DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

INDvsWI: वेस्टइंडीज दौरे के लिए 19 जुलाई को होगा भारतीय टीम का सलेक्शन

भारत का एक महीने का विंडीज दौरा अगस्त-सिंतबर में होना है। भारतीय टीम तीन अगस्त से चार सितंबर तक वेस्टइंडीज के दौरे पर रहेगी, जिसमें तीन टी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट खेले जाएंगे।

ms dhoni  virat kohli  afp

India Tour of West Indies 2019:  भारतीय टीम के विश्व कप (ICC World Cup 2019) के सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो जाने के बाद विकेटकीपर महेंद्र सिंह धौनी के भविष्य को लेकर अटकलें चल रही हैं। हालांकि, धौनी और बीसीसीआई की तरफ से रिटायरमेंट को लेकर कुछ नहीं कहा गया। लेकिन फैन्स को धौनी के भविष्य का जवाब 19 जुलाई को मिल जाएगा। दरअसल, 19 जुलाई को पांच सदस्यीय चयन समिति वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का चयन करेगी।

भारत का एक महीने का विंडीज दौरा अगस्त-सिंतबर में होना है। भारतीय टीम तीन अगस्त से चार सितंबर तक वेस्टइंडीज के दौरे पर रहेगी, जिसमें तीन टी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट खेले जाएंगे।

पिछले एक साल से चल रही हैं धौनी पर बहस
टीम इंडिया के विकेटकीपर-बल्लेबाजी महेंद्र सिंह धौनी का भारतीय टीम में स्थान पिछले 12 महीनों में बहस का विषय रहा है और विश्व कप के दौरान यह बहस और तेज हो गई थी। यहां तक कि लीजेंड क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में धौनी की धीमी पारी के बाद उनकी मंशा पर ही सवाल उठा दिया था। कप्तान विराट कोहली ने हर बार इस बहस को यह कहते हुए शांत करने की कोशिश की थी कि ड्रेसिंग रूम का धौनी को पूरी तरह समर्थन है।

ये तीन युवा हो सकते हैं टीम इंडिया में महेंद्र सिंह धौनी के 'उत्तराधिकारी'

धौनी ने टीम मैनेजमेंट से नहीं की कोई बात
समझा जाता है कि धौनी ने अपने भविष्य के बारे में टीम प्रबंधन या चयनकर्ताओं से कोई बात नहीं की है। धौनी के अतिरिक्त चयनकर्ताओं को टीम के प्रमुख खिलाड़ियों खासतौर पर तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के वर्कलोड को भी देखना है। दोनों का प्रदर्शन विश्व कप में काफी शानदार रहा था। चयनकर्ताओं को ओपनर शिखर धवन और आलराउंडर विजय शंकर की फिटनेस को भी देखना है। दोनों खिलाड़ी इस समय बेंगलुरु में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में रिहैबिलिटेशन से गुजर रहे हैं।

वेस्टइंडीज दौरे पर धौनी का चयन मुश्किल
गत सात जुलाई को 38 वर्ष के हो गए महेंद्र सिंह धौनी की विश्वकप में धीमी बल्लेबाजी लगातार आलोचना के घेरे में रही है। भारत को दो विश्वकप जिताने वाले धौनी का वेस्टइंडीज दौरे में टीम में स्वाभाविक चयन होना मुश्किल है। विश्वकप के समय ही माना जा रहा था कि यह धौनी का आखिरी विश्वकप होगा। 

IND vs WI: वेस्टइंडीज के दौरे पर इन नए चेहरों को मिलेगा मौका!

धौनी सलेक्टर्स की पहली पसंद नहीं रहे
खबरों की मानें तो चयनकर्ता प्रमुख एमएसके प्रसाद का कहना है कि धौनी अब टीम में पहली स्वाभाविक पसंद नहीं रह गए हैं और उन्हें अपने स्थान के बारे में खुद विचार करना होगा। प्रसाद पहले भी धौनी की आलोचना कर चुके हैं। हालांकि इस वर्ष के शुरू में ऑस्ट्रेलिया में वनडे सीरीज में धौनी के शानदार प्रदर्शन के बाद चयनकर्ता प्रमुख को अपने सुर बदलने पड़े थे।

धौनी को अपने संन्यास पर खुल लेना होगा फैसला
एमएसके प्रसाद का कहना है कि धौनी अब पहले जैसे बल्लेबाज नहीं रह गए हैं और छठे या सातवें नंबर पर आने के बावजूद वह टीम को गति नहीं दे पा रहे हैं, जिसका टीम को नुकसान हुआ है। चयनकर्ता प्रमुख का मानना है कि धौनी को अपने संन्यास के बारे में अब खुद विचार कर लेना होगा, क्योंकि वह अगले साल होने वाले टी-20 विश्वकप के लिए चयनकर्ताओं की योजनाओं में नहीं है। उन्हें सम्मान के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देना चाहिए।

ऐसा है ICC टी-20 वर्ल्ड कप 2020 का शेड्यूल, जानें कब और कहां होंगे मैच

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:india vs windies Selectors to pick squad for West Indies tour on July 19 no clarity on ms dhoni future yet