रविंद्र जडेजा, बेन स्टोक्स, मोइन अली और शिवम दुबे जैसे नाम हैं। शुरुआत से ही चारों खेलते हुए नजर आएंगे। हालांकि, स्टोक्स पहले कुछ मैचों में शायद गेंदबाजी ना करें, क्योंकि उनके घुटने की चोट अभी पूरी तरह ठीक नहीं हैं। इसके अलावा तेज गेंदबाजी में कोई बड़ा विकल्प टीम के पास नहीं है।