DA Image
28 जनवरी, 2020|10:27|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

INDvsSA: टी-20 वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया को इन कमियों को करना होगा दूर

भारत को टी-20 वर्ल्ड कप से पहले कई टी-20 मैच खेलने हैं। ऐसे में यही मौका है, जब भारत अपनी तैयारियों को पुख्ता कर सकता है।

rohit sharma  shikhar dhawan ap

India vs South Africa, 1st T20 at Dharamshala: टीम इंडिया के प्रमुख कोच रवि शास्त्री ने ऑस्ट्रेलिया में अगले साल होने वाले टी-20 वर्ल्ड को अपनी सबसे बड़ा लक्ष्य बताया है। उन्होंने यह भी कहा कि वह टी-20 में युवा चेहरों को शामिल करने के पक्ष में हैं। ताकि भविष्य की टीम तैयार हो सके। पिछले माह ही भारत ने वेस्टइंडीज से टी-20 सीरीज जीती है। इसके बावजूद कुछ चीजें हैं, जिन पर टीम को ध्यान देना चाहिए। शास्त्री ने कहा कि टीम प्रबंधन को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ कुछ नए प्रयोग करने चाहिए, ताकि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले वर्ल्ड कप की तैयारियां हो सकें।

आज (15 सितंबर) को भारत धर्मशाला में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहला टी-20 मैच खेलेगा। इसके बाद दो और टी-20 मैच भी खेले जाने हैं। इसके बाद भारत को टी-20 वर्ल्ड कप से पहले कई टी-20 मैच खेलने हैं। ऐसे में यही मौका है, जब भारत अपनी तैयारियों को पुख्ता कर सकता है। ऐसे में टीम इंडिया इन कमजोरियों पर पार पानी होगी। 

INDvsSA: धर्मशाला में रोहित शर्मा के निशाने पर होगा ये रिकॉर्ड

ओपनिंग के और विकल्प तलाशने की जरूरत
शिखर धवन और रोहित शर्मा वनडे के शानदार ओपनर हैं लेकिन यही बात टी-20 के लिए नहीं कही जा सकती। बेशक दोनों अनुभवी है लेकिन पहले गेंद से आक्रमण करने की रणनीति बनानी होगी ताकि शुरू के ओवरों में ही विपक्षी टीम पर दबाव बनाया जा सके। शास्त्री एंड कंपनी के लिए कुछ नए कॉम्बिनेशन अपनाने का अवसर होगा। रोहित के साथ किसी दूसरे जोड़ीदार को अपनाया जा सकता है। ऐसा इसलिए भी जरूरी है, ताकि किसी खिलाड़ी के चोटिल होने की स्थिति में अचानक कोई दुविधा ना हो। साथ ही मिडिल ऑर्डर भी ना बिगड़े, जैसा की आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के दौरान शिखर धवन के चोटिल होने के बाद हुआ था।

मिडिल ओवरों में विकेट लेने वाला गेंदबाज
जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार के रूप में टीम के पास दो बेहतरीन गेंदबाज हैं। ये दोनों टीम को अच्छी शुरुआत देते हैं, लेकिन इसके बाद विपक्षी टीम को संभलने का मौका मिल जाता है। खासतौर पर मिडिल ओवरों में। लिहाजा चयनकर्ताओं और प्रंबंधन को ऐसे गेंदबाज तलाशने होंगे जो मिडिल ओवरों में विकेट निकाल सकें। ये रिस्ट स्पिनर भी हो सकते हैं। लेकिन कप्तान और कोच को मैच विनर खिलाड़ी तलाशने होंगे।

INDvsSA, 1st T20: जानिए कब और कहां देख सकते हैं पहले टी-20 मैच की लाइव स्ट्रीमिंग और लाइव टेलिकास्ट

ताकतवर फिनिशर
महेंद्र सिंह धौनी टीम का हिस्सा नहीं होंगे। ऋषभ पंत ने भी भी अपनी चमक अभी तक नहीं दिखाई है। हार्दिक पांड्या की टीम में वापसी होगी, लेकिन फिनिशर कौन होगा इस पर नजर रखनी होगी। अंतिम कुछ ओवरों में तेजी से रन बनाने वाला ही इस भूमिका को निभा सकता है। भारत ने डेथ ओवरों में विश्व कप में भी संघर्ष किया था। इससे टीम इंडिया को उबरना होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:india vs south africa team India will have to overcome these weaknesses before icc T20 World Cup