IPL 2019 ashwin Mankad to ms dhoni coolness 5op 5 controversies for this season - IPL 2019: 'मांकड़' से लेकर 'धौनी का गुस्सा', ये हैं इस सीजन के 5 बड़े विवाद DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

IPL 2019: 'मांकड़' से लेकर 'धौनी का गुस्सा', ये हैं इस सीजन के 5 बड़े विवाद

IPL 2019: 44 दिन नॉन स्टॉप चले इन मैचों में कई खट्टे-मीठे पल देखने को मिले। आईपीएल के इस सीजन में शुरुआती दौर से ही कुछ विवाद सामने आए, जिन्होंने पूरी दुनिया में सुर्खियों बटोरीं।

ipl 2019 controversies  pti

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2019) के लीग मैच रविवार (5 मई) को खत्म हो गए। मुंबई इंडियंस ने अंतिम मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स को 9 विकेट से हराकर टॉप पोजिशन हासिल की। मुंबई इंडियंस के अलावा, चेन्नई सुपर किंग्स, दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स हैदराबाद प्लेऑफ में पहुंची हैं। क्वॉलिफायर का पहला मैच 7 मई को चेपक में मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा। 

44 दिन नॉन स्टॉप चले इन मैचों में कई खट्टे-मीठे पल देखने को मिले। आईपीएल के इस सीजन में शुरुआती दौर से ही कुछ विवाद सामने आए, जिन्होंने पूरी दुनिया में सुर्खियों बटोरीं। आइए, आईपीएल 2019 के विवादों पर डालते हैं एक नजर:

किस तरह मांकड नियम अश्विन नियम में बदला
किंग्स इलेवन पंजाब और राजस्थान रॉयल्स के बीच हुए मैच में पहला विवाद उस समय उठा जब पंजाब के कप्तान आर अश्विन ने नॉन स्ट्राइकिंग एंड पर खड़े जोस बटलर को रन आउट कर दिया। अंपायर ने बटलर को आउट दिया। बटलर गुस्से में मैदान से बाहर गए। बटलर के आउट होने के बाद राजस्थान रॉयल्स की टीम धराशायी हो गई और 14 रन से हार गई। अश्विन ने मांकड स्टाइल में बटलर को रन आउट करने से पहले उन्हें किसी तरह की चेतावनी नहीं दी। इसके लिए अश्विन की चौतरफा आलोचना हुई। उनके इस काम को खेल भावना के विपरीत बताया गया। लेकिन कुछ लोगों ने इसका समर्थन करते हुए कहा कि उन्होंने कानून से बाहर कुछ नहीं किया। 

IPL 2019, Qualifier 1- MI vs CSK: प्लेइंगXI से लेकर पिच रिपोर्ट तक जानें यहां सबकुछ

जब कूल नहीं रहे 'कैप्टन कूल'
चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी पर आईपीएल के कोड ऑफ कंडक्ट का उल्लंघन करने पर 50 फीसदी फीस का जुर्माना लगा। लेकिन 'कूलनेस' के लिए पहचाने जाने वाले धौनी ने ऐसा क्या किया था? दरअसल, अंपायर के नो बॉल न देने पर धौनी डगआउट से निकलकर अंपायर के पास पहुंचे। इस मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को अंतिम तीन गेंदों पर 8 रन की जरुरत थी। लेकिन नो बॉल न दिए जाने पर धौनी अंपायर के पास पहुंचे और बहस करने लगे। ईमानदारी से कहें तो यह कमर की ऊंचाई तक फेंकी गई फुल टॉस थी। बेन स्टोक्स तक के चेहरे पर स्माइल थी। सौभाग्य से मिशेल सेंटनर ने अंतिम गेंद पर छक्का लगाकर टीम को जीत दिला दी। 

प्लेऑफ से पहले कुछ ऐसा रहा IPL- 2019 का सफर, जानें कौन है 'मैन ऑफ द टूर्नामेंट' का दावेदार

जब अंपायर ने नहीं देखी नो बॉल
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और मुंबई इंडियंस के मैच में लसिथ मलिंगा की आखिरी गेंद को नो बॉल न देख पाने पर विराट कोहली ने कहा था, हम आईपीएल लेवल का क्रिकेट खेल रहे हैं ना कि क्लब क्रिकेट। अंपायरों को अपनी आंखें खुली रखनी चाहिए। आरसीबी यह मैच 6 रन से हार गई थी। मैच की आखिरी गेंद का जब रिप्ले देखा गया तो साफ था कि मलिंगा ने नो बॉल फेंकी थी और अंपायर इसे देख नहीं पाए। आरसीबी को अंतिम गेंद पर जीत के लिए 7 रन की जरुरत थी। अगर यह नो बॉल हो जाती तो मैच का परिणाम अलग हो सकता था।

स्लो ओवर रेट रही परेशानी
स्लो ओवर रेट इस आईपीएल की बड़ी समस्या रही। यहां तक कि कुछ मैच तो देर रात तक खिंचे। आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल ने भी इस समस्या पर गौर किया। कुछ रिपोर्ट्स में यह भी कहा गया कि प्लेऑफ का और फाइनल टाइम बदलने की वजह से यह सब हुआ। 

IPL 2019, CSKvsMI 1st Qualifier: मुंबई-चेन्नई के बीच फाइनल जंग
 
केकेआर के लिए सब अच्छा नहीं रहा
आंद्रे रसेल ने कोलाकाता नाइटराइडर्स टीम प्रबंधन की दोषपूर्ण नीतियों की ओलचना की। अच्छी शुरुआत के बावजूद केकेआर प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकी। केकेआर लगातार छह मैच हारी। रसेल ने इसके लिए टीम प्रबंधन के खराब निर्णयों को दोषी ठहराया। केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक की इस बात के लिए कड़ी ओलचना हुई कि उन्होंने रसेल को ऊपर बल्लेबाजी के लिए नहीं भेजा। केकेआर के कोच साइमन कैटिच ने भी यह स्वीकार किया कि ड्रेसिंग रूम में कुछ फैसले गलत लिए गए और टीम में सब ठीक नहीं चल रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:IPL 2019 ashwin Mankad to ms dhoni coolness 5op 5 controversies for this season