फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटमैन ऑफ द मैच बने रविंद्र जडेजा ने बीवी को क्यों डेडिकेट किया अवॉर्ड, बोले- मेरे पीछे उसने कड़ी मेहनत की है

मैन ऑफ द मैच बने रविंद्र जडेजा ने बीवी को क्यों डेडिकेट किया अवॉर्ड, बोले- मेरे पीछे उसने कड़ी मेहनत की है

टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा ने राजकोट टेस्ट मैच में शतक भी लगाया और पांच विकेट भी चटकाए। पहली पारी में बैटिंग करते हुए उन्होंने शतक ठोका और दूसरी पारी में पांच विकेट चटकाए।

मैन ऑफ द मैच बने रविंद्र जडेजा ने बीवी को क्यों डेडिकेट किया अवॉर्ड, बोले- मेरे पीछे उसने कड़ी मेहनत की है
Namita Shuklaलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 19 Feb 2024 01:30 PM
ऐप पर पढ़ें

India vs England पांच मैचों की सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में भारत की जीत में कप्तान रोहित शर्मा, रविंद्र जडेजा, यशस्वी जायसवाल, सरफराज खान और मोहम्मद सिराज सबका ही अहम योगदान रहा। यही वजह है कि राजकोट में खेले गए सीरीज के तीसरे टेस्ट में प्लेयर ऑफ द मैच चुनना इतना आसान काम नहीं था। भारत की ओर से पहली पारी में बैटिंग के दौरान शतक लगाने वाले और इंग्लैंड को दूसरी पारी में 122 रनों पर समेटने में अहम भूमिका निभाते हुए पांच विकेट चटकाने वाले रविंद्र जडेजा को मैन ऑफ द मैच चुना गया। रविंद्र जडेजा के लिए यह अवॉर्ड कई मायनों में बहुत खास है। सीरीज के पहले टेस्ट मैच के दौरान जडेजा चोटिल हो गए थे और दूसरे टेस्ट में नहीं खेल पाए थे। राजकोट टेस्ट उनके लिए कमबैक टेस्ट था, साथ ही यह उनके होमग्राउंड पर भी खेला जा रहा था। राजकोट टेस्ट मैच से पहले रविंद्र जडेजा के पिता का एक इंटरव्यू काफी वायरल हो गया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि रविंद्र जडेजा शादी के बाद बदल गए और पत्नी रिवाबा के आने के बाद से उनके रिश्ते बेटे के साथ खराब हो गए।

इस इंटरव्यू के बाद जडेजा ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट भी डाली थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि इस तरह के सभी आरोप झूठे हैं। इन सब बातों के बीच भी जडेजा के प्रदर्शन पर कोई असर नहीं पड़ा और उन्होंने अपने होम ग्राउंड पर धमाकेदार बैटिंग और बॉलिंग कर टीम इंडिया की जीत की नींव रखी। राजकोट टेस्ट में जब भारतीय टीम पहली पारी में बैटिंग करने उतरी, तो 33 रनों तक तीन विकेट गिर चुके थे। रविंद्र जडेजा को बैटिंग ऑर्डर में प्रमोशन मिला और उन्होंने इसका पूरा फायदा भी उठाया।

बीसीसीआई टीवी ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें कप्तान रोहित शर्मा से लेकर शुभमन गिल, बैटिंग कोच विक्रम राठौर सबने बताया है कि मैच का टर्निंग पॉइंट क्या रहा। इस वीडियो में रविंद्र जडेजा ने अपने मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड को लेकर कहा, 'एक टेस्ट मैच में शतक और पांच विकेट चटकाना खास है और अपने होम ग्राउंड पर टेस्ट जीतना भी बहुत खास है। मैं यह प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड अपनी पत्नी को डेडिकेट करना चाहूंगा। उसने मेरे पीछे मेंटली काफी कड़ी मेहनत की है और साथ ही उसने मुझे बहुत कॉन्फिडेंस भी दिया है।'

'रूट का शॉट टर्निंग पॉइंट था, पर मैं उनसे कुछ बोलने वाला कौन होता हूं'

रोहित से लेकर गिल तक...भारतीय टीम ने बताया 3rd टेस्ट का टर्निंग पॉइंट

रविंद्र जडेजा और रोहित शर्मा दोनों ने पहली पारी में शतक लगाया। भारत ने पहली पारी में 445 रन बनाए, जवाब में इंग्लैंड ने पहली पारी में 319 रन बनाए। रविंद्र जडेजा ने पहली पारी में दो विकेट चटकाए। इसके बाद भारत ने दूसरी पारी चार विकेट पर 430 रनों पर घोषित कर दी। दूसरी पारी में रविंद्र जडेजा को बैटिंग का मौका नहीं मिला। जिसकी कसर उन्होंने गेंदबाजी में निकाल ली। रविंद्र जडेजा ने दूसरी पारी में 12.4 ओवर में 41 रन देकर पांच विकेट चटकाए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें