फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटभारतीय ड्रेसिंग रूम में कब और क्यों शुरू हुई गोल्ड मेडल की प्रथा? फील्डिंग कोच ने कर दिया खुलासा

भारतीय ड्रेसिंग रूम में कब और क्यों शुरू हुई गोल्ड मेडल की प्रथा? फील्डिंग कोच ने कर दिया खुलासा

टी दिलीप ने बताया 'यह आइडिया हमने चार महीने पहले शुरू कर दिया था, जहां हमने हर मैच के बाद ड्रेसिंग में में वेस्ट फील्डर का ऐलान करते थे। बस अब हम इसे सोशल मीडिया पर देख पा रहे हैं।'

भारतीय ड्रेसिंग रूम में कब और क्यों शुरू हुई गोल्ड मेडल की प्रथा? फील्डिंग कोच ने कर दिया खुलासा
Lokesh Kheraलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 13 Nov 2023 10:23 AM
ऐप पर पढ़ें

वर्ल्ड कप 2023 के दौरान सोशल मीडिया भारतीय ड्रेसिंग रूम के कई वीडियो वायरल हुए जिसमें मैच के बाद खिलाड़ियों को बेस्ट फील्डर के लिए गोल्ड मेडल से नवाजा गया। फैंस इस खास सेरेमनी को खूब पसंद कर रहे हैं और प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं कि वर्ल्ड कप 2023 के दौरान इस तरह की खास सेरेमनी का आयोजन कर बीसीसीआई ने खिलाड़ियों के बीच बॉन्डिंग बढ़ाने का शानदार कदम उठाया है। हालांकि भारतीय फील्डिंग कोच टी दिलीप ने हाल ही में खुलासा किया है कि गोल्ड मेडल की यह प्रथा वर्ल्ड कप में शुरू नहीं हुई, बल्कि चार महीने पहले से खिलाड़ियों को गोल्ड मेडल से नवाजा जा रहा है। जी हां, इसी के साथ फील्डिंग कोच ने इस मेडल सेरेमनी को शुरू करने के पीछे का मुख्य कारण भी बताया है।

वर्ल्ड कप 2023 लीग स्टेज के बाद विराट कोहली हैं टॉप स्कोरर, जानिए कौन है बॉलिंग किंग

इंडिया वर्सेस नीदरलैंड्स मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में टी दिलीप ने कहा 'वास्तव में ये पूरा आइडिया पहले ही शुरू हो गया था, मगर आप वर्ल्ड कप में ये पदक देख रहे हैं। यह आइडिया हमने चार महीने पहले शुरू कर दिया था, जहां हमने हर मैच के बाद ड्रेसिंग में में वेस्ट फील्डर का ऐलान किया करते थे। बस अब हम वर्ल्ड कप में इस मेडल प्रजेंटेशन को सोशल मीडिया पर देख पा रहे हैं।'

रमीज राजा ने पीसीबी के खिलाफ उगला जहर, कहा- ये पाकिस्तान क्रिकेट की मां-बहन कर रहे हैं

उन्होंने आगे कहा 'लेकिन यह पूरा आइडिया ये सुनिश्चित करना था कि हम सिर्फ मैच के शानदार कैच को प्रोत्साहित करें, बल्कि यह 50 ओवर गेम में लगातार प्रदर्शन करने के बारे में था। 300 गेंदों में आप उस निरंतरता को कैसे बनाए रखते हैं, चाहे वह कैचिंग हो या एफर्ट और इंटेंसिटी, यही वह चीज़ है जिसे हम महत्वपूर्ण रूप से प्राप्त करना चाहते हैं। इसलिए इस पदक को प्राप्त करने के पीछे यही मुख्य कारण था।'

रोहित शर्मा से लेकर रविंद्र जडेजा तक...वर्ल्ड कप 2023 लीग स्टेज में क्लीन स्वीप कर भारत ने लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी

बता दें, वर्ल्ड कप 2023 के पहले मैच में यह मेडल भारतीय स्टार खिलाड़ी विराट कोहली को मिला था, इसके बाद केएल राहुल, रविंद्र जडेजा, श्रेयस अय्यर और कप्तान रोहित शर्मा जैसे कई खिलाड़ियों को यह मेडल पहनने के अवसर मिला। रविवार रात नीदरलैंड्स के खिलाफ मुकाबले के बाद लीग स्टेज का आखिरी गोल्ड मेडल सूर्यकुमार यादव को मिला।