DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  WTC फाइनल में रोहित शर्मा के साथ शुभमन गिल और मयंक अग्रवाल में से कौन करे पारी का आगाज? माइक हेसन ने दी अपनी राय
क्रिकेट

WTC फाइनल में रोहित शर्मा के साथ शुभमन गिल और मयंक अग्रवाल में से कौन करे पारी का आगाज? माइक हेसन ने दी अपनी राय

पीटीआई,नई दिल्लीPublished By: Namita Shukla
Wed, 09 Jun 2021 03:44 PM
WTC फाइनल में रोहित शर्मा के साथ शुभमन गिल और मयंक अग्रवाल में से कौन करे पारी का आगाज? माइक हेसन ने दी अपनी राय

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मैच में अब महज 9 दिन बचे हैं। 18 जून से साउथम्पटन में भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का ऐतिहासिक फाइनल मैच खेला जाना है। इस मैच में टीम इंडिया के लिए रोहित शर्मा के साथ पारी का आगाज कौन करेगा, इसको लेकर सस्पेंस बना हुआ है। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर खराब फॉर्म के बाद मयंक अग्रवाल की जगह शुभमन गिल को प्लेइंग XI में शामिल किया गया था। न्यूजीलैंड के कोच रह चुके माइक हेसन ने हालांकि भारतीय टीम मैनेजमेंट को सलाह दी है कि वह गिल की जगह मयंक अग्रवाल से पारी का आगाज करवाए।

उन्होंने इसके साथ ही कहा कि डब्ल्यूटीसी फाइनल से पहले इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैच खेलना न्यूजीलैंड के लिए वर्कलोड मैनेजमेंट का मुद्दा बन सकता है। भारत के लिए हाल में रोहित शर्मा और शुभमन गिल पारी का आगाज करते रहे हैं और हेसन को भी लगता है कि भारतीय टीम मैनेजमेंट इसमें बदलाव नहीं करेगा, लेकिन उनका मानना है कि मयंक अग्रवाल को मौका दिया जाना चाहिए। मयंक ने पिछले साल न्यूजीलैंड दौरे में दो टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाए थे। वह भारत की तरफ से अर्धशतक लगाने वाले चार बल्लेबाजों में शामिल थे।

दीपक चाहर के नए 'गजनी' लुक पर साक्षी धोनी का कमेंट हुआ वायरल

'मयंक को कीवी गेंदबाजों को खेलने का अनुभव है'

हेसन ने कहा, 'वे शायद रोहित और शुभमन के साथ उतरेंगे, लेकिन मुझे लगता है कि मयंक के नाम पर चर्चा होनी चाहिए। उसने न्यूजीलैंड में उसके आक्रमण का सामना किया है और उसके पास कीवी गेंदबाजों को खेलने का अच्छा अनुभव है।' भारत को कोविड-19 से जुड़े बैन के कारण 18 जून से साउथम्पटन में होने वाले डब्ल्यूटीसी फाइनल से पहले प्रैक्टिस का खास मौका नहीं मिला है। दूसरी तरफ न्यूजीलैंड की टीम इंग्लैंड के खिलाफ दो मैचों की सीरीज खेल रही है लेकिन हेसन ऐसा नहीं चाहते थे। उन्होंने कहा, 'यह (लगातार तीन टेस्ट मैच खेलना) मुद्दा हो सकता है। न्यूजीलैंड को अपने बॉलिंग अटैक पर गौर करना होगा और इसलिए शायद इस मैच (इंग्लैंड के खिलाफ गुरुवार से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट) में ट्रेंट बोल्ट खेलेगा।'

'मैच प्रैक्टिस का फायदा हमेशा मिलता है'

उन्होंने कहा, 'इससे अन्य तेज गेंदबाजों को आराम का मौका मिलेगा, क्योंकि हर टेस्ट मैच केवल चार दिन का अंतर है। ऐसे में बाकी गेंदबाजों का वर्कलोड मैनेजमेंट बड़ा मुद्दा है।' फाइनल से पहले भारत की तैयारियों के बारे में हेसन ने कहा, 'मैच प्रैक्टिस हमेशा उपयोगी होती है, लेकिन हर मैदान अलग तरह का होता है। साउथम्पटन मैदान के मामले में अनोखा है और इसलिए निश्चित तौर पर मैच प्रैक्टिस का फायदा मिलेगा।' उन्होंने कहा, 'लेकिन भारत बड़ी टीम लेकर आया है और वह टीम के बीच ही मैच खेल सकता है इसलिए मुझे लगता है कि मैच में इससे बहुत ज्यादा फर्क पड़ेगा।'

रविंद्र जडेजा का नाम आते ही बुरी तरह चिढ़े संजय मांजरेकर, कहा- उन्हें इंग्लिश नहीं आती

'अश्विन और जडेजा दोनों को मिले प्लेइंग XI में मौका'

यह मैच ड्यूक गेंदों से खेला जाएगा जिनसे अधिक स्विंग और मूवमेंट मिलता है, लेकिन हेसन का मानना है कि मैच आगे बढ़ने के साथ स्पि​नरों की भूमिका भी अहम होगी इसलिए भारत को तीन तेज गेंदबाजों के साथ रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा को भी प्लेइंग XI में रखना चाहिए। न्यूजीलैंड के मामले में वह कोलिन डि ग्रैंडहोम या मिशेल सैंटनर के साथ चार तेज गेंदबाजों को टीम में रखना पसंद करेंगे। हेसन ने कहा, 'वे (अश्विन और जडेजा) सच में भारत को अच्छा बैलेंस देते हैं। इसका मतलब है कि आपके पास पांच अहम गेंदबाज होंगे, जिससे आप दाएं हाथ के बल्लेबाजों और बाएं हाथ के बल्लेबाजों पर बराबरी से अटैक कर सकते हो। यह नहीं भूलना चाहिए कि न्यूजीलैंड की टीम में पांच बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं।'

हेसन को उम्मीद है कि ऋषभ पंत छठे नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे ​और अपना ऑस्ट्रेलिया वाला प्रदर्शन दोहराने में सफल रहेंगे। उन्होंने कहा, 'वह अब इंटरनेशनल क्रिकेट को बेहतर समझ चुका है और आत्मविश्वास से भरा है। इसलिए वह वैसा खेलने में सक्षम है जैसा वह चाहता है।'

संबंधित खबरें