फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटIND vs AUS: सिडनी में मोहम्मद सिराज के काम से खुश हुए ऑफ स्पिनर नाथन लायन, कहा-इससे अब ट्रेंड बनेगा

IND vs AUS: सिडनी में मोहम्मद सिराज के काम से खुश हुए ऑफ स्पिनर नाथन लायन, कहा-इससे अब ट्रेंड बनेगा

ऑस्ट्रेलिया के स्टार ऑफ स्पिनर नाथन लायन ने बुधवार को कहा कि दर्शकों के खराब बर्ताव की निंदा करके भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने नए मानदंड कायम किए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि क्रिकेट का खेल सभी...

IND vs AUS: सिडनी में मोहम्मद सिराज के काम से खुश हुए ऑफ स्पिनर नाथन लायन, कहा-इससे अब ट्रेंड बनेगा
एजेंसी,नई दिल्लीWed, 13 Jan 2021 05:55 PM
ऐप पर पढ़ें

ऑस्ट्रेलिया के स्टार ऑफ स्पिनर नाथन लायन ने बुधवार को कहा कि दर्शकों के खराब बर्ताव की निंदा करके भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने नए मानदंड कायम किए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि क्रिकेट का खेल सभी के लिए है और इसमें किसी तरह के नस्लवाद की जगह नहीं है। सिडनी क्रिकेट मैदान पर सिराज और जसप्रीत बुमराह को चौथे और पांचवें दिन दर्शकों की नस्लीय टिप्पणियों का सामना करना पड़ा। इसके बाद भारतीय टीम ने आईसीसी के पास शिकायत दर्ज कराई।

BJP सांसद बाबुल सुप्रियो ने निकाली बैटिंग में कमी, हनुमा विहारी ने दो शब्दों से कर दी बोलती बंद

लायन ने एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि खेल में किसी तरह की नस्लीय छींटाकशी की गुंजाइश नहीं है। लोगों को लगता है कि वे मजाक कर रहे हैं, लेकिन इससे लोगों पर अलग तरह से प्रभाव पड़ सकता है। क्रिकेट का खेल सभी के लिए है और इसमें नस्लवाद की कोई जगह नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि आपको लगता है कि मैच अधिकारियों से शिकायत करने की जरूरत है तो करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आजकल मैदान पर इतने सिक्योरिटी गार्ड्स होते हैं कि नस्लीय टिप्पणी करने वालों को तुरंत निकालकर बाहर किया जा सकता है। इससे मैच अधिकारियों से शिकायत का चलन भी बनेगा।

चोटिल खिलाड़ियों से परेशान हैं कंगारू कोच, इस लीग को माना जिम्मेदार

इस मैच में सिराज को स्क्वायर लेग बाउंड्री पर दर्शकों ने 'मंकी' और 'ब्राउन डॉग' कहा। बाद में सिक्योरिटी गार्ड्स ने इन दर्शकों को मैदान से बाहर कर दिया। लायन ने कहा कि इससे घटना की शिकायत का चलन कायम होगा। यह खिलाड़ी पर निर्भर करता है कि वह शिकायत करना चाहता है या नहीं। मैं उम्मीद करता हूं कि आइंदा लोग इससे उबरकर सिर्फ क्रिकेट देखने आएंगे और खिलाड़ियों को नस्लीय दुव्यर्वहार की चिंता नहीं करनी होगी।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें