फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटIPL 2020: हार्दिक पांड्या ने कहा- 'जिंदगी में एक चीज सीख ली है कि चोट तो लगती रहेगी'

IPL 2020: हार्दिक पांड्या ने कहा- 'जिंदगी में एक चीज सीख ली है कि चोट तो लगती रहेगी'

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी टीम मुंबई इंडियंस के स्टार ऑल-राउंडर हार्दिक पांड्या ने बैक की सर्जरी कराई थी, जिसके चलते उन्हें काफी समय क्रिकेट से दूर भी रहना पड़ा था। पांड्या अब पूरी...

IPL 2020: हार्दिक पांड्या ने कहा-  'जिंदगी में एक चीज सीख ली है कि चोट तो लगती रहेगी'
Namita Shuklaएजेंसी,अबु धाबीWed, 16 Sep 2020 02:59 PM
ऐप पर पढ़ें

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी टीम मुंबई इंडियंस के स्टार ऑल-राउंडर हार्दिक पांड्या ने बैक की सर्जरी कराई थी, जिसके चलते उन्हें काफी समय क्रिकेट से दूर भी रहना पड़ा था। पांड्या अब पूरी तरह से फिट हो चुके हैं और क्रिकेट के मैदान पर वापसी के लिए पूरी तरह से तैयार भी हैं। पांड्या ने चोट को लेकर कहा कि उन्होंने इस बात को मान लिया है कि चोट भी उनकी जिंदगी का हिस्सा बनी रहेगी, लेकिन वो अब शारीरिक और मानसिक रूप से पहले से ज्यादा मजबूत होकर मैदान पर लौट रहे हैं।

मुंबई इंडियंस का सामना आईपीएल के पहले मैच में 19 सितंबर को चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) से होगा। ऐसे में पांड्या की फॉर्म काफी अहम साबित होगी। पांड्या ने मुंबई इंडियंस के ट्विटर हैंडल पर डाले गए वीडियो में कहा, 'जिस तरह से मैं गेंद को पीट रहा हूं और मानसिक और शारीरिक रूप से लय में हूं, मुझे मैदान पर जाकर स्वाभाविक खेल दिखाने में दिक्कत नहीं होगी।' उन्होंने कहा, 'मैं खेल से कितना ही दूर क्यों ना रहूं, कितने ही समय बाहर क्यों ना रहूं लेकिन वापसी करने पर आपकी अहमियत होनी चाहिए। मैंने काफी तैयारी की है और आने वाला समय अच्छा ही होगा।'

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Hardik Pandya (@hardikpandya93) on

पिछले साल नवंबर में लंदन में पांड्या की पीठ का ऑपरेशन हुआ था। उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए टीम में चुना गया, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण सीरीज रद्द हो गई। पांड्या ने कहा, 'मुझे आईपीएल खेलने में बहुत मजा आता है। मैं मजबूती से वापसी करना चाहता हूं।' उन्होंने कहा कि चोट खिलाड़ी के जीवन का हिस्सा है और बेहतर करने के लिए प्रेरित करती है। उन्होंने कहा, 'मैंने अपने जीवन में एक सबक लिया है कि चोटें तो लगती रहेंगी । कोई चोटिल होना नहीं चाहता लेकिन ये खिलाड़ी के जीवन का हिस्सा है। इससे मुझे और मेहनत करने की प्रेरणा मिलती है।'
 

epaper