DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › IPL 2020: विराट कोहली और केएल राहुल की तरह वापसी को लेकर परेशान नहीं थे मयंक अग्रवाल
क्रिकेट

IPL 2020: विराट कोहली और केएल राहुल की तरह वापसी को लेकर परेशान नहीं थे मयंक अग्रवाल

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Namita Shukla
Tue, 01 Sep 2020 07:11 PM
IPL 2020: विराट कोहली और केएल राहुल की तरह वापसी को लेकर परेशान नहीं थे मयंक अग्रवाल

किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाज मयंक अग्रवाल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के लिए नेट पर वापसी करने को लेकर ना तो आशंकित थे और ना ही उन्हें बायो सिक्योर एन्वॉयरमेंट के कड़े दिशा-निर्देशों का पालन करने में कोई परेशानी है। इससे पहले उनकी आईपीएल टीम के कप्तान लोकेश राहुल और भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पांच महीने के ब्रेक के बाद नेट्स में वापसी की आशंकाओं के बारे में बात की थी, जो शायद उनके करियर में सबसे लंबे समय के बाद वापसी की तरह है। भारतीय टेस्ट टीम के इस सलामी बल्लेबाज के साथ हालांकि ऐसी स्थिति नहीं है।

IPL 2020: CSK के खिलाड़ी, सपोर्ट स्टाफ के कोविड-19 टेस्ट आए नेगेटिव

अग्रवाल ने कहा, 'मुझे इस तरह की कोई आशंका नहीं थी। जब मैं अभ्यास करने गया तो मैंने अपने आप से काफी उम्मीदें नहीं रखीं थी। मैं वहां से वापसी की कोशिश करने के बारे में अधिक सोच रहा था जहां मैंने छोड़ा था। मैंने पहले तीन चार नेट सेशन में खुद को आंकने की कोशिश नहीं की।' बेंगलुरु के 29 साल के इस खिलाड़ी ने कहा कि कोच अनिल कुंबले सेशन के लिए धीरे-धीरे तेजी बढ़ा रहे हैं। उन्होंने कहा, 'शारीरिक रूप से मैंने वापसी कर ली है, लेकिन अभी कौशल बढ़ाने में कुछ और सेशन लगेंगे। यह सिर्फ आपकी बल्लेबाजी की लय वापस पाने के बारे में है और चीजें फिर से ठीक होने लगेंगी। यहां काफी गर्मी है ऐसे में यहां के मौसम से सामंजस्य बैठाने के लिए मैं ऐसे समय में अभ्यास कर रहा हूं जब गर्मी ज्यादा होती है।'

सुरेश रैना के परिवार पर अटैक वाले ट्वीट पर CSK ने ऐसे किया रिऐक्ट

यूएई आने के बाद टीम के सभी खिलाड़ी छह दिनों तक आइसोलेशन में थे। इस दौरान जांच में तीन बार निगेटिव आने के बाद उन्हें बायो सिक्योर एन्वॉयरमेंट में आने की अनुमति मिली। आईपीएल के पूरे सीजन के दौरान खिलाड़ियों और अधिकारियों को बायो सिक्योर एन्वॉयरमेंट से बाहर किसी से मिलने की अनुमति नहीं होगी। ऐसा करने पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। अग्रवाल ने कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि आईपीएल हो रहा है, यह कुछ ऐसा है जो कुछ महीने पहले संभव नहीं था। उन्होंने कहा, 'कोई भी व्यक्ति जो पेशेवर खेल से जुड़ा है, मानसिक रूप से कई मायनों में मजबूत होता है। मुझे लगता है कि हम में से अधिकांश इससे निपटने में सक्षम होंगे।' अग्रवाल पिछले कई सालों से विपश्यना (ध्यान) कर रहे हैं और उन्होंने कहा कि इससे उन्हें लॉकडाउन में मानसिक रूप से शांत रहने में मदद मिली।
 

संबंधित खबरें