फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटIND vs AUS: ब्रिसबेन में टीम इंडिया के साथ कैदियों जैसा व्यवहार, साफ करने पड़ रहे खुद के टाॅयलेट: रिपोर्ट्स 

IND vs AUS: ब्रिसबेन में टीम इंडिया के साथ कैदियों जैसा व्यवहार, साफ करने पड़ रहे खुद के टाॅयलेट: रिपोर्ट्स 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही बाॅर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच ब्रिसबेन में खेला जाना है। मैच 15 जनवरी से शुरू होगा लेकिन टीम सिडनी टेस्ट मैच के अगले दिन ही टीम ब्रिसबेन पहुंच गई थी।...

IND vs AUS: ब्रिसबेन में टीम इंडिया के साथ कैदियों जैसा व्यवहार, साफ करने पड़ रहे खुद के टाॅयलेट: रिपोर्ट्स 
लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 13 Jan 2021 09:10 AM
ऐप पर पढ़ें

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही बाॅर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच ब्रिसबेन में खेला जाना है। मैच 15 जनवरी से शुरू होगा लेकिन टीम सिडनी टेस्ट मैच के अगले दिन ही टीम ब्रिसबेन पहुंच गई थी। टीम इंडिया के रुकने की व्यवस्था स्टेडियम से चार किलोमीटर दूर एक फाइव स्टार होटल में की गई है। टीम इंडिया के खिलाड़ी जिस होटल में रुके हैं वहां की व्यवस्था को लेकर टीम मैनेंजमेंट काफी परेशान है। और उन्होंने बीसीसीआई को इसकी जानकारी दी है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार खिलाड़ियों को खुद का टाॅयलेट भी साफ करना पड़ रहा है। 

IND vs AUS: क्रीज से छेड़छाड़ मामले पर वसीम जाफर ने लिए स्टीव स्मिथ के मजे, शेयर किया शोले फिल्म का यह डाॅयलाग 

ब्रिसबेन में खेले जाने वाले टेस्ट मैच को लेकर पहले ही बहुत बयानबाजी हुई है। इंग्लैंड के नए कोरोना स्ट्रेन की पुष्टि के बाद क्वींसलैंड हेल्थ डिपार्टमेन्ट की एडवाइजरी पर शहर में लाकडाउन लगा दिया गया है। रिपोर्ट्स के अनुसार खिलाड़ी जिस होटल में रुके हैं वहां कोविड-19 प्रोटोकॉल के नियमों को सख्ती से पालन करवाया जा रहा है। वहां से आ रही खबरों के अनुसार खिलाड़ियों के साथ कैदियों जैसा व्यवहार हो रहा है। खिलाड़ियों को अपना रूम खुद साफ करना है। खाना भी उन्हें उनके फ्लोर पर दिया जा रहा है। साथ ही जिम, स्वीमिंग पूल का प्रयोग खिलाड़ी नहीं कर पाएंगे। वहीं खिलाड़ियों को अपने टाॅयलेट भी साफ करने पड़ रहे हैं। जिस होटल में भारतीय टीम रुकी हुई है वहां अन्य बाहरी व्यक्ति नहीं जा सकते। 

सिडनी टेस्ट में बुरे बर्ताव के लिए हिली ने AUS खिलाड़ियों को लताड़ा

होटल के इतने कड़े नियमों को देखते हुए टीम मैंनेजमेंट ने बीसीसीआई को पूरी स्थिति बताया है। इन्हीं नियमों में छूट की मांग को लेकर बीसीसीआई ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से भी लेटर लिखा था। लेकिन तब क्वींसलैंड हेल्थ डिपार्टमेन्ट ने बड़े तल्ख लहजे में कहा था कि अगर भारतीय टीम आना चाहती है तो उसे यहां के नियमों का पालन करना होगा नहीं तो मत आए। 

भारतीय दर्शक का दावा, सिराज को नहीं दी गई किसी तरह की कोई गाली

चोट से जूझ रही टीम इंडिया के लिए आखिरी टेस्ट मैच आसान नहीं रहने वाला है। टीम के 6-7 प्रमुख खिलाड़ी अब तक चोटिल हो चुके हैं। ऐसे में अगर टीम इंडिया को यह मैच जीतना है तो उसे कुछ अतिरिक्त प्रयास करने होंगे। चार मैचों की सीरीज इस समय 1-1 से बरबार है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें