फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News क्रिकेटIND vs AUS: चेतेश्वर पुजारा की बैटिंग की आलोचना करते हुए एलेन बाॅर्डर ने क्या कुछ कहा

IND vs AUS: चेतेश्वर पुजारा की बैटिंग की आलोचना करते हुए एलेन बाॅर्डर ने क्या कुछ कहा

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एलेन बाॅर्डर ने शनिवार को तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन भारतीय बल्लेबाजी रणनीति की आलोचना की और कहा कि चेतेश्वर पुजारा शॉट खेलने में डरे हुए थे और ऐसा लग रहा था कि वह रन बनाने के...

IND vs AUS: चेतेश्वर पुजारा की बैटिंग की आलोचना करते हुए एलेन बाॅर्डर ने क्या कुछ कहा
pujara photo- social media
न्यूज़ एजेंसी,सिडनीSat, 09 Jan 2021 07:31 PM
ऐप पर पढ़ें

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एलेन बाॅर्डर ने शनिवार को तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन भारतीय बल्लेबाजी रणनीति की आलोचना की और कहा कि चेतेश्वर पुजारा शॉट खेलने में डरे हुए थे और ऐसा लग रहा था कि वह रन बनाने के बजाए क्रीज पर टिके रहने के लिए खेल रहे थे। वहीं रिकी पोंटिंग ने भी पुजारा की बैटिंग की आलोचना की है। 

'दो बार 100 MPH की स्पीड से गेंद फेंकी लेकिन ICC ने नहीं माना'

बाॅर्डर ने 'फाक्सस्पोर्ट्स डॉट कॉम डॉट एयू' से कहा, 'वह (पुजारा) शॉट खेलने के लिये बिलकुल डरा हुआ लग रहा है, क्या ऐसा नहीं है? वह रन जुटाने के बजाय अपना विकेट बचाए  रखने के लिये खेल रहा है।' उन्होंने कहा, 'इस सीरीज में उसका ज्यादा प्रभाव नहीं रहा है, उसने अपने रन जुटाने में इतना लंबा समय लिया, ऐसा लग रहा है कि वह क्रीज पर स्थिर हो गया है और इसका भारतीय बल्लेबाजी पर असर पड़ा। वे ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजी पर हावी होते नहीं दिखे।'

IPL 2021: जानें नीलामी से पहले किस टीम के पास बचा है कितना पैसा 

बाॅर्डर ने कहा, ''श्रेय गेंदबाजी को दिया जाना चाहिए जो काफी अच्छी रही और ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें कभी भी दबाव से बाहर नहीं निकलने दिया। आधी जंग तो यही है, गेंदबाजों को विकेट लेने में काफी मुश्किल हो रही थी लेकिन अगर स्कोरबोर्ड ही नहीं बढ़ रहा तो अंत में यह आपका इनाम ही है।' पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने भी पुजारा की बल्लेबाजी की आलोचना की और कहा कि 'उन्हें अपनी स्कोरिंग गति में थोड़ा तेज होना चाहिए था क्योंकि मुझे लगता है कि इससे उनके बल्लेबाजी जोड़ीदारों पर ज्यादा ही दबाव पड़ रहा था।' 

सिराज-बुमराह को दी गईं भद्दी गालियां, टीम मैनेजमेंट ने की शिकायत

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई आल राउंडर टॉम मूडी का हालांकि मानना है कि पुजारा अपना नैसर्गिक खेल खेल रहे थे और स्कोरबोर्ड को चलायमान रखने की जिम्मेदारी कप्तान अजिंक्य रहाणे और हनुमा विहारी की थी। मूडी ने 'ईएसपीएनक्रिकइंफो से कहा, 'मुझे नहीं लगता कि इसमें पुजारा की कोई गलती है, अपने करियर में उसने आमतौर पर इसी तरह का क्रिकेट खेला है और टीम का उनसे अपनी नैसर्गिक शैली के उलट खेल की मांग करना अनुचित होगा।'

ड्वेन ब्रावो का बयान, क्रिकेट में क्रांति ला सकता है टी-10 फॉर्मेट

उन्होंने कहा, 'मैं इसे रहाणे और विहारी पर डालूंगा। विहारी आये और 38 गेंदों में चार रन बनाए। मेरे हिसाब से इन दोनों खिलाड़ियों को स्कोर को बढ़ाते रहने की जरूरत थी, उन्हें पुजारा की इस श्रृंखला में ही नहीं बल्कि अन्य सीरीज में भी भूमिका को समझना चाहिए कि उन्होंने भारत के लिये टेस्ट क्रिकेट खेला है।'