DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

AUS vs IND: पर्थ टेस्ट मैच के पहले दिन भारत पर भारी रहा आॅस्ट्रेलिया का पलड़ा

पर्थ टेस्ट मैच के पहले दिन का खेल उतार चढ़ाव भरा रहा लेकिन आॅस्ट्रेलिया ने 6 विकेट पर 277 रन का स्कोर बनाकर खुद को सुरक्षित ​स्थिति में पहुंचा दिया है।

Marcus Harris

पर्थ में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन मार्कस हैरिस और आरोन फिंच की सलामी जोड़ी ने आॅस्ट्रेलिया को अच्छी शुरुआत दी। जिसका फायदा उठाते हुए आॅस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ पहले दिन का खेल समाप्त होने तक अपना पलड़ा हल्का भारी रखा। पर्थ टेस्ट मैच के पहले दिन का खेल उतार चढ़ाव भरा रहा लेकिन आॅस्ट्रेलिया ने 6 विकेट पर 277 रन का स्कोर बनाकर खुद को सुरक्षित ​स्थिति में पहुंचा दिया है। भारत के तेज गेंदबाज अपने प्रदर्शन से निश्चित तौर पर संतुष्ट नहीं होंगे क्योंकि दिन भर में वे केवल चार विकेट ही ले पाए। पहले दिन मैच का पलड़ा कभी भारत और कभी आॅस्ट्रेलिया के पक्ष में झुकता रहा। खेल के पहले तीन घंटे आॅस्ट्रेलिया के नाम रहे जिसमें मार्कस हैरिस (70) और आरोन फिंच (50) ने पहले विकेट के लिए 112 रन जोड़े। इसके बाद भारत ने 36 रन के अंदर चार विकेट निकाले जिनमें इन दोनों के अलावा उस्मान ख्वाजा (5) और पीटर हैंड्सकांब (7) के विकेट भी शामिल थे। 

उतार-चढ़ाव से भरा रहा पर्थ टेस्ट मैच का पहला दिन         
ट्रेविस हेड (58) और शान मार्श (45) ने फिर 23 ओवर तक विकेट नहीं गिरने दिया और इस बीच 84 रन जोड़े। ये दोनों 19 रन के अंदर पवेलियन लौट गए लेकिन इसके बाद कप्तान टिम पेन (नाबाद 16) और पैट कमिन्स (नाबाद 11) ने दिन के आखिरी आठ ओवर में कोई विकेट नहीं गिरने दिया। पर्थ के ऑप्टस स्टेडियम की पिच पर घास को लेकर पिछले कुछ दिनों से काफी चर्चाएं हो रही थीं, जिससे लग रहा था कि यह तेज गेंदबाजों को बेहद रास आएगी। यही वजह थी कि भारत चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा लेकिन कामचलाऊ स्पिनर हनुमा विहारी पहले दिन उसके सबसे सफल गेंदबाजों में शामिल रहे। विहारी ने 53 रन देकर दो विकेट लिए। ईशांत शर्मा (35 रन देकर दो) ने भी दो विकेट हासिल किए। जबकि जसप्रीत बुमराह और उमेश यादव को एक-एक विकेट मिला। मोहम्मद शमी पहले सत्र में अच्छी गेंदबाजी करने के बावजूद विकेट लेने में नाकाम रहे।

VIDEO: जब इशांत शर्मा ने अलग-अलग जूते पहनकर रिकी पोंटिंग को किया था परेशान

पर्थ की तेजी का फायदा नहीं उठा सके भारत के तेज गेंदबाज    
आॅस्ट्रेलिया जब टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिए उतरा तो भारतीय गेंदबाज पहले सत्र में परिस्थितयों का फायदा नहीं उठा पाए। इसकी एक वजह यह भी रही कि ईशांत ने नोबाल नहीं करने पर ध्यान दिया जिससे उनका अपनी गेंदों पर नियंत्रण नहीं रहा। बुमराह को शॉर्ट पिच गेंदें करने का फायदा नहीं मिला। शमी ने दूसरे घंटे में जरूर प्रभाव छोड़ा लेकिन फिंच और हैरिस ने लगभग तीन घंटे तक भारतीयों को पहली सफलता से महरूम रखा। लंच के बाद पहले घंटे में भी गेंदबाजों की नहीं चली। इस बीच शमी ने भी रन लुटाए लेकिन दूसरे घंटे के बाद एकदम से कहानी बदल गई। भारत ने जल्दी जल्दी चार विकेट निकालकर मैच में वापसी की। बुमराह और उमेश ने लंच के बाद दूसरे घंटे में कसी हुई गेंदबाजी की जबकि विहारी भी खुद पर दिखाए गए विश्वास पर खरे उतरे।

हैरिस और आरोन फिंच ने आॅस्ट्रेलिया को दी दमदार शुरुआत         
हैरिस ने लंच के बाद 90 गेंदों पर अपने टेस्ट करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया। पहले सत्र में डीआरएस रिव्यू से बचने वाले आरोन फिंच ने भी 103 गेंदों पर अपना दूसरा टेस्ट अर्धशतक पूरा किया, लेकिन इसके बाद बुमराह ने उन्हें फुललेंथ गेंद पर पगबाधा आउट करके भारत को पहली सफलता दिलाई। इसके तुरंत बाद केएल राहुल ने मोहम्मद शमी की गेंद पर हैरिस का कैच छोड़ा। हैरिस उस समय 60 रन पर खेल रहे थे। राहुल दूसरी स्लिप में सही समय पर कैच लेने के लिए नहीं उछले और गेंद उनके हाथ से लगकर सीमा रेखा पार चली गई। भारत को उनकी यह गलती महंगी नहीं पड़ी। विहारी की आश्चर्यजनक रूप से अतिरिक्त उछाल लेती गेंद पर हैरिस ने स्लिप में अजिंक्य रहाणे को कैच थमा दिया। इस बीच उमेश ने लगातार बनाए गए दबाव का लाभ उठाया और उस्मान ख्वाजा (पांच) की संघर्षपूर्ण पारी का अंत किया। हैरिस ने 141 गेंदें खेलकर दस चौके और फिंच ने 105 गेंदों की पारी में छह चौके लगाए।

VIDEO: जब इशांत शर्मा ने अलग-अलग जूते पहनकर रिकी पोंटिंग को किया था परेशान
    
भारतीय टीम ने पर्थ टेस्ट मैच में खिलाए हैं चार तेज गेंदबाज     
ईशांत शर्मा ने चाय के विश्राम के बाद अपनी पहली गेंद पर ही पीटर हैंड्सकांब (सात) को पवेलियन भेज दिया। लेकिन इसके लिए कप्तान विराट कोहली की दाद देनी होगी जिन्होंने एक हाथ से शानदार कैच लेकर टीम को महत्वपूर्ण सफलता दिलाई। शॉन मार्श और ट्रेविस हेड ने इसके बाद बिना किसी हड़बड़ाहट के रन बटोरे और 69वें ओवर में टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। भारत को इनकी साझेदारी तोड़ने का पहला मौका 67वें ओवर में मिला था लेकिन तब हुनमा विहारी की गेंद पर रिषभ पंत मार्श का आसान कैच नहीं ले पाए। बाएं हाथ का यह बल्लेबाज तक 24 रन पर था। शॉन मार्श इसके बाद अपने स्कोर में 21 रन ही जोड़ पाए और उनका विकेट विहारी को ही मिला। मार्श ने उनकी उछाल लेती गेंद कट करना चाहा लेकिन वह बल्ले के ऊपरी हिस्से से लगकर पहली स्लिप में रहाणे के सुरक्षित हाथों में पहुंच गई। हेड भी अपना तीसरा अर्धशतक पूरा करने के बाद ज्यादा देर नहीं टिक पाए। ईशांत शर्मा ने उनका विकेट झटका। आॅस्ट्रेलिया ने अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया लेकिन भारत चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा। रोहित शर्मा और आर अश्विन की जगह विहारी और उमेश को अंतिम एकादश में रखा गया। भारत एडीलेड में पहला टेस्ट मैच 31 रन से जीतकर चार मैचों की श्रृंखला में 1-0 से आगे चल रहा है।

सभी खेलों से जुड़े समाचार पढ़ें सबसे पहले Live Hindustan पर। अपने मोबाइल पर Live Hindustan पढ़ने के लिए डाउनलोड करें हमारा न्यूज एप। और देश-दुनिया की हर खबर से रहें अपडेट।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:India vs Australia Second Test Match at Perth Day One Stumps Australia took slim advantage over India in first Day Play of Perth Test Match