DA Image
हिंदी न्यूज़ › क्रिकेट › India vs England: रोहित शर्मा बोले- T20 वर्ल्डकप से लेना-देना नहीं, सीरीज जीतने पर फोकस
क्रिकेट

India vs England: रोहित शर्मा बोले- T20 वर्ल्डकप से लेना-देना नहीं, सीरीज जीतने पर फोकस

लाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Hemraj Chauhan
Wed, 10 Mar 2021 09:22 PM
India vs England: रोहित शर्मा बोले- T20 वर्ल्डकप से लेना-देना नहीं, सीरीज जीतने पर फोकस

सीमित ओवरों के फॉर्मेट में भारत के उप कप्तान रोहित शर्मा ने बुधवार को कहा कि भारत  इंग्लैंड के खिलाफ आगामी पांच मैचों की ट्वेंटी-20 सीरीज को साल के आखिरी में भारत में होने वाले आईसीसी ट्वेंटी-20 वर्ल्ड कप के ड्रेस रिहर्सल के रूप में नहीं देख रहा है। टीम का पूरा फोकस जीत पर है। भारत ने सीरीज के लिए कुछ नये चेहरों को टीम में चुना है जबकि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को आराम दिया गया है क्योंकि टीम वर्ल्ड कप की तैयारियों में जुटी है। 
 
रोहित ने शुक्रवार को होने वाले मैच से पहले कहा, ''हम इसे किसी तरह की रिहर्सल के तौर पर नहीं देखेंगे। हम इतने आगे के बारे में नहीं सोच रहे हैं और केवल सीरीज जीतने पर ध्यान दे रहे हैं।  अगर फोकस वर्तमान पर रहेगा तो भविष्य में स्वयं ही इसका फायदा मिलेगा। यह लंबी सीरीज है और यह देखना महत्वपूर्ण है कि एक टीम और खिलाड़ी के रूप में हम किस स्थिति में हैं। रोहित के साथ केएल राहुल और शिखर धवन में से कौन पारी का आगाज करेगा,  इस बारे में रोहित ने कहा  कि हम अपने कॉम्बिनेशन का खुलासा नहीं कर सकते हैं। हमें शुक्रवार तक इंतजार करना होगा। 

क्या हार्दिक पांड्या करेगे बॉलिंग, जानिए रोहित शर्मा का जवाब

रोहित ने कहा कि उनकी भूमिका नहीं बदलेगी और वह जैसी बल्लेबाजी करते थे वैसे ही करेंगे। अगर हम पहले बल्लेबाजी करते हैं तो यह टीम को अच्छी शुरुआत दिलाने से जुड़ा है। मेरे लिये कुछ नहीं बदला है। लक्ष्य का पीछा करते हुए रवैया वही रहेगा लेकिन मानसिकता बदल जाएगी क्योंकि आपको कई चीजों का आकलन करना होता है।

रोहित ने इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट में 144 गेंदों पर 49 रन बनाए थे, इस पर उन्होंने कहा कि यह परिस्थितियों के अनुरूप था।  उन्होंने आगे कहा कि मैंने केवल 49 रन बनाये लेकिन लगभग 150 गेंदें खेली। निजी तौर पर यह मेरे लिये बड़ी जीत थी। वे बाहर गेंद कर रहे थे और मुझे शॉट खेलने के लिये लुभाया जा रहा था लेकिन मैंने अपनी प्रकृति के विपरीत बल्लेबाजी की। मैंने खुद पर नियंत्रण रखा। यह वास्तव में मेरे लिये संतोषजनक था। 

संबंधित खबरें