DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

VIDEO: फिक्सिंग मामले पर बोले धौनी- खिलाड़ियों का क्या कसूर था?

IPL 2019: भारतीय क्रिकेट को झकझोर देने वाले इस प्रकरण में प्रबंधन की भूमिका के कारण चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को दो साल का प्रतिबंध झेलना पड़ा।

ms dhoni  csk twitter

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2013) मैच फिक्सिंग प्रकरण को अपने जीवन का सबसे कठिन और निराशाजनक  दौर बताते हुए महेंद्र सिंह धौनी (MS Dhoni) ने सवाल दागा कि खिलाड़ियों का क्या कसूर था। दो बार के विश्व कप विजेता कप्तान ने 'रोर ऑफ द लॉयन' (Roar of The Lion) डॉक्यूड्रामा में इस मसले पर अपनी चुप्पी तोड़ी। भारतीय क्रिकेट को झकझोर देने वाले इस प्रकरण में प्रबंधन की भूमिका के कारण चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को दो साल का प्रतिबंध झेलना पड़ा।

महेंद्र सिंह धौनी ने कहा, ''2013 मेरे जीवन का सबसे कठिन दौर था। मैं कभी इतना निराश नहीं हुआ जितना उस समय था। इससे पहले विश्व कप 2007 में निराशा हुई थी जब हम ग्रुप चरण में ही हार गए थे। लेकिन उसमें हम खराब क्रिकेट खेले थे।''

IPL 2019 के आगाज मैच की आमदनी पुलवामा के शहीदों के परिवारों को देगी CSK

उन्होंने कहा, ''लेकिन 2013 में तस्वीर बिल्कुल अलग थी। लोग मैच फिक्सिंग और स्पॉट फिक्सिंग की बात करते थे। उस समय देश भर में यही बात हो रही थी।'' धौनी ने हॉटस्टार पर प्रसारित पहले एपिसोड 'वॉट डिड वी डू रॉन्ग' में कहा कि खिलाड़ियों को पता था कि कड़ी सजा मिलने जा रही हे। 

उन्होंने कहा, ''हमें सजा मिलने जा रही थी बस यह जानना था कि सजा कितनी होगी। चेन्नई सुपर किंग्स पर दो साल का प्रतिबंध लगा। उस समय मिली जुली भावनाएं थी, क्योंकि आप बहुत सी बातों को खुद पर ले लेते हैं। कप्तान के तौर पर यही सवाल था कि टीम की क्या गलती थी।''

उन्होंने कहा, ''हमारी टीम ने गलती की लेकिन क्या खिलाड़ी इसमें शामिल थे। खिलाड़ियों की क्या गलती थी कि उन्हें यह सब झेलना पड़ा।'' उन्होंने कहा, ''फिक्सिंग से जुड़ी बातों में मेरा नाम भी उछला। मीडिया और सोशल मीडिया में ऐसे दिखाया जाने लगा मानो टीम भी शामिल हो, मैं भी शामिल हूं। क्या यह संभव है। हां, स्पॉट फिक्सिंग कोई भी कर सकता है। अंपायर, बल्लेबाज, गेंदबाज लेकिन मैच फिक्सिंग में खिलाड़ी शामिल होते हैं।''

IPL 2019 में इस नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरेंगे महेंद्र सिंह धौनी

उन्होंने कहा, ''मैं इस बारे में दूसरों से बात नहीं करना चाहता था लेकिन अंदर से यह मुझे कुरेद रहा था। मैं नहीं चाहता कि किसी भी चीज का असर मेरे खेल पर पड़े।मेरे लिए क्रिकेट सबसे अहम है।''

महेंद्र सिंह धौनी ने डॉक्यूमेंट्री में कहा कि मैच फिक्सिंग कत्ल से भी बड़ा गुनाह है। उन्होंने कहा, ''मैं आज जो कुछ भी हूं, क्रिकेट की वजह से हूं। मेरे लिए सबसे बड़ा गुनाह कत्ल नहीं, बल्कि मैच फिक्सिंग है। लोगों को अगर लगता है कि मैच का नतीजा असाधारण इसलिए है, क्योंकि वह फिक्स है तो लोगों का क्रिकेट पर से विश्वास उठ जाएगा और मेरे लिए इससे दुखदायी कुछ नहीं होगा।''

बॉलीवुड सेलिब्रिटीज से लेकर क्रिकेट सितारों ने कुछ इस अंदाज में तारीफ की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ipl 2019 ms dhoni opens up on 2013 ipl fixing scandal in roar of the lion bollywood to cricketers praises watch video