DA Image
2 जून, 2020|8:37|IST

अगली स्टोरी

इंजमाम-उल-हक ने बताया जावेद मियांदाद को बेस्ट पाकिस्तानी बल्लेबाज, जानिए वजह

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक दुनिया के दिग्गज बल्लेबाजों में गिने जाते हैं। उनसे जब पूछा गया कि वो पाकिस्तान का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज किसे चुनेंगे, तो उन्होंने जावेद मियांदाद का नाम चुना

former pakistan captain inzamam-ul-haq heaped praise on   sachin tendulkar screen grab

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक दुनिया के दिग्गज बल्लेबाजों में गिने जाते हैं। उनसे जब पूछा गया कि वो पाकिस्तान का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज किसे चुनेंगे, तो उन्होंने जावेद मियांदाद का नाम चुना। इंजमाम का मानना है कि पाकिस्तान की ओर से बेस्ट खिलाड़ी जावेद मियांदाद रहे हैं। 

इंजमाम ने यूट्यूब वीडियो में कहा, 'मैं उस खिलाड़ी के बारे में बात करने जा रहा हूं, जो सभी बल्लेबाजों का हीरो रहा है, जब मैं क्रिकेट खेलता था। मैं जावेद मियांदाद के बारे में बात कर रहा हूं। बल्लेबाजी में बात करें तो पाकिस्तान की ओर से वो बेस्ट खिलाड़ी हुए हैं। मैं उनके साथ चार-पांच साल खेल चुका हूं और फिर वो टीम के कोच भी बने। उन्हें अपने ऊपर काफी विश्वास था, जिसने उन्हें महान बनाया।'

BCCI ने चुकाई क्रिकेटरों की बकाया राशि, कहा- मुश्किल समय में सबके साथ

उन्होंने आगे कहा, 'मैं एक बार मुश्ताक मोहम्मद से बात कर रहा था, वो मुझे बता रहे थे कि वो एक बार ऑस्ट्रेलिया दौरे पर वो गए थे, जब मियांदाद युवा थे, उस समय बल्लेबाज वहां टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी करने से डरते थे, वो हमेशा निडर होकर बल्लेबाजी करने के लिए जाने को तैयार रहते थे। वो दुनिया के बेस्ट गेंदबाजों को स्लेज करते थे। सामान्य तौर पर गेंदबाज बल्लेबाजों को स्लेज करते हैं, जिससे बल्लेबाजों की लय खराब हो, लेकिन मियांदाद ने इसको उलट दिया था।'

'सचिन-धोनी या रोहित को कभी ज्यादा वजन के साथ ट्रेनिंग करते नहीं देखा'

उन्होंने कहा, 'वो बड़े मैचों के खिलाड़ी थे और हर परिस्थितियों में आगे बढ़कर आते थे। वो कभी खिलाड़ियों यह पता ही नहीं चलने देते थे कि परिस्थिति कितनी मुश्किल है।' मियांदाद अपनी आक्रामक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते थे। उन्होंने कहा, 'मैंने दुनिया में कई जगह क्रिकेट खेला, लेकिन मुझे लगता है कि जावेद भाई बल्लेबाजी की आर्ट को सबसे अच्छे तरीके से बताते हैं। वो कभी भी तकनीक में विश्वास नहीं रखते थे, जैसा कि बाकी बल्लेबाज करते थे। वो बल्लेबाजों को सिखाते थे कि रन कैसे बनाने हैं, यही उनका कोचिंग का तरीका था।'

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Inzamam-ul-Haq names his pick for pakistan best ever batsman explained why javed miandad was different from others