फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटIPL 2022 में दिखीं ये नई प्रतिभाएं और भविष्य के लिए भारतीय टीम का संभावित कप्तान

IPL 2022 में दिखीं ये नई प्रतिभाएं और भविष्य के लिए भारतीय टीम का संभावित कप्तान

IPL 2022 का समापन हो चुका है। गुजरात टाइटन्स ने हार्दिक पांड्या की कप्तानी में खिताब जीता। इस सीजन में नई प्रतिभाएं देखने को मिलीं, जबकि हार्दिक के रूप में टीम इंडिया का भविष्य का कप्तान भी नजर आया।

IPL 2022 में दिखीं ये नई प्रतिभाएं और भविष्य के लिए भारतीय टीम का संभावित कप्तान
Vikash Gaurलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 31 May 2022 07:30 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल का आदर्श वाक्य है 'यहां प्रतिभा को मौका मिलता है' और यही बात आईपीएल की चमचमाती ट्रॉफी पर भी लिखी हुई है। यहां तक कि आईपीएल का 2022 सत्र इस पर खरा उतरा है, जहां कुछ शानदार युवा तेज गेंदबाज उभरकर सामने आए हैं तो वहीं, हार्दिक पांड्या भारत के संभावित कप्तान के रूप में दावा पेश करने में सफल हुए हैं, जिन्होंने गुजरात टाइटन्स को आईपीएल चैंपियन बनाया है। 

सनराइजर्स हैदराबाद के लिए पहली बार पूर्ण सत्र में खेलते हुए उमरान मलिक ने लगातार 150 किमी प्रतिघंटा से अधिक की रफ्तार से गेंदबाजी करने की अपनी क्षमता के कारण दुनिया का ध्यान खींचा और इसी वजह से भारतीय चयनकर्ता भी उनसे प्रभावित दिखे। उनको साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम में चुन लिया गया है। वहीं, बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज मोहसिन खान ने नई फ्रेंचाइजी लखनऊ सुपर जाएंट्स के लिए दमदार खेल दिखाया। 

मोहसिन खान ने गति और सटीक गेंदबाजी का शानदार नजारा पेश करते हुए सभी प्रभावित किया, जिनकी इकॉनमी 6 से कम की रही। इसके अलावा चेन्नई सुपर किंग्स के मुकेश चौधरी और सिमरजीत सिंह, गुजरात टाइटन्स के यश दयाल और राजस्थान रॉयल्स के कुलदीप सेन भी दुनिया की सबसे बड़ी टी20 लीग में छाप छोड़ने वाले भारतीय तेज गेंदबाजों में शामिल रहे। कुछ युवा बल्लेबाजों ने भी दिखाया कि वे शीर्ष स्तर पर खेलने में सक्षम हैं। 

इनमें मुंबई इंडियंस के तिलक वर्मा भी शामिल रहे, जिनकी सराहना उनके कप्तान रोहित शर्मा ने भी की। रोहित ने बाएं हाथ के इस बल्लेबाज को भारतीय टीम में खेलने का दावेदार बताया। पंजाब किंग्स के विकेटकीपर बल्लेबाज जितेश शर्मा से भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग काफी प्रभावित दिखे। उनकी टीम प्लेऑफ में जगह बनाने में नाकाम रही, लेकिन उन्होंने मौकों का पूरा फायदा उठाया और तेज गति से विषम परिस्थितियों में रन बनाए। 

आईपीएल में पहले भी खेल चुके 'अनकैप्ड' (जिन्होंने कोई अंतरराष्ट्रीय मुकाबला नहीं खेला हो) खिलाड़ियों में राहुल त्रिपाठी और अभिषेक वर्मा ने प्रभावित किया। हालांकि, राहुल त्रिपाठी आगामी टी20 सीरीज के लिए भारतीय टीम में जगह बनाने से चूक गए। वहीं, इस सत्र से हार्दिक पांड्या ने भारत के भविष्य के कप्तान के तौर पर अपनी दावेदारी पेश कर दी है। वह पूरे सीजन में एक-दो मौकों को छोड़ दें तो पूरी तरह से शांत नजर आए। 

हालांकि, आईपीएल 2022 के शुरू होने से पहले हार्दिक पांड्या की फिटनेस पर संदेह था, लेकिन उन्होंने गेंद और बल्ले से शानदार प्रदर्शन करने के साथ अपनी नेतृत्व क्षमता का लोहा मनावाकर आलोचकों का मुंह बंद किया। उन्होंने चौथे क्रम पर बल्लेबाजी करते हुए टीम की जरूरत के मुताबिक रक्षात्मक और आक्रामक खेल का शानदार सामंजस्य दिखाया। गेंदबाजी में भी हार्दिक पांड्या का कमाल देखने को मिला।  

आईपीएल ने एक बार फिर से साबित किया कि इस खेल में उम्र महज एक संख्या है। इस सत्र को अनुभवी उमेश यादव, रिद्धिमान साहा और दिनेश कार्तिक के दमदार प्रदर्शन के लिए याद किया जाएगा। कार्तिक ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए फिनिशर की भूमिका में बेहतरीन प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम में एक और वापसी की। उमेश ने टूर्नामेंट के शुरुआती चरण में केकेआर के लिए पावरप्ले में शानदार गेंदबाजी की तो साहा ने चैंपियन गुजरात टाइटंस के लिए बाद के मैचों में सलामी बल्लेबाज के तौर पर टीम को लगातार अच्छी शुरूआत दिलायी। 

लेटेस्ट Cricket News, Cricket Live Score, Cricket Schedule और T20 World Cup की खबरों को पढ़ने के लिए Live Hindustan AppLive Hindustan App डाउनलोड करें।