DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  शार्दुल ठाकुर की शानदार बॉलिंग से लेकर केएल राहुल की दमदार वापसी तक, जानें वनडे सीरीज की 5 बड़ी बातें

शार्दुल ठाकुर की शानदार बॉलिंग से लेकर केएल राहुल की दमदार वापसी तक, जानें वनडे सीरीज की 5 बड़ी बातें

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Mohan Kumar
Mon, 29 Mar 2021 05:39 AM
भारत ने 2-1 से किया वनडे सीरीज पर कब्जा
1/6

भारत ने 2-1 से किया वनडे सीरीज पर कब्जा

भारत ने रविवार को खेले गए वनडे सीरीज के तीसरे और निर्णायक मैच में इंग्लैंड को 7 रन से हरा दिया। इसके साथ ही टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट और टी-20 इंटरनेशनल के बाद वनडे सीरीज पर भी कब्जा कर लिया। भारत ने पहले खेलते हुए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन, विकेटकीपर ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या ने अर्धशतक के दम पर 329 रन बनाए। इंग्लैंड की ओर से तेज गेंदबाज मार्क वुड ने सर्वाधिक तीन विकेट अपने नाम किए। भारत से मिले 330 रनों के लक्ष्य के जवाब में इंग्लैंड की शुरुआत खराब रही और टीम ने दोनों सलामी बल्लेबाजों के विकेट 28 रनों पर ही गिरा दिए। आखिरी के ओवर में सैम करने ने अकेले दम पर टीम को जिताने का पूरा प्रयास किया, लेकिन वे कामयाब नहीं हो सके। इंग्लैंड अपने निर्धारित ओवरों में 322 रन ही बना सकी और सात रन से मैच हार गई। आइए नजर डालते हैं वनडे सीरीज की पांच बड़ी बातों पर-
 

शार्दुल ठाकुर की अहम मौकों पर शानदार गेंदबाजी
2/6

शार्दुल ठाकुर की अहम मौकों पर शानदार गेंदबाजी

ऑस्ट्रेलियाई दौरे से ही शानदार फॉर्म में चल रहे तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने लिमिटेड ओवर सीरीज में अपनी उपयोगिता को जमकर दिखाया। उन्होंने पहले टी-20 सीरीज और बाद में वनडे सीरीज में गेंद के अलावा बल्ले से भी कमाल का प्रदर्शन किया। पूरी सीरीज के दौरान जब भी विराट कोहली को विकेट की जरूरत थी, शार्दुल ने कप्तान को निराश न करते हुए ज्यादातर मौकों पर टीम को सफलता दिलाई। उन्होंने पूरी सीरीज में भुवनेश्वर कुमार, आदिल रशीद, मार्क वुड और बेन स्टोक्स जैसे धुरंधर गेंदबाजों की मौजूदगी के बावजूद सबसे ज्यादा सात विकेट झटके। इस दौरान उन्होंने तीसरे मैच में अपने करियर का सबसे बेस्ट प्रदर्शन किया। उनके बाद वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट भुवनेश्वर कुमार(6) ने लिए।

केएल राहुल की जोरदार वापसी
3/6

केएल राहुल की जोरदार वापसी

इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज में बुरी तरह फ्लॉप रहे केएल राहुल ने वनडे सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने कप्तान विराट कोहली की उम्मीदों पर खरा उतरते हुए तीन मैचों की इस सीरीज में भारत की तरफ से सर्वाधिक 177 रन बनाए। इसमें एक शतक भी शामिल रहा, जो उन्होंने दूसरे मैच में बनाया। हालांकि यह शतक टीम के काम नहीं आ सका और टीम को इंग्लैंड के हाथों छह विकेट से हार का सामना करना पड़ा। आईपीएल 2020 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले केएल राहुल ने इंग्लैंड के खिलाफ इस पूरी सीरीज में 88.50 की शानदार औसत से रन बनाए। इस दौरान उनके बल्ले से 11 चौके और छह छक्के निकले।

विराट का पूरी सीरीज में एक बार भी टॉस नहीं जीतना
4/6

विराट का पूरी सीरीज में एक बार भी टॉस नहीं जीतना

टॉस के मामले में भारतीय कप्तान विराट कोहली के लिए वनडे सीरीज ही नहीं, बल्कि इंग्लैंड का पूरा भारत दौरा अनलकी साबित हुआ। विराट ने इस दौरान 12 में से 10 मैचों में टॉस गंवाया और मात्र दो में इसे जीत सके। रविवार को जब विराट ने एक बार फिर टॉस गंवाया तो यह लगातार छठा मौका था, जब वह इंग्लैंड के खिलाफ टॉस जीत नहीं पाए। तीसरे मैच में टॉस हारने पर विराट ने कहा कि, 'यह अब पूरी तरह मेरे बस से बाहर है। मैं अगर टॉस जीतता तो पहले गेंदबाजी करना ही पसंद करता।

कृष्णा-क्रुणाल का डेब्यू मैच में यादगार प्रदर्शन
5/6

कृष्णा-क्रुणाल का डेब्यू मैच में यादगार प्रदर्शन

भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ जब वनडे सीरीज का पहला मैच खेला तो इस मैच में टीम की तरफ से दो नए खिलाड़ियों क्रुणाल पांड्या और प्रसिद्ध कृष्णा ने वनडे करियर का आगाज किया। दोनों ने अपने पहले ही मैच में ऐसा प्रदर्शन किया, जिसे लंबे समय तक याद रखा जाएगा। सबसे पहले बात करें क्रुणाल की तो उन्होंने बल्लेबाजी का मौका मिलने पर टीम की तरफ से 58 रनों की नाबाद पारी खेली। क्रुणाल ने इस दौरान 26 गेंदों पर पचासा जड़ा और डेब्यू मैच में सबसे तेज पचासा जड़ने का वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। वहीं प्रसिद्ध कृष्णा की बात करें तो उन्होंने शुरुआत में पिटने के बाद इंग्लैंड के चार बल्लेबाजों के विकेट चटकाए, जो डेब्यू मैच में किसी भारतीय गेंदबाज के सबसे ज्यादा विकेट हैं।

जॉनी बेयरस्टो का संघर्ष नहीं आया काम
6/6

जॉनी बेयरस्टो का संघर्ष नहीं आया काम

इंग्लैंड बेशक इस मैच में और वनडे सीरीज में हार गया हो, लेकिन उनकी तरफ से टीम को जिताने में सलामी बल्लेबाजी जॉनी बेयरस्टो ने कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने पूरी सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया और एक बेहतरीन शतक भी जड़ा। बेयरस्टो के बल्ले से इस दौरान तीन मैचों में 73 की शानदार औसत से 219 रन निकले। वे इस सीरीज में 200 से ज्यादा रन बनाने वाले पहले और एकमात्र बल्लेबाज हैं। उन्होंने वनडे सीरीज के दूसरे मैच में भारत से मिले 337 रनों के लक्ष्य को बौना साबित करते हुए 124 रनों की आकर्षक पारी खेली। इस दौरान उन्होंने ओपनिंग में जेसन रॉय के साथ 110 रनों बेहतरीन साझेदारी की और फिर ऑलराउंडर बेन स्टोक्स के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 175 रनों की मैराथन पार्टनरशिप करके टीम इंडिया को पूरी तरह से मैच से बाहर कर दिया।  

संबंधित खबरें