Sunday, January 16, 2022
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेट केप टाउन टेस्ट में DRS पर मचे बवाल के बाद क्या टीम इंडिया पर लगेगा जुर्माना?

केप टाउन टेस्ट में DRS पर मचे बवाल के बाद क्या टीम इंडिया पर लगेगा जुर्माना?

लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीDheeraj Pal
Fri, 14 Jan 2022 10:15 PM
 केप टाउन टेस्ट में DRS पर मचे बवाल के बाद क्या टीम इंडिया पर लगेगा जुर्माना?

भारत और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केप टाउन टेस्ट के दौरान DRS विवाद के बाद से सवाल उठ रहें है कि क्या भारतीय टीम पर जुर्माना लगेगा? तो इसका जवाब है नहीं। ताजा मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केप टाउन टेस्ट में DRS विवाद पर भारतीय टीम को किसी भी औपचारिक शुल्क का सामना नहीं करना पड़ेगा।

क्रिकट्रैकर ने ESPNcricinfo के हवाले से बताया कि मैच अधिकारियों की भारतीय टीम प्रबंधन से आचार संहिता को लेकर बात हुई थी। भारतीय कप्तान विराट कोहली भी बातचीत का हिस्सा थे। सौभाग्य से मेहमान टीम के लिए उनके किसी भी खिलाड़ी के खिलाफ कोई आरोप नहीं लगाया गया।

DRS विवाद ने क्या कहा

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने डीआरएस का विवादित फैसला डीन एल्गर के पक्ष में जाने के बाद प्रसारकों के खिलाफ अपनी टीम के मौखिक हमले का बचाव करते हुए शुक्रवार को कहा कि बाहर बैठे लोग मैदान पर इस तरह के व्यवहार के कारणों को नहीं जानते। कोहली और उनके साथियों ने तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन अंतिम 45 मिनट के दौरान तब अपना आपा खो दिया जब दक्षिण अफ्रीका के कप्तान डीन एल्गर को विवादास्पद डीआरएस फैसले के कारण क्रीज पर टिके रहे। भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी निराशा स्टंप माइक पर व्यक्त की।

कोहली ने शुक्रवार को यहां मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ''मुझे इस पर कोई टिप्पणी नहीं करनी है। हम जानते हैं कि मैदान पर क्या हुआ और बाहर बैठे लोगों को पता नहीं होता है कि मैदान पर क्या चल रहा है।'' उन्होंने कहा, ''मेरे लिए मैदान पर हमने जो कुछ किया उसे सही ठहराने की कोशिश करना और यह कहना कि हम भावनाओं में बह गये....।'' कोहली ने वाक्य पूरा नहीं किया। कोहली ने कहा, ''अगर हम वहां पर हावी हो जाते और तीन विकेट लेते तो  संभवत: वह क्षण खेल की दिशा बदल देता।'' 

21वें ओवर में घटी घटना

यह घटना 21वें ओवर में घटी जबकि रविचंद्रन अश्विन की उछाल लेती गेंद सीधे एल्गर के पैड पर लगी। अंपायर मारियास इरासमस ने उंगली उठा दी लेकिन एल्गर ने डीआरएस लिया। रीप्ले से हालांकि पता चला कि गेंद विकेट के ऊपर से निकल रही थी और ऐसे में अंपायर को अपना फैसला बदलना पड़ा। इस पर भारतीय खिलाड़ियों ने अपनी निराशा खुलकर व्यक्त की।

वहीं, भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट के दौरान डीआरएस के फैसले के खिलाफ विराट कोहली की प्रतिक्रिया 'अपरिपक्व' थी और इतनी अतिरंजित प्रतिक्रया से भारतीय कप्तान कभी युवाओं के रोल मॉडल नहीं बन सकेंगे । 

कोहली, उपकप्तान केएल राहुल और आफ स्पिनर आर अश्विन ने विरोधी कप्तान डीन एल्गर को पगबाधा आउट नहीं देने के डीआरएस के विवादित फैसले के बाद अंपायरिंग और तकनीक को लेकर स्टम्प माइक पर अपमानजनक टिप्प्णियां की। गंभीर ने स्टार स्पोटर्स से कहा ,'' यह बहुत बुरा था । स्टम्प माइक के पास जाकर कोहली ने जिस तरह से प्रतिक्रिया दी, वह अपरिपक्व था। एक अंतरराष्ट्रीय कप्तान , एक भारतीय कप्तान से ऐसी उम्मीद नहीं की जा सकती।''

आस्ट्रेलिया दिग्गज शेन वार्न को लगता है कि गेंद स्टंप को लग रही थी। वार्न ने 'फॉक्स स्पोर्ट्स' से कहा, ''ऐसा लग रहा था कि गेंद बीच के स्टंप पर ऊपर की तरफ लग रही थी। ऐसा लग ही नहीं रहा था कि वह ऊपर से जा रही है। यहां तक (अंपायर मारियास) इरास्मस ने भी हैरानी में अपना सिर झटका था।'' 

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वान ने हालांकि भारतीय कप्तान की आलोचना की। वान ने 'फॉक्स स्पोर्ट्स' से कहा, ''मुझे लगता है कि यह भारतीयों की तरफ से शर्मनाक था। निर्णय आपके पक्ष में जाते हैं, आपके खिलाफ जाते हैं। निर्णय वैसे नहीं हो सकते जैसे आप चाहते हैं। विराट कोहली खेल के महान खिलाड़ी हैं, लेकिन इस तरह की प्रतिक्रिया सही नहीं है। टेस्ट मैच क्रिकेट में इस तरह का व्यवहार नहीं किया जाता।''

 केप टाउन टेस्ट में DRS पर मचे बवाल के बाद क्या टीम इंडिया पर लगेगा जुर्माना?
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें