फोटो गैलरी

Hindi News क्रिकेटयशस्वी जायसवाल ने टेस्ट में ठोकी पहली डबल सेंचुरी, लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी, ये कमाल करने वाले तीसरे भारतीय

यशस्वी जायसवाल ने टेस्ट में ठोकी पहली डबल सेंचुरी, लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी, ये कमाल करने वाले तीसरे भारतीय

Yashasvi Jaiswal Double Century Records: ओपनर यशस्वी जायसवाल ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में डबल सेंचुरी जड़ दी। यह उनका पहला दोहरा शतक है। यशस्वी ने रिकॉर्ड्स की झड़ी लगा दी है।

यशस्वी जायसवाल ने टेस्ट में ठोकी पहली डबल सेंचुरी, लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी, ये कमाल करने वाले तीसरे भारतीय
Md.akram लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 03 Feb 2024 10:58 AM
ऐप पर पढ़ें

भारत के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल ने अपने टेस्ट करियर की पहली डबल सेंचुरी ठोक दी है। उन्होंने शनिवार को इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन यह कारनामा अंजाम दिया। उन्होंने 290 गेंदों में 19 चौकों और 7 छक्कों के दम पर 209 रन की पारी खेली। उन्होंने मुकाबले के पहले दिन 179 रन जोड़े थे। यशस्वी ने शोएब बशीर द्वारा डाले गए 102वें ओवर की पहली गेंद पर सिक्स और दूसरी गेंद पर चौका लगाकर अपना दोहरा शतक पूरा किया। यशस्वी ने डबल सेंचुरी जड़कर रिकॉर्ड्स की झड़ी लगा दी है। चलिए, आपको उनके कुछ अहम रिकॉर्ड के बारे में बताते हैं।

यशस्वी टेस्ट में दोहरा शतक जड़ने वाले तीसरे सबसे युवा भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। उन्होंने 22 साल 37 की उम्र में ऐसा किया। लिस्ट में टॉप पर पूर्व क्रिकेटर विनोद कांबली (21 साल 35 दिन) हैं। उन्होंने 1993 में इंग्लैंड के सामने 224 रन की पारी खेली थी। उन्होंने 1993 में ही जिम्बाब्वे के विरुद्ध 227 रन बनाए। उनकी उम्र तब 21 साल 55 दिन थी। कांबली के बाद पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर (21 साल 283 दिन) हैं, जिन्होंने 1971 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 220 रन जुटाए। यशस्वी टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले चौथे बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं।

टेस्ट में दोहरा शतक जड़ने वाले भारत के बाएं हाथ के बल्लेबाज

239 सौरव गांगुली बनाम पाक बेंगलुरु 2007
227 विनोद कांबली बनाम ज़िम दिल्ली 1993
224 विनोद कांबली बनाम इंग्लैंड मुंबई 1993
206 गौतम गंभीर बनाम ऑस्ट्रेलिया दिल्ली 2006
209 यशस्वी जयसवाल बनाम इंग्लैंड विशाखापट्टनम 2024

यशस्वी ने जुलाई 2023 में टेस्ट डेब्यू किया। वह टेस्ट में सबसे कम पारियों में पहला दोहरा शतक लगने वाले भारतीय खिलाड़ियों की फेहरिस्त में छठे स्थान पर पहुंच गए हैं। उन्होंने 10 पारियों में ऐसा किया। करुण नायर इस फेहरिस्त में शीर्ष पर हैं, जिन्होंने ने महज तीन पारियों में डबल सेंचुरी बना दी थी। उनके बाद विनोद कांबली (4), सुनील गावस्कर (8), मयंक अग्रवाल (8) और चेतेश्वर पुजारा का नंबर है। वहीं, यशस्वी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) में दोहरा शतक मारने वाले पांचवें भारतीय हैं। 

डब्ल्यूटीसी में भारत के लिए दोहरा शतक

215 - मयंक अग्रवाल बनाम साउथ अफ्रीका, विशाखापट्टनम
254* - विराट कोहली बनाम साउथ अफ्रीका, पुणे
212 - रोहित शर्मा बनाम साउथ अफ्रीका, रांची
243 - मयंक अग्रवाल बनाम बांग्लादेश, इंदौर
202* - यशस्वी जयसवाल बनाम इंग्लैंड, विशाखापट्टनम

22 साल की उम्र में भारत के लिए हाईएस्ट टेस्ट स्कोर

227 - विनोद कांबली
224 - विनोद कांबली
220 - सुनील गावस्कर
209 - यशस्वी जयसवाल
179 - सचिन तेंदुलकर
171 - यशस्वी जयसवाल

दूसरे टेस्ट की बात करें तो भारत ने टॉस जीतकर बैटिंग चुनी। भारत की पहली पारी 112 ओवर में 396 रन पर सिमटी। कप्तान रोहित शर्मा (14) का बल्ला नहीं चला। शुमन गिल (34), डेब्यूटेंट रजीत पाटीदार (32), श्रेयस अय्यर (27) और अक्षर पटेल ने टिककर बैटिंग लेकिन बड़ी पारी नहीं खेल सके। केएस भरत 17 और आर अश्विन 20 रन ही जोड़ सके। यशस्वी 107वें ओवर में जेम्स एंडरसन का शिकार बने। उन्होंने जॉनी बेयरस्टो को कैच थमाया। इंग्लैंड के लिए एंडरसन, बशीर और रेहान अहमद ने तीन-तीन विकेट चटकाए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें