DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

INDvsWI:  क्या श्रेयस अय्यर ने कर दिया नंबर 4 की समस्या का समाधान?

India vs West Indies: मुंबई के इस युवा बल्लेबाज ने दो पारियों में 68 की औसत से 136 रन बनाए। यदि श्रेयस अय्यर अपनी यही फॉर्म जारी रखते हैं तो निश्चित रूप से वह नंबर 4 पोजिशन को भर सकते हैं।

 shreyas iyer  getty images

India vs West Indies, ODI Series: वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के अंतिम दो मैचों में श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने नंबर 4 और मध्यक्रम की समस्याओं का एक हल दिखाया है। मुंबई के इस युवा बल्लेबाज ने दो पारियों में 68 की औसत से 136 रन बनाए। यदि अय्यर अपनी यही फॉर्म जारी रखते हैं तो निश्चित रूप से वह नंबर 4 पोजिशन को भर सकते हैं। श्रेयस अय्यर ने दूसरे वनडे मैच में 71 और तीसरे वनडे में 5वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 41 गेंदों पर 65 रनों की पारी खेली। श्रेयस अय्यर की इस शानदार पारी के बाद कई दिग्गजों ने उन्हें नंबर 4 पर उतारने की सलाह दी है। 

वेस्टइंडीज के खिलाफ अंतिम दो वनडे मैचों में ऋषभ पंत चौथे और श्रेयस अय्यर 5वें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे। भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में एक बार फिर शून्य पर आउट हो गए। ऋषभ पंत ने विंडीज दौरे पर टी-20 और वनडे सीरीज में क्रमश: 0, 4, 65, 0, 20, 0 रन बनाए हैं। वहीं, दूसरी और श्रेयस अय्यर ने दो मैचों में ही खुद को साबित कर दिया है। ये 5 कारण हैं, जो श्रेयस अय्यर को चौथे नंबर का बेस्ट दावेदार बनाते हैं।

VIDEO: श्रेयस अय्यर बोले- चहल की पिटाई देख आया गुस्सा, इसलिए कैरिबियाई गेंदबाजों को धोया

मजबूत तकनीकः अब तक दाएं हाथ के इस युवा बल्लेबाज ने मजबूत तकनीक का प्रदर्शन किया है। भारतीय कप्तान विराट कोहली के साथ दोनों मैचों में उन्होंने अच्छी साझेदारियां की हैं। उन्होंने स्ट्राइक रोटेट की और जब जरूरत हुई अच्छे शॉट्स लगाए। वेस्टइंडीज के खिलाफ अंतिम दो वनडे में 24 साल के अय्यर ने लगातार दो अर्धशतक जड़े और कप्तान कोहली के साथ दूसरे और तीसरे वनडे में क्रमश: 125 और 120 रन की शतकीय साझेदारियां करके भारत को सीरीज 2-0 से जिताने में अहम भूमिका निभाई। श्रेयस अय्यर कहते हैं कि उन्हें मुश्किल हालात में बल्लेबाजी करना पसंद है, जब ड्रेसिंग रूम नर्वस होता है। हालांकि, अभी श्रेयस अय्यर को बहुत कुछ साबित करना है। 

गियर बदलने की क्षमताः श्रेयस अय्यर ने यह दिखाया है कि वह परिस्थितियों के अनुसार गियर बदल सकते हैं। जब जरूरत होती है वह बड़े हिट लगाते हैं। वह बड़ी सहजता से अपने खेल को चेंज कर लेते हैं। तीसरे वनडे में दिल्ली के कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने 41 गेंदों पर 65 रन की पारी खेली। इसमें 4 चौके और 3 छक्के शामिंल हैं। 24 वर्षीय अय्यर पावर के बजाय अपनी टाइमिंग पर यकीन करते हैं। 

कंसीस्टेंसीः श्रेयस अय्यर ने सात वनडे मैचों में 4 अर्द्धशतक लगाए हैं। हालांकि, अभी उन्हें मिस्टर कंसीस्टेंट कहना जल्दबाजी होगी। लेकिन उन्होंने इसकी झलक जरूर दिखाई है। अय्यर घरेलू क्रिकेट में भी अपनी उपयोगिता साबित कर चुके हैं। उन्होंने 74 लिस्ट ए के मैचों में 43.67 की औसत से 2920 रन बनाए हैं। फर्स्ट क्लास मैचों में उनका औसत 52.18 है। 

श्रेयस अय्यर को मिली विराट कोहली से तारीफ, कहा- ऐसे खेले तो मध्यक्रम में स्थान पक्का

ऋषभ पंत से ज्यादा परिपक्व बल्लेबाजी: टीम प्रंबंधन ऋषभ पंत को लगातार नंबर 4 के लिए प्रमोट कर रहा है। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कई मौकों पर अच्छा खेल दिखाया है। लेकिन अय्यर तकनीक और धैर्य के मामले में उनसे बेहतर दिखाई पड़ते हैं। अय्यर लंबी पारी खेलने की क्षमता रखते हैं। अंतिम दोनों वनडे में अय्यर ने विराट कोहली के साथ ये टेंपरामेंट दिखाया है। 

कोहली ने भी की अय्यर की तारीफ: श्रेयस अय्यर के बारे में कहा जा रहा है कि यदि वह विश्व कप टीम में होते तो शायद परिणाम कुछ और होता। अय्यर नंबर 5 पर बल्लेबाजी करते हुए वह नंबर 4 की पोजिशन पर खेलते हुए लंबी पारी खेल सकते हैं। वह प्रेशर को बेहतर ढंग से हैंडल करते हैं। श्रेयस अय्यर ने निसंदेह नंबर चार की पोजिशन के लिए अपना मजबूत दावा पेश किया है। विराट कोहली को भी लग रहा है कि श्रेयस अय्यर के टीम में आने से उनकी समस्या सुलझ सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:india vs west indies 2019 Has Shreyas Iyer solved team india number 4 problem know about facts