DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विराट ने लिया रिचर्ड्स का इंटरव्यू, बाउंसर पर दोनों ने रखी अपनी बात

विराट ने तेज गेंदबाजों द्वारा बल्लेबाजों पर होने वाली बाउंसर्स की बौछार पर अपनी बात रखी। दूसरे एशेज टेस्ट में स्टीव स्मिथ को जोफ्रा आर्चर का बाउंसर गले पर लगने के बाद से इस पर बहस छिड़ी हुई है।

viv richards and virat kohli

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 1st टेस्ट मैच से पहले कहा कि वो बाउंसर गेंदों से घबराते नहीं हैं, बल्कि इससे उन्हें गेंदबाज के खिलाफ आक्रामक बल्लेबाजी करके दबाव बनाने की प्रेरणा मिलती है। टीम इंडिया इन दिनों वेस्टइंडीज के दौरे पर है और दोनों टीमों के बीच पहला टेस्ट मैच आज से खेला जाना है।

दुनिया के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज ने तेज गेंदबाजों द्वारा बल्लेबाजों पर होने वाली बाउंसर्स की बौछार पर अपनी बात रखी। दूसरे एशेज टेस्ट में स्टीव स्मिथ को जोफ्रा आर्चर का बाउंसर गले पर लगने के बाद से इस पर बहस छिड़ी हुई है। कोहली ने बीसीसीआई टीवी से कहा, 'मेरा हमेशा से मानना है कि शुरू में ही बाउंसर का सामना करना अच्छा है। इससे मुझे प्रेरणा मिलती है कि दोबारा ऐसा नहीं होने पाए। शरीर पर उस दर्द को महसूस करके लगता है कि ऐसा फिर नहीं होना चाहिए।'

1st Test: दोनों टीमों के प्लेइंग-XI से लेकर पिच और मौसम के मिजाज तक जानें सबकुछ

1st Test Match: विराट ने किया साफ- कौन करेगा टीम इंडिया के लिए पारी का आगाज

कोहली ने वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज विवियन रिचर्ड्स से बातचीत के दौरान कई सवाल पूछे। रिचर्ड्स ने इस मसले पर कहा, 'ये खेल का हिस्सा है। ये इस पर निर्भर करता है कि आप ऐसी चीजों से कितने बेहतर तरीके से उबरते हैं।' भारतीय कप्तान ने अपनी तरह आक्रामक रिचर्ड्स की तारीफों के पुल बांधे। उन्होंने कहा, 'हम सभी बल्लेबाजों के लिए प्रेरणास्रोत हैं सर विवियन रिचर्ड्स।' रिचर्ड्स ने कोहली से समानता के बारे में कहा, 'मैं हमेशा खुद को सर्वश्रेष्ठ तरीके से अभिव्यक्त करने में विश्वास करता था। मेरा और इसका जुनून समान है। कई बार लोग हमें अलग तरीके से देखते हैं और कहते हैं कि ये इतने गुस्से में क्यों रहते हैं।'

कोहली ने पूछा कि उस दौर में खतरनाक तेज गेंदबाजी के बावजूद वो हेलमेट क्यो नहीं पहनते थे, इस पर रिचर्ड्स ने कहा, 'मैं मर्द हूं। ये अहंकार से भरा लगेगा लेकिन मुझे लगता था कि मैं कैसा खेल खेल रहा हूं जो मैं जानता हूं। मैंने हर बार खुद पर भरोसा किया। आप चोटिल होने पर भी वो भरोसा नहीं छोड़ते।' उन्होंने कहा, 'मुझे हेलमेट असहज लगता था। मुझे मरून कैप पर गर्व था और मैं वही पहनता था। मुझे लगता था कि चोट लगने पर भी मैं बच जाऊंगा।'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:India vs West Indies test series I Believe I am The Man Viv Richards to Virat Kohli on Passion and Aggression