फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटIndia vs England Test Series: जैक क्राउली ने बताया दूसरे टेस्ट में क्या होगी इंग्लैंड की रणनीति

India vs England Test Series: जैक क्राउली ने बताया दूसरे टेस्ट में क्या होगी इंग्लैंड की रणनीति

इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जैक क्राउली का मानना है कि इंग्लैंड की टीम ने जब से बैजबॉल रणनीति अपनाई है कुछ बैटर्स का प्रदर्शन पहले से बेहतर हो गया है। उन्होंने बुमराह की भी जमकर तारीफ की।

India vs England Test Series: जैक क्राउली ने बताया दूसरे टेस्ट में क्या होगी इंग्लैंड की रणनीति
Namita Shuklaभाषा,विशाखापट्टनमWed, 31 Jan 2024 05:42 PM
ऐप पर पढ़ें

India vs England Test Series: इंग्लैंड क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज जैक क्राउली ने विशाखापट्टनम में शुरू होने वाले पांच मैचों की सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच से दो दिन पहले कहा कि बैजबॉल रणनीति अपनाने से उनकी टीम के ज्यादातर खिलाड़ी पहले से बेहतर हो गए हैं। टेस्ट क्रिकेट हमेशा से आराम से धैर्य से बैटिंग करने के लिए जाना गया है, लेकिन इंग्लैंड ने पिछले कुछ समय में इस ट्रेंड को बदला है और आक्रामक बैटिंग कर विरोधी टीम पर दबाव बनाने की रणनीति को अपनाया है। क्राउली का मानना है कि टीम के ज्यादातर खिलाड़ियों को यह रणनीति ज्यादा सूट करती है। इंग्लैंड ने हैदराबाद में पहले टेस्ट में पहली पारी में 190 रन से पिछड़ने के बावजूद भारत को 28 रन से हराया जो लड़ने के टीम के जज्बे को दिखाता है और इससे टीम प्रबल दावेदार भारत को हराने में सफल रही।

न्यूजीलैंड के कोच ब्रेंडन मैक्कलम के मार्गदर्शन में 'बैजबॉल' रणनीति अपनाने के बाद से इंग्लैंड ने अब तक कोई टेस्ट सीरीज नहीं गंवाई है। क्राउली ने शुक्रवार से यहां शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट से पहले प्रेस कॉन्फ्रेन्स में कहा, 'मुझे लगता है कि यह (बैजबॉल) हमारे अंदर नैचुरल रूप से आता है क्योंकि हमारी कई टीम अधिक आक्रामक होकर खेलती हैं। जब मैं पहली बार इंग्लैंड टीम में आया तो समय लेकर लंबी पारी खेलने की मानसिकता थी और मुझे नहीं लगता है कि मैं और कुछ अन्य प्राकृतिक रूप से ऐसे हैं।'

इंग्लिश स्पिनर की चोट ने बढ़ाई स्टोक्स की टेंशन, कौन लेगा उसकी जगह?

उन्होंने कहा, 'हमारे में से काफी खिलाड़ी इस रवैये के तहत थोड़ा बेहतर खेलते हैं।' दूसरी तरफ भारत ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा और टॉप ऑर्डर बैटर लोकेश राहुल के चोटिल होने के बाद चयन संकट से जूझ रहा है जबकि उसे हैदराबाद में अपने खराब प्रदर्शन का जवाब भी ढूंढना है। मेजबान टीम पहले ही स्टार बल्लेबाज विराट कोहली के बिना खेल रही है, जिन्होंने निजी कारणों से शुरुआती दो टेस्ट से बाहर रहने का फैसला किया।

'हमारा ध्यान अपनी तैयारियों पर'

यह पूछने कि यह इंग्लैंड की टीम के लिए क्या मायने रखता है, क्राउली ने कहा कि उनकी टीम का ध्यान अपने प्रदर्शन और प्लान पर अधिक है। उन्होंने कहा, 'हमने इस बारे में बात नहीं की है। यह रटा-रटाया लगता है लेकिन हम खुद पर ध्यान देते हैं। हमें इससे फर्क नहीं पड़ता कि वे क्या कर रहे हैं।' जडेजा और राहुल के नहीं खेलने पर क्राउली ने कहा, 'दो बहुत अच्छे खिलाड़ी नहीं खेल रहे लेकिन उनके विकल्पों को देखते हुए मुझे यकीन है कि दो बहुत अच्छे खिलाड़ी आ रहे हैं। इसलिए हमारे लिए चीजें बहुत अधिक नहीं बदलेंगी।'

विराट के भाई की पोस्ट वायरल, लिखा- एक बात साफ कर दूं हमारी मां एकदम...

भारत ने दोनों चोटिल खिलाड़ियों की जगह सरफराज खान, वॉशिंगटन सुंदर और सौरभ कुमार को टीम में शामिल किया है। मेजबान टीम के पास घरेलू क्रिकेट के अनुभवी खिलाड़ी रजत पाटीदार को खिलाने का विकल्प भी है। हैदराबाद में स्पिन की अनुकूल परिस्थितियों में हार के बाद शुक्रवार से यहां शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट के लिए मेजबान द्वारा तैयार किए जाने वाले विकेटों की संभावित प्रकृति को लेकर काफी चर्चा हो रही है। क्राउली ने हालांकि कहा कि यह चिंता की बात नहीं है।

उन्होंने कहा, 'भारत अपनी परिस्थितियों में टॉप टीम है। चार मैच बचे हैं, हमने जो अच्छा किया उस पर कायम रहना होगा और उम्मीद करते हैं कि नतीजे मिलेंगे।' भारत में सीरीज की तैयारी के लिए इंग्लैंड ने अबु धाबी में ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा लिया और क्राउली का मानना है कि ट्रेनिंग कैंप से उन्हें फायदा मिला जबकि कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने भारत जल्दी नहीं आने के लिए टीम की आलोचना की थी। क्राउली ने कहा, 'हम ऐसा ही चाहते थे। अबु धाबी में विकेट काफी टर्न कर रहीं थी क्योंकि हम ऐसा चाहते थे।'

'हमारी रणनीति पहले से तय'

पहले टेस्ट में 196 रन की यादगार पारी के दौरान ओली पोप ने स्पिनरों के खिलाफ स्वीप शॉट का शानदार तरीके से इस्तेमाल किया और क्राउली ने कहा कि यह उनकी काफी सोच-विचार के साथ तैयार की गई रणनीति का हिस्सा था। उन्होंने कहा, 'मुझे लगता है कि जब गेंद स्पिन हो रही होती है तो स्वीप और रिवर्स स्वीप अच्छा विकल्प होता है। मुझे लगतार है कि हमारे लिए रिवर्स स्वीप अधिक सामान्य है क्योंकि इस शॉट के लिए कम फील्डर होते हैं।'

क्राउली ने की बुमराह की जमकर तारीफ

इंग्लैंड के इकलौते तेज गेंदबाज मार्क वुड को हैदराबाद में कोई सफलता नहीं मिली जबकि भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने दूसरी पारी में 41 रन पर चार विकेट सहित मैच में छह विकेट चटकाए। क्राउली ने भारतीय स्टार की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, 'वह शानदार गेंदबाज है। मुझे लगता है कि वह भारत में थोड़ी फुल लेंथ और यॉर्कर डालता है। उनके पास अविश्वसनीय तेज गेंदबाजी आक्रमण है जिसे आप हल्के में नहीं ले सकते।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें