DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   क्रिकेट  ›  WTC फाइनल IND vs NZ: सचिन तेंदुलकर ने मोहम्मद सिराज या ईशांत शर्मा को चुनने को लेकर कहा कुछ ऐसा
क्रिकेट

WTC फाइनल IND vs NZ: सचिन तेंदुलकर ने मोहम्मद सिराज या ईशांत शर्मा को चुनने को लेकर कहा कुछ ऐसा

एएनआई,नई दिल्लीPublished By: Namita Shukla
Thu, 17 Jun 2021 05:45 PM
WTC फाइनल IND vs NZ: सचिन तेंदुलकर ने मोहम्मद सिराज या ईशांत शर्मा को चुनने को लेकर कहा कुछ ऐसा

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) के फाइनल में टीम इंडिया का प्लेइंग XI कैसा होना चाहिए, इसको लेकर अपनी राय रखी है। तेंदुलकर ने इस दौरान टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की जमकर तारीफ भी की और साथ ही बताया कि ईशांत शर्मा या मोहम्मद सिराज में से किसे प्लेइंग इलेवन में शामिल करना चाहिए। बुमराह की गेंदों का कैसे सामना करना चाहिए, तेंदुलकर ने इसको लेकर भी कुछ टिप्स दिए हैं। 

एएनआई से बातचीत के दौरान तेंदुलकर ने कहा, 'मुझसे कहा गया था कि जब गेंदबाज अच्छी गेंदबाजी करे तो नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े रहना चाहिए (हंसते हुए), बुमराह वर्ल्ड क्लास गेंदबाज हैं, उनका बॉलिंग एक्शन थोड़ा अजीब है। मैंने नेट्स में उनकी गेंद का सामना किया है। आप जितना सोचते हैं, वह उससे ज्यादा तेजी से गेंद फेंकते हैं। उनकी गेंद बल्ले से बहुत तेजी से टकराती है, आपको सोचने का ज्यादा समय नहीं मिलता।'

शुरुआती कुछ समय काफी अहम होगा

तेंदुलकर ने आगे कहा, 'मैं किसी भी बल्लेबाज को सलाह दूंगा कि जब वह बड़ा शॉट खेलें, तो इसका ध्यान रखें कि आपकी नजरें टिकी रहीं, क्योंकि यह उस बल्लेबाज की मजबूती होती है, जब तक बल्लेबाज गेंद पर नजर जमाता है, बुमराह ऐसी गेंद फेंकते हैं, जो आपको आउट कर देती है। शुरुआती कुछ समय काफी अहम होगा। अगर आप उस समय में बच जाते हैं और उनके बॉलिंग एक्शन को समझ लेते हैं, तो आपके लिए चीजें धीरे-धीरे बदल जाती हैं।'

टीम मैनेजमेंट का काम है फैसला लेना

प्लेइंग इलेवन में ईशांत शर्मा या मोहम्मद सिराज में किसे शामिल करना चाहिए, इसको लेकर तेंदुलकर ने कहा, 'टीम में सीनियर और युवा खिलाड़ियों को मिश्रण होना चाहिए। मैं किसी का नाम नहीं लूंगा, लेकिन मुझे लगता है कि बैटिंग और बॉलिंग में दोनों में बैलेंस होना चाहिए। ईशांत लंबे समय से क्रिकेट खेल रहे हैं, इंग्लैंड की कंडीशन्स को वह सबसे ज्यादा अच्छी तरह समझते हैं। ईशांत अहम रोल निभा सकते हैं, लेकिन मैं यह टीम मैनेजमेंट पर छोड़ूंगा क्योंकि उन्हें पता है कि कौन सा गेंदबाज नेट्स में अच्छी गेंदबाजी कर रहा है। इंट्रा स्क्वायड मैच के बाद बल्लेबाजों ने भी फीडबैक दिया होगा कि किसकी गेंद को हिट करना मुश्किल था और कौन सा गेंदबाज अच्छी लय में था।'
 

संबंधित खबरें