फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटINDW vs SAW 3rd ODI: क्या आखिरी वनडे को लेकर टेंशन फ्री है टीम इंडिया? दीप्ति शर्मा ने किया ये खुलासा

INDW vs SAW 3rd ODI: क्या आखिरी वनडे को लेकर टेंशन फ्री है टीम इंडिया? दीप्ति शर्मा ने किया ये खुलासा

Deepti Sharma on INDW vs SAW 3rd ODI: भारतीय महिला क्रिकेट टीम और साउथ अफ्रीका के बीच रविवार को तीसरा और आखिरी वनडे मैच खेला जाएगा। दीप्ति शर्मा ने कहा कि यह हमारे लिए महज औपचारिकता का मुकाबला नहीं।

INDW vs SAW 3rd ODI: क्या आखिरी वनडे को लेकर टेंशन फ्री है टीम इंडिया? दीप्ति शर्मा ने किया ये खुलासा
deepti sharma
Md.akram एजेंसी,बेंगलुरुSat, 22 Jun 2024 07:09 PM
ऐप पर पढ़ें

Deepti Sharma on INDW vs SAW 3rd ODI: सीनियर ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा ने कहा कि रविवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने तीसरे और अंतिम महिला वनडे मुकाबले को भारत महज औपचारिकता का मैच नहीं मानेगा बल्कि टीम पिछले मैचों की बढ़त को मजबूत करना चाहेगी। भारत ने पहले दो मैच 143 और चार रन से जीतकर तीन मैच की सीरीज में 2-0 की विजयी बढ़त बना ली है। 

दीप्ति ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ''हां, हमने सीरीज जीत ली है लेकिन हम इस मैच को सिर्फ औपचारिकता के रूप में नहीं देखेंगे। हमें जो भी मौके मिलेंगे हम उनसे सीखने की कोशिश करेंगे क्योंकि हम इस सप्ताह के अंत में (चेन्नई में) एकमात्र टेस्ट खेलने जा रहे हैं।'' इस ऑफ स्पिनर ने पहले मैच में अपने ऑलराउंड कौशल का प्रदर्शन किया था करते हुए महत्वपूर्ण 37 रन बनाए थे जिससे टीम पांच विकेट पर 99 रन की मुश्किल स्थिति से उबरने में सफल रही। उन्होंने इसके बाद मैच में दो विकेट भी चटकाए।

दीप्ति ने कहा, ''मुझे दबाव की स्थिति का सामना करना पसंद है। मेरी सोच बहुत स्पष्ट है। मैं हमेशा टीम को जीत दिलाना चाहती हूं या टीम को जीत की स्थिति में पहुंचाना चाहती हूं, फिर चाहे वह मेरी बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी।'' दोनों मैचों में भारत के शीर्ष क्रम ने धीमी शुरुआत की जिसके बाद बीच के ओवरों और अंतिम ओवरों में टीम ने तेजी से रन जुटाए। दीप्ति ने कहा कि भारतीय बल्लेबाजों ने सीरीज में अच्छा अनुकूलन कौशल दिखाया। उन्होंने कहा, ''सलामी बल्लेबाज परिस्थितियों के अनुसार खेलीं। शुरुआती ओवरों में गेंद थोड़ी घूम रही थी और उन्होंने इसे ध्यान में रखकर खेला। उन्होंने अच्छी तरह से अनुकूलन किया।'' 

दीप्ति ने कहा, ''10 से 12 ओवर के बाद हमने कुछ अच्छी साझेदारियां बनाईं। उन्होंने रन बनाने के हर अवसर का फायदा उठाया और यह हमारे लिए सकारात्मक है - जिस तरह से हमने बाद में इसका फायदा उठाया।'' दीप्ति ने कहा कि भारतीय खिलाड़ी अपने क्षेत्ररक्षण को सुधारने पर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ''हमने एक क्षेत्ररक्षण इकाई के रूप में सुधार किया है। आप पूजा (शतक जड़ने वाली मारिजेन कैप को आउट करने के लिए वस्त्राकर का कैच) द्वारा लिया गया शानदार कैच देख सकते हैं। इससे (दूसरे वनडे में) हमारी लय बदल गई और हम एक इकाई के तौर पर अपने क्षेत्ररक्षण पर और काम कर रहे हैं।''