फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ क्रिकेटIND vs SA: विराट कोहली ने फॉर्म को लेकर हो रही आलोचना पर दिया करारा जवाब, कहा- मुझे नहीं लगता कि साबित करने के लिए कुछ है

IND vs SA: विराट कोहली ने फॉर्म को लेकर हो रही आलोचना पर दिया करारा जवाब, कहा- मुझे नहीं लगता कि साबित करने के लिए कुछ है

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच मंगलवार से केप टाउन के न्यूलैंड्स मैदान में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा और निर्णायक मुकाबला खेला जाएगा। टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने सोमवार को कहा कि वह अपने फॉर्म...

IND vs SA: विराट कोहली ने फॉर्म को लेकर हो रही आलोचना पर दिया करारा जवाब, कहा- मुझे नहीं लगता कि साबित करने के लिए कुछ है
Himanshu Singhलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 10 Jan 2022 05:20 PM

इस खबर को सुनें

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच मंगलवार से केप टाउन के न्यूलैंड्स मैदान में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा और निर्णायक मुकाबला खेला जाएगा। टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने सोमवार को कहा कि वह अपने फॉर्म को लेकर चल रही बहस पर ज्यादा ध्यान नहीं दे रहे हैं। कोहली ने कहा कि वह अपने काम को सही तरीके से करने और अपने बेसिक पर टिके रहने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज 1-1 से बराबरी पर है। टीम इंडिया ने सेंचुरियन में खेले गए पहले टेस्ट को जीतकर सीरीज में बढ़त बना ली थी। लेकिन दूसरे टेस्ट में उसे मेजबान टीम के हाथों 7 विकेट से शिकस्त का सामना करना पड़ा था। कप्तान विराट कोहली ने पहले टेस्ट मैच में 35, 18 रन की पारी खेली थी। जबकि जोहानिसबर्ग टेस्ट में पीठ में जकड़न की वजह से नहीं खेल सके थे।

 

 

 

विराट कोहली टीम के लिए लगातार समय से रन बना रहे हैं। लेकिन मौजूदा टीम में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले विराट कोहली पिछले दो साल से एक भी शतक नहीं लगा सके हैं, जिसके कारण उन पर सवाल उठ रहे हैं। उनका पिछला शतक डे-नाइट टेस्ट में 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ आया था। इस मैच में विराट कोहली ने 136 रन की पारी खेलते हुए अपना 27वां टेस्ट शतक पूरा किया था और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उनका ये 70वां शतक था।  

विराट कोहली ने तीसरे टेस्ट मैच से पहले वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ''यह पहली बार नहीं है कि लोग मेरी फॉर्म को लेकर बात कर रहे हैं। मेरे करियर में ये कई बार हो चुका है। 2014 में इंग्लैंड दौरा उनमें से एक है। मैं आपने आपको उस नजरिए से नहीं देखता, जिस तरह बाहर की दुनिया मुझे देखती है। स्टैंडर्ड मेरे द्वारा तय किए हैं। मुझे सबसे ज्यादा गर्व अपनी टीम के लिए बेस्ट करने पर होता है और मैं निरंतर टीम के लिए प्रदर्शन करने चाहता हूं।''

कोहली ने कहा, "अगर आप हर समय खुद को देखते हैं और नंबर के आधार पर खुद को आंकते हैं, तो मुझे नहीं लगता कि आप जो कर रहे हैं उससे आप कभी संतुष्ट होंगे। मैं जिस प्रक्रिया को फॉलो कर रहा हूं उस पर मुझे गर्व है और मैं शांति से हूं मैं कैसे खेल रहा हूं और मैं टीम के लिए क्या कर पाया हूं जब एक मुश्किल स्थिति थी। मुझे चिंता करने के लिए और कुछ नहीं है लेकिन स्थिति की वास्तविकता यह है कि आप पक्ष पर प्रभाव डालना चाहते हैं। मुझे नहीं लगता कि मेरे पास किसी को साबित करने के लिए कुछ है।"

 

 

epaper